Thursday, September 9, 2021

सरकार से वार्ता पर ये कहकर पलट गये राकेश टिकैत


चंडीगढ़। तीन कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा कि हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल केंद्र सरकार के साथ बातचीत कराने के लिए मध्‍यस्‍थता की पेशकश करें। हालांकि थोड़ी देर बाद ही राकेश टिकैत पलट गए और बोले कि मनोहर लाल एक राज्य के मुख्यमंत्री हैं। बहुत सी चीजें उनके हाथ में नहीं हो सकती। 

राकेश टिकैत ने बातचीत की संभावना पैदा करने के साथ ही उसमें पेंच भी फंसा दिया। टिकैत बोले कि यदि मुख्यमंत्री मनोहर लाल केंद्र सरकार को तीनों कृषि कानून रद कराने के लिए राजी कर लें तो हम बातचीत करने को तैयार हैं। इस पर मीडियाकर्मी ने कहा कि क्या हम मुख्यमंत्री को फोन पर लाइन पर लें और आपकी बात करा दें। इस पर टिकैत ने कहा कि ऐसे आनलाइन तरीके से बातें नहीं कराई जाती। मनोहर लाल एक राज्य के मुख्यमंत्री हैं। बहुत सी ऐसी चीजें होती हैं, जो पब्लिकली नहीं होती। लेकिन, मुझे लगता है कि मनोहर लाल तीनों कृषि कानून रद नहीं करा पाएंगे। इसलिए अगर हमारी उनसे बात हो भी गई तो वह क्या जवाब देंगे।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि किसान संगठनों के नेताओं को अपनी जिद छोड़कर केंद्र से बातचीत की पहल करनी चाहिए। केंद्र सरकार आंदोलनकारी संगठनों से बातचीत करने को तैयार है। उन्होंने कहा कि किसान संगठनों को पहले तीन कृषि कानूनों को रद करने का राग अलापना बंद करना होगा, उसके बाद ही कोई बातचीत हो सकेगी। यदि कानून रद ही हो गए तो फिर बातचीत किस बात की। फिर तो कोई मसला ही नहीं रह गया।

No comments:

Featured Post

कपिलदेव अग्रवाल व उमेश मलिक ने किया सडक सुरक्षा सप्ताह का उद्घाटन

मुज़फ्फरनगर। आज एआरटीओ कार्यालय पर एआरटीओ विनीत मिश्रा के निर्देशन में सड़क सुरक्षा सप्ताह का आयोजन किया गया है जिसमें उन्होंने सड़क सुरक्षा के...