Sunday, September 26, 2021

मका देखभाल कै लिकडियो सुम्मार कू दस जगै टिकैत की फौज लगावैगी जाम


मुजफ्फरनगर। सोमवार 27 सितम्बर को संयुक्त किसान मोर्चा के भारत बंद को लेकर जहां शहर में ऊहापोह की स्थिति है वहीं भाकियू ने ऐलान किया है कि जनपद में 10 स्थानों पर भाकियू कार्यकर्ता किसानों को साथ लेकर सड़कों पर उतरेंगे और चक्का जाम किया जायेगा। इसके लिए ब्लॉक स्तर पर भाकियू ने जिम्मेदारी सौंपते हुए शांतिपूर्वक प्रदर्शन करने पर जोर दिया है। इस दौरान जिले के तीनों राष्ट्रीय राजमार्ग के साथ ही एक स्टेट हाईवे पर किसानों का पूरा कब्जा रहेगा। तमाम गैर भाजपा दलों का इस बंद को समर्थन है। वकील भी नोवर्क रखेंगे। 

बंद को लेकर भाकियू की ओर से पूर्व जिलाध्यक्ष धीरज लाटियान ने बताया कि किसान आंदोलन के समर्थन मेें केन्द्र सरकार के खिलाफ संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा 27 सितम्बर को भारत बंद का आह्नान किया गया है, जिसके लिए मुजफ्फरनगर में भाकियू ने अपनी रणनीति बना ली है। यूनियन हाईकमान के निर्देश पर भाकियू पदाधिकारी और कार्यकर्ता किसानों के साथ अपने अपने गांवों के बाहर भी सड़कों पर धरना देकर चक्का जाम करेंगे। इसके साथ ही जनपद में सभी ब्लाक मुख्यालयों पर सड़कों पर आकर किसान केन्द्र सरकार के तीनों कृषि बिलों के विरोध में प्रदर्शन करेंगे। उन्होंने कहा कि पूर्व में भारत बंद के लिए हाईकमान की ओर से जो भी ब्लाक वाइज पाइंट जनपद में तय किये गये हैं, उन्हीं प्वाइंटों पर जाम और प्रदर्शन का कार्यक्रम रखना है। इसके लिए आगामी 27 सितंबर के भारत बंद में जनपद मुजफ्फरनगर के जाम स्थल तय कर दिये गये हैं, इनमें 10 मुख्य स्थानों पर यूनियन का प्रदर्शन होगा। बघरा ब्लाक में बस स्टैंड लालू खेड़ी, चरथावल ब्लाक में रोहाना टोल प्लाजा, पुरकाजी ब्लाक में छपार टोल प्लाजा, मोरना ब्लाक में चौधरी चरण सिंह चौक मोरना, जानसठ ब्लाक में मोंटी चौराहा मीरापुर, खतौली ब्लाक में नावला कोठी, बुढाना ब्लाक में बायवाला चेक पोस्ट व मेरठ करनाल राष्ट्रीय राजमार्ग पर फुगाना बस स्टैंड, शाहपुर ब्लाक में कस्बा शाहपुर मैन रोड पुलिस चौकी और सदर ब्लाक में रामपुर तिराहा पर चक्का जाम किया जायेगा।

उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय नेतृत्व के निर्देशानुसार बंद शांतिपूर्ण तरीके से रखना है। स्कूल की गाड़ियां, एंबुलेंस, आवश्यक सेवाओं की गाड़ियों के लिए छूट रहेगी। जाम के समय का निर्धारण हाईकमान के आदेश अनुसार होगा। मुजफ्फरनगर जिले से निकलने वाले तीनों नेशनल हाईवे दिल्ली-देहरादून, मेरठ-करनाल और पानीपत-खटीमा राजमार्ग पर जाम रहेगा। सभी ब्लाक मुख्यालय के साथ ही किसान अन्य स्थानों पर भी सड़क पर आकर धरना प्रदर्शन कर सकते हैं। उन्होंने भारत बंद के लिए सभी को साथ आने का आह्नान करते हुए कहा कि हमारी सभी व्यापारियों और जनता से अपील है कि भारत बंद में संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान का स्वागत करते हुए इसकी सफलता के लिए अपना सहयोग दें।

भाकियू के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी धर्मेन्द्र मलिक ने बताया कि भारत बंद आंदोलन में मुजफ्फरनगर जनपद में भाकियू का चक्का जाम शांतिपूर्ण तरीके से सफल होगा। किसानों को अपने गांव के बाहर सड़क जाम करने को कहा गया है। सभी कार्यकर्ताओं को हिदायत दी गई है कि वह बीमारों की एंबुलेंस न रोके। बरात की गाड़ियां, परीक्षा देने जाने वाले छात्रों को नहीं रोका जाएगा। आंदोलन को बिना किसी को परेशान किए सफल किया जाएगा। उन्होंने बताया कि मुजफ्फरनगर जिले से निकलने वाले तीनों हाईवे दिल्ली-देहरादून, मेरठ-करनाल, पानीपत-खटीमा राजमार्ग पर जाम रहेगा।

No comments: