Wednesday, October 13, 2021

मुजफ्फरनगर की सदर विधानसभा सीट से कपिलदेव अग्रवाल के मुकाबले टिकट की दावेदारी में उतरे कई बड़े नेता

 


अभिषेक अहलूवालिया 
मैनेजिंग डायरेक्टर 

मुजफ्फरनगर। 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा में मुजफ्फरनगर की सदर विधानसभा सीट से टिकट मांगने वालों की लंबी लिस्ट के बाद प्रदेश स्तर एवं केंद्रीय स्तर से लगातार जांच पड़ताल शुरू हो गई है। अभी वर्तमान में सदर विधानसभा सीट से विधायक एवं उत्तर प्रदेश सरकार में स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री कपिल देव अग्रवाल की मौजूदगी और अच्छी पकड़ के बाद भी कई लोगों के नामों पर लगातार चर्चाएं केंद्र स्तर एवं प्रदेश स्तर पर की जा रही है। इसको लेकर जिला स्तर एवं मंडल स्तर की कमेटियों के अध्यक्षों के साथ लगातार विचार विमर्श किया जा रहा है। आंतरिक सूत्रों की माने तो वर्तमान में सदर विधानसभा से विधायक एवं स्वतंत्र प्रभार राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल के सामने पूर्व विधायक अशोक कंसल, अरविंद राज शर्मा, वर्तमान में नगर पालिका चेयरमैन अंजू अग्रवाल के सुपुत्र अभिषेक अग्रवाल, भाजपा के वरिष्ठ नेता श्री मोहन तायल एवं दूसरी ओर भाजपा के वरिष्ठ नेता अशोक बाठला के नामों की चर्चा केंद्र से लेकर राज्य स्तर तक की जा रही है। आंतरिक सूत्रों ने बताया है कि भाजपा की कोर कमेटी अभी फिलहाल विपक्ष के टिकट पर निर्भर है। उसके पश्चात ही भाजपा अपने टिकट की घोषणा करेगी। समाजवादी पार्टी में पूर्व मंत्री स्वर्गीय चितरंजन स्वरूप के पुत्र गौरव स्वरूप को पहले टिकट देकर लगातार दो बार हार का सामना कर चुकी है। इस बार समाजवादी पार्टी नए चेहरे की तलाश में है। यहां तक की जानकारी मिली है कि स्वर्गीय चितरंजन स्वरूप के छोटे बेटे बंटी स्वरूप भी इस बार टिकट के जुगाड़ में हैं। सपा में राकेश शर्मा समेत कई नेता टिकट की दावेदारी में हैं। जिसके बाद भाजपा अपने वर्तमान में विधायक एवं राज्य सरकार में स्वतंत्र प्रभार राज्य मंत्री कपिल देव अग्रवाल पर भरोसा तो कर रही है, लेकिन पूर्व विधायक अशोक कंसल, श्रीमोहन तायल एवं वर्तमान चेयरमैन नगर पालिका अंजू अग्रवाल के सुपुत्र अभिषेक अग्रवाल के नामों की चर्चा है। यदि विपक्ष द्वारा हाल ही में ब्राह्मण सम्मेलन कर अपनी अलग पहचान बनाने वाले राकेश शर्मा को टिकट देती है तो भाजपा में कुछ नये नामों पर विचार किया जा सकता है। जिसको लेकर लगातार बूथ स्तर से लेकर विधानसभा क्षेत्र में सभी टिकट की मांग करने वाले व्यक्तियों द्वारा अपनी मौजूदगी किसी ना किसी कार्यक्रम में एवं अन्य किसी भी तरीके से दर्ज कराई जा रही है। इतना जरूर है कि सक्रियता और लखनऊ से दिल्ली तक जुगाड़ रखने वाले कपिलदेव अग्रवाल को गच्चा देना दावेदारों के लिए कम मुश्किल नहीं होगा।

No comments: