Sunday, June 6, 2021

आधी रात थाने के बाहर धरने पर बैठे राकेश टिकैत

 


फतेहाबाद। बीती रात भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत, गुरनाम सिंह चढूनी और संयुक्त किसान मोर्चा नेता योगेंद्र यादव के नेतृत्व में बड़ी संख्या में किसान अपने साथी किसानों की रिहाई की मांग को लेकर टोहाना सदर पुलिस थाना के सामने धरने पर बैठ गए। 

इस दौरान उन्होंने स्थानीय जजपा विधायक देवेंद्र बबली पर कथित रूप से दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ भी प्राथमिकी दर्ज करने की मांग की। हालांकि, बाद में बबली ने किसानों के खिलाफ 'अनुचित' शब्द कहने के लिए खेद प्रकट किया। बबली ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो क्लिप पोस्ट करके कहा कि वह उन लोगों को उन कृत्यों के लिए माफ करते हैं जिन्होंने एक जून को उनके साथ किया। उन्होंने कहा, 'मैंने कुछ शब्द कहे जो उचित नहीं थे। मैं जनप्रतिनिधि हूं, अत: मैं उन सभी शब्दों को वापस लेता हूं और उनके लिए खेद प्रकट करता हूं।' इससे पहले किसान नेता राकेश टिकैत और गुरनाम सिंह चढूनी अपने समर्थकों के साथ फतेहाबाद जिले के टोहाना सदर पुलिस थाने पहुंचे और अपने दो साथी किसानों को रिहा करने की मांग की जिन्हें बबली के आवास का घेराव करने के मामले में गिरफ्तार किया गया था। टिकैत और चढूनी अन्य प्रदर्शनकारी किसानों के साथ सबसे पहले यहां की अनाज मंडी में एकत्र हुए और वहां से गिरफ्तारी देने के लिए पुलिस थाने तक मार्च किया। इसे लेकर हंगामा हुआ और भारी पुलिस बल तैनात किया गया।

No comments:

Featured Post

कोतवाल को नौकरी खाने की धमकी देने का पूर्व प्रधान का आडियो वायरल होने से हडकंप

  मुजफ्फरनगर। तेजतर्रार एसएसपी के जिले में एक पूर्व प्रधान द्वारा कोतवाल को खुलेआम फोन पर धमकी दिए जाने के बाद प्रधान पर शिकंजा कसने की तैया...