राष्ट्रीय सेवा योजना के सात दिवसीय विशेष शिविर का समापन

मुजफ्फरनगर । श्रीराम काॅलेज मुजफ्फरनगर के तत्वाधान में आयोजित राष्ट्रीय सेवा योजना के सात दिवसीय विशेष शिविर का समापन प्राथमिक विद्यालय सहावली, मुजफ्फरनगर में किया गया। शिविर के समापन समारोह में श्रीराम कालिज के निदेशक, डा0 आदित्य गौतम, प्रधानाध्यापिका प्राथमिक विद्यालय सहावली, ग्राम प्रधान सहावली अशोक कुमार, बायोसाइंस प्रवक्ता, डा0 अश्वनी कुमार  तथा कार्यक्रम अधिकारी अंकित कुमार ने माॅं सरस्वती को पुष्प अर्पित कर किया। इसके पश्चात स्वयं सेवक एवं स्वयं सेविकाओं द्वारा अतिथियों का माल्र्यापण करके स्वागत किया गया। स्वयं सेवको में वर्षा, नैना, उज्जमा, ने माॅं सरस्वती की वन्दना की । 
 इसके पश्चात् श्रीराम काॅलेज निदेशक डा0 आदित्य गौतम ने सात दिवसीय शिविर की उपलब्धियों को बताते हुये कहा कि राष्ट्रीय सेवा योजना के शिविर में स्वयं सेवक एवं सेविकाओं द्वारा पूरी तन्मयता के साथ साफ-सफाई जागरूकता शिक्षा संबंधी कार्य, वृक्षारोपण आदि कार्यो को किया गया तथा भ्रष्टाचार, आतंकवाद, जलसंरक्षण, नारी शिक्षा की महत्ता, सामाजिक असमानता, पर्यावरण एवं स्वास्थ्य, समाज सुधार आदि ज्वलंत मुददों पर भी महत्वपूर्ण जानकारियाॅ प्राप्त की गई। विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि जब तक युवाओं का सहयोग प्राप्त नहीं होगा तब तक हम अपने उददेश्य में सफल नहीं हो सकते, सबकी सहभागिता ही हमारे लक्ष्य एवं उद्देश्यों को प्राप्त करने में सहयोग प्रदान कर सकती है और उन्होने उस परियोजना को विद्यार्थियों एवं समाज के साथ आगे बढाने के लिये आहवान भी किया तथा राष्ट्र निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिये प्रेरित किया। 
प्राथमिक विद्यालय की प्रधानाध्यापिका ने कहा कि समाज सेवा एवं राष्ब्ट्र सेवा के कार्य में श्रीराम ग्रुप आफ कालेजेज को हमेशा से ही सहयोग मिलता रहा है और आगे भी मिलता रहेगा। उन्होन कहा कि इस प्रकार के कार्यक्रम समाज में निरन्तर होते रहने चाहिये। तभी समाज के लोगों में स्वच्छता एवं शिक्षा के प्रति जागरूकता आयेंगी ।
    बायोसाइंस प्रवक्ता डा0 अश्वनी कुमार ने कहा कि यह हर्ष का विषय है कि समाज में शिक्षा, स्वच्छता आदि के प्रति जागरूकता आ रही है। उन्होने कहा कि समाज कल्याण के कार्यो में जब तक आम जनमानस का सहयोग प्राप्त नहीं होगा तब तक चाहे जितना भी राष्ट्र निर्माण के लिये प्रयास किये जायें उनमें अपेक्षित परिणाम प्राप्त होना असम्भव है। उन्होने विद्यार्थियों को प्रेरित करते हुये कहा कि आप लोगो की जिम्मेदारी है कि अपने -अपने गावों तथा समाज के विद्यालयों में सही ढंग से शिक्षण कार्य हो, आगन वाडी केन्द्र अपने मूल -भूत सुविधाओं को ग्रामीणों तक उपलब्ध करायें,  ग्रामीण स्वास्थ्य सेवाएं सुचारू रूप से चलायी जायें । अतः आप सभी को समाज कल्याण एवं राष्ट्र निर्माण और ज्यादा जागरूक होने की आवश्यकता है। 
   शिविर के सफल संचालक हेतु बायोसाइंस विभाग के प्रवक्ता सायमा सैफी, विकास त्यागी, पूजा रघूवंशी, संदीप राठी, डा0 आशीष गर्ग, व्यवसाय प्रबन्धन सहायक प्रवक्ता निशान्त, सहावली सदर सुषमा मलिक, मयंक चैहान, रितिक ठाकुर, भास्कर शिवांग सागर हरिश जितिन, नितिन चैहान, वर्षा, नैना गर्ग, आशिफ मलिक, तथा हर्षित इत्यादि का महत्वपूर्ण योगदान रहा। 


Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा