मां और बेटे ने अपना खून देकर महिला की जान बचाई



मुजफ्फरनगर । मां बेटे ने रक्त देकर एक महिला की जान बचाई। 

 आमतौर पर मां बच्चे का रक्त बहता नहीं देख सकती बच्चे के रक्त की कुछ बूंदें ही मां को विचलित कर सकती हैं परंतु कुछ माँ ऐसी भी हैं जो स्वयं रक्तदान करके लोगों की जान बचाती हैं व आप अपने बच्चों को प्रेरित करके उनका भी रक्तदान करवा रही है मुजफ्फरनगर के एक निजी अस्पताल में भर्ती महिला के लिए बी नेगेटिव रक्त की 2 यूनिट की आवश्यकता थी बी नेगेटिव एक रेयर ग्रुप है जिसके रक्तदाता मिलने में कठिनाई होती है मरीज के परिवार को किसी ने समर्पित युवा समिति से संपर्क करने को कहा, संपर्क करने पर समर्पित युवा समिति की रक्त वीरांगना श्रीमती पूनम  नारंग ने तुरंत हामी भरते हुए न केवल स्वयं का अपितु अपने पुत्र गौरव का रक्तदान करा कर मरीज की प्राण रक्षा की, गौरतलब है कि समर्पित युवा समिति इस समय रक्तदान के क्षेत्र में सेवा के नित नए आयाम स्थापित कर रही है। समर्पित युवा समिति के सदस्य अमित पटपटिया ने दोनों रक्तवीरों को साधुवाद देते हुए अन्य महिलाओं को भी प्रेरणा लेने  का आव्हान किया

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा