भाजपा प्रेम के चलते सपा जिला पंचायत अध्यक्ष प्रत्याशी पार्टी से निष्कासित


लखनऊ। जिला पंचायत अध्यक्ष पद के चुनाव में समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी के भाजपा प्रेम के कारण राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में उन्नाव की जिला पंचायत अध्यक्ष प्रत्याशी मालती रावत पार्टी से बाहर कर दिया है।

प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम के निर्देश पर सपा के जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र यादव ने मालती को पार्टी से बाहर करने संबंधी पत्र जारी किया। सूत्रों के अनुसार मालती रावत पर नाम वापसी के दिन भाजपा प्रदेश कार्यालय में रहने के कारण यह कार्रवाई की गई। उम्‍मीदवार को पार्टी निकालने  के बाद सपा ने जिला पंचायत अध्‍यक्ष चुनाव के बहिष्कार का भी निर्णय लिया है। गौरतलब है कि 51 सीटों वाली जिला पंचायत में सपा के समर्थन से सर्वाधिक 18 सदस्‍य जीते हैं। अब ये सदस्‍य पार्टी का फैसला आने के बाद अपने मत के बारे में निर्णय लेंगे। 

दूसरी ओर मालतीं ने कहा कि अब वह निर्दलीय उम्‍मीदवार हैं। मालती रावत कहा कि उन्‍हें इस कार्यवाही की जानकारी मिली है। उन्‍होंने कहा कि इसके बावजूद चुनाव को मैं पूरी सक्रियता से साथ लड़ूंगी। पार्टी से अब कोई लेना-देना नहीं लेकिन मैं निर्दलीय प्रत्‍याशी के रूप में चुनाव लड़ रही हूं। इस सीट पर भाजपा से घोषित प्रत्याशी पूर्व एमएलसी स्व. अजीत सिंह की पत्नी शकुन सिंह हैं। उनके खिलाफ बगावत कर मैदान में उतरे प्रदेश सरकार में राज्यमंत्री रणवेंद्र प्रताप सिंह के दामाद अरुण सिंह भी चुनाव लड़ रहे हैं।

Comments

Popular posts from this blog

नहीं रही जिले की मशहूर ब्यूटीशियन साजिया परवीन

देश में फिर बन रहे हैं लाकडाउन के हालात

होटल में रईस जादों की मस्ती पार्टी पर पुलिस के छापे में 37 युवक युवतियों को दबोचा