Tuesday, August 3, 2021

उद्योगपतियों ने डीएम को दिया बुके और बिजली अधिकारियों को चेतावनी


मुजफ्फरनगर । उद्योगपतियों ने डीएम चंद्र भूषण सिंह से मुलाकात कर उन्हें समस्याएं बताई और बाद में बिजली की समस्या को लेकर वे बिजली अधिकारी से मिले और समस्याओं का समाधान नहीं होने पर अपने उद्योगों कि चाबियां विद्युत विभाग के अधिकारी को सौंप कर बिजली बिलों का भुगतान ना करने की चेतावनी दी। 

डीएम कार्यालय पर आज आईआईए के चैप्टर चेयरमैन विपुल भटनागर के नेतृत्व में आईआईए के पदाधिकारी व कार्यकारिणी सदस्यों का एक प्रतिनिधिमंडल नवागत जिलाधिकारी चंद्र भूषण से मिला व जिलाधिकारी का बुके देकर स्वागत किया। चैप्टर चेयरमैन विपुल भटनागर ने  जिलाधिकारी का स्वागत करते हुए कहा कि उद्योगों को प्रगति के लिए सिर्फ अनुकूल कानून व्यवस्था व मजबूत इंफ्रास्ट्रक्चर की आवश्यकता होती है। ज़िले के उद्योगों के लिए कानून व्यवस्था का अनुकूल माहौल है परंतु विद्युत विभाग की समस्या रोज रोज बढ़ती जा रही है जिस कारण उद्योगों को लाखों रुपए रोज का नुकसान हो रहा है।

जिलाधिकारी ने सभी का अभिनंदन स्वीकार करते हुए कहा कि जल्द ही उद्योगों की समस्या पर आपस में बैठकर विचार विमर्श करेंगे।जिलाधिकारी के स्वागत के बाद यह प्रतिनिधिमंडल पश्चिमांचल विद्युत वितरण खंड के अधीक्षण अभियंता ग्रामीण व शहरी से मिलने उनके लक्ष्मण विहार स्थित कार्यालय पर पहुंचा वहाँ केंद्रीय कार्यकारिणी सदस्य नीरज केडिया ने कहा कि उद्योग इस समय बिजली की लगातार हो रही ट्रिपिंग व दिन में कई बार शट डाउन की वजह से बहुत परेशान हैं व उन्होंने बेगराजपुर की गत माह की ट्रिपिंग का डाटा भी दिखाया।आईआईए राष्ट्रीय विद्युत समिति के अध्यक्ष अश्विनी खंडेलवाल ने कहा कि बिजली का इंफ्रास्ट्रक्चर जर्जर अवस्था में है व पावर स्टेशन में विद्युत उपकरण भी खराब पड़े हैं जिनको बदला जाना बहुत आवश्यक है।अमित जैन ने कहा कि एक ही फीडर पर कई कई लाइन जोड़ने की वजह से कही की भी लाइन ख़राब होने या एक भी लाइन में फाल्ट आने पर सारी लाइने बंद करनी पड़ती है। राजेश गोयल ने बताया कि वहलना फीडर की स्थिति बहुत ही खराब है फैक्ट्री चलाना दूभर हो रहा है।


अधीक्षण अभियंता ग्रामीण मुकेश कुमार ने कहा कि मैंने सारे बिंदु नोट कर लिए हैं मैं इनका शीघ्र अति शीघ्र समाधान कराने का प्रयास करूंगा। अधीक्षण अभियंता शहरी ने कहा कि अंडर ग्राउंड केबल बिछाने का प्रस्ताव केंद्रीयमंत्री व सांसद डॉक्टर संजीव बालियान व राज्यमंत्री कपिलदेव अग्रवाल के माध्यम से गया हुआ है। अंडर ग्राउंड का कार्य होने के बाद बिजली में अभूतपूर्व सुधार होगा। अंत में चैप्टर चेयरमैन विपुल भटनागर  ने कहा कि जिले का उद्योग विद्युत व्यवस्था से अत्यधिक पीड़ित हैं। जिस कारण आज हम सभी उद्यमी अपने अपने उद्योगों की चाबी सांकेतिक रूप से आपको सौंपने आए हैं यदि व्यवस्था नहीं सुधरती है तो अगले हफ्ते सारे उद्योगों को बंद करके उनकी चाबी आपको सौंप देंगे व कोई बिजली का बिल भी नहीं देंगे। उन्होंने कहा कि शनिवार में आप वहलना फीडर का हमारे साथ संयुक्त स्थलीय निरीक्षण करें व सोमवार को बेगराजपुर फीडर का का भी निरीक्षण करें ताकि आप भी वास्तविक समस्या से रूबरू हो सकें। यदि 10 दिन में सुधार नहीं होता है तो उद्योग बड़ा आंदोलन करने के लिए मजबूर हो जाएगा । बैठक में पवन गोयल वरिष्ठ उपाध्यक्ष, अरविंद मित्तल उपाध्यक्ष, मनीष भाटिया सचिव, अनुज स्वरूप बंसल कोषाध्यक्ष, अमित जैन सेक्रेटरी, तुषार जैन, जगमोहन गोयल, कपिल मित्तल, राज शाह, अनमोल गोयल, राजेश गोयल, अरविंद सिंघल आदि अनेकों उद्यमी मौजूद रहे।

No comments:

Featured Post

कपिलदेव अग्रवाल व उमेश मलिक ने किया सडक सुरक्षा सप्ताह का उद्घाटन

मुज़फ्फरनगर। आज एआरटीओ कार्यालय पर एआरटीओ विनीत मिश्रा के निर्देशन में सड़क सुरक्षा सप्ताह का आयोजन किया गया है जिसमें उन्होंने सड़क सुरक्षा के...