डा संजीव बालियान और नरेश टिकैत ने कुटबी विवाद निपटवाया


मुजफ्फरनगर । शाहपुर के गांव कुटबी गांव में  चुनाव में दो प्रत्याशियो के समर्थकों के आमने सामने आ जाने से मामले ने तूल पकड़ लिया। मंगलवार की सुबह दोनों पक्षों के बीच जमकर मारपीट हो पड़ी। बाद में केंद्रीय राज्य मंत्री डा संजीव बालियान और भाकियू अध्यक्ष नरेश टिकैत के हस्तक्षेप से मामले का समाधान हुआ। 

आज सुबह केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान का पैतृक गांव होने के कारण मारपीट की सूचना पर शाहपुर पुलिस में हड़कंप मच गया। देखते देखते गांव और भारी संख्या में गांव में पुलिस फोर्स तैनात हो गई। जिसके चलते दोनों पक्षों के लोगों की अलग अलग स्थानों पर बैठकों का दौर चल पड़ा। कोरोना संक्रमण के कारण पिछले दस दिनों से भी अधिक समय से दिल्ली में क्वारंटाइन पर रहे केंद्रीय राज्यमंत्री डा. संजीव बालियान भी गांव में मारपीट की सूचना पर कुटबी पहुंच गए। दूसरे पक्ष के लोगों ने भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत को बुला लिया। पहले तो दोनों पक्षों की अलग अलग घंटों पंचायत चलती रही और दोनों पक्षों में समझौता कराया। बाद में गांव में मंदिर के निकट भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत एवं केंद्रीय मंत्री डॉ संजीव बालियान एक संयुक्त पंचायत में शामिल हो गए और केंद्रीय मंत्री ने अपने पक्ष के लोगो की और से खुद खेद जताते हुए गांव में सभी को प्यार के साथ रहने का अनुरोध किया। चौधरी नरेश टिकैत ने भी गांव के भाईचारे को बनाकर आपस में सोहार्द्र से रहने की अपील की।

शाहपुर थाना क्षेत्र के गांव कुटबी में दो प्रधानी पद के दावेदार थे। जिसमें केंद्रीय मंत्री डॉ संजीव बालियान के तहेरे भाई जितेंद्र बालियान, तथा दूसरे दावेदार कृष्ण चौधरी थे। वहीं जितेंद्र के भाई सतेंद्र बालियान जिला पंचायत के वार्ड नंबर 18 से निर्दलीय चुनाव लड़े। गत दिवस ग्राम प्रधान प्रत्याशी जितेंद्र वह कृष्ण चौधरी के बीच कहासुनी हो गई थी। जिसके बाद भारी पुलिस बल पहुंच गया था और पुलिस ने छावनी बनाकर अपने सामने एक एक वोट डलवाकर किसी तरह मामला शांत कर दिया था। मामले ने उस समय तूल पकड़ लिया जिस समय मंगलवार को प्रत्याशी कृष्ण पक्ष के लोगो के ऊपर टिप्पणी करने के साथ साथ उनके साथ मारपीट हो पड़ी। और मकान में चढ़ाई कर दी। घटना की सूचना पर पुलिस के हाथ पांव फूल गए और भारी संख्या में पुलिस फोर्स गांव में पहुंची। उधर कृष्ण पक्ष का आरोप है कि दूसरे प्रत्याशी जितेंद्र पक्ष के लोगों द्वारा दहशत का माहौल पैदा किया गया है। जिसके चलते गांव में दो गुट हो गए और घटना के संबंध में कृष्ण पक्ष के लोगो ने मंदिर पंचायत घर पर पंचायत बुलाई। पंचायत के बीच पहुचे भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने पीड़ित पक्ष की बात सुनी।

उधर केंद्रीय मंत्री मंदिर की पंचायत में न पहुचते हुए अपने पक्ष के लोगों के बीच पहुचे और विचार विमर्श करते हुए घटना पर दुख प्रकट करते हुए कहा कि दोनों पक्ष मेरे अपने भाई है। गांव के हैं और परिवार की तरह हैं। वह स्वयं ही दोनों की ओर से गलती मान लेंगे। अपने समर्थक लोगों को समझाने के बाद डा. संजीव बालियान गांव के मंदिर में चल रही पंचायत में पहुचे, इस दौरान उन्होंने कहा कि वह और कृष्ण बचपन के दोस्त है, सभी गांव के लोग उनके अपने भाई है। गलती चाहे किसी पक्ष की हो वह दोनों और से माफी मांगते हैं। इस मामले को यहीं समाप्त कर सभी आपसी भाईचारे से रहे। चुनाव हो चुका जो परिणाम हो वह सब स्वीकार करें। उधर भाकियू अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैट ने कहा कि दोनों और अपना ही परिवार है, हम सामाजिक कार्य कर रहे हैं। हम सभी को भाईचारे के साथ अपना जीवन गुजारना चाहिए, उन्होंने कहा कि कृष्ण पक्ष भी अपनी हुई गलती को महसूस कर रहा है। आगे से कोई विवाद नहीं होगा।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा