Tuesday, March 30, 2021

सियासी बयानबाजी पर ट्रोल हुए राकेश टिकैत

 


नई दिल्ली। कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे आंदोलन के बीच राकेश टिकैत अपनी राजनीतिक बयानबाजी को लेकर ट्रोल हो रहे हैं। राकेश टिकैत ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट किया जिसमें वह मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए बंगाल और असम के मतदाताओं से कहते हैं कि ‘नक्कालों से सावधान बंगाल, असम के सम्मानित मतदाताओं जुमलों व झूठ के सपने बेचने वालों को वोट न दें। राकेश टिकैत ने अपने एक अन्य पोस्ट में कहा कि गुजरात में किसान को अपनी बात कहने तक पर भी पाबंदी है। वहां किसानों को एकजुट करने का वक्त आ गया, संघर्ष और तेज करेंगे। राकेश टिकैत के इन पोस्ट्स पर लोगों के भी रिएक्शन सामने आने लगे।

एक यूजर ने राकेश टिकैत के पोस्ट पर कमेंट कर लिखा है कि तो क्या असम को भारत से काटने वालों को वोट देना है? अपने स्वार्थ कि खातिर देश के गद्दार को समर्थन करते शर्म नहीं आती है? आदित्य कुमार नाम के यूजर ने लिखा है कि देश के सम्मानित किसानों, इस झूठे किसान के बहकावे से बाहर निकलो। ये यहां सिर्फ राजनीति कर रहा है, इसको आप की समस्याओं से कोई मतलब नहीं है। अगर मतलब होता तो ये बातचीत करता। किसी भी बात पर अड़ जाने से बात वहीं रुक जाती है, जो इसने किया है। सरकार के ना सुनने पर क्या सरकार से युद्ध करोगे?

No comments:

Featured Post

वार्ड 41 की जिला पंचायत सदस्य का प्रमाणपत्र मिला फर्जी

 मुज़फ्फरनगर। 41 नम्बर जिला पंचायत सदस्य जरीन का जाति प्रमाणपत्र फ़र्ज़ी पाया गया है। एसडीएम सदर ने इसे निरस्त करने की संस्तुति की है।