Saturday, March 6, 2021

उमेश मलिक के दांव से कौन हुआ चित्त


 लखनऊ। किसान आंदोलन को लेकर बनी गरमाहट और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बन रहे हालातों के बीच भाजपा किसानों को मनाने के लिए भरसक प्रयासों में जुटी है। इसके लिए भाजपा किसान संवाद कार्यक्रम आयोजित कर गांव गांव जा रही है तो वहीं पश्चिमी उत्तर प्रदेश में किसानों बिरादरी में एक प्रभावी पकड़ रखने वाले जाट समाज के खाप चौधरियों को भी कृषि कानूनों का लाभकारी पक्ष दिखाते हुए मनाने का प्रयास हो रहा है। इसी कड़ी में आज मुजफ्फरनगर के भाजपा विधायक उमेश मलिक के खाप चौधरियों के साथ यहां मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिले।

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जनपद के गांव सौरम में पिछले दिनों भाजपा के कथित कार्यकर्ताओं द्वारा केन्द्रीय राज्य मंत्री डा. संजीव बालियान का विरोध होने पर किसानों की पिटाई कर दिये जाने का मामला राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियों में रहा।सौरम जाट समाज की खाप पंचायतों का केन्द्रीय संगठन का मुख्यालय है। यहां पर भाजपा डेमेज कंट्रोल में जुटी है। यह गांव बुढ़ाना विधानसभा क्षेत्र का हिस्सा है। यहां से भाजपा के उमेश मलिक विधायक है।

उमेश मलिक ने जाट समाज की खापों के चौधरियों के साथ सीएम आवास पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ मुलाकात की। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी ने किसान खाप पंचायत के प्रतिनिधियों से किसान आंदोलन और तीनों कृषि बिलों के साथ ही उत्तर प्रदेश में सरकार द्वारा किसान कल्याण के लिए किये गये ऐतिहासिक कार्यों पर चर्चा की। विधायक उमेश मलिक के नेतृत्व में आए खाप चौधरियों ने भी किसानों की पीड़ा और समस्याओं को मुख्यमंत्री के समक्ष रखा।

बता दें कि उमेश मलिक जाटों की गठवाला खाप से आते हैं। जाट समाज में गठवाला खाप को सबसे बड़ा माना जाता है। वह पूर्व में गठवाला खाप के प्रवक्ता भी रहे हैं और गठवाला खाप के मुखिया बाबा हरिकिशन सिंह मलिक के साथ मिलकर कई सामाजिक आंदोलन भी किये।

No comments:

Featured Post

ग्राहकों को मिलेगी अब हाल मार्क मानक के अनुसार ज्वैलरी

मुजफ्फरनगर। ज्वेलरी को हॉल मार्क में शामिल करने के लिए वर्षों से सरकार से की जा रही अपील पर सर्राफा बाजार एसोसिएशन द्वारा ज्वेलरी की शुद्धता...