Thursday, September 2, 2021

एनआईसी में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से वैज्ञानिकों की बात किसानों के साथ कार्यक्रम का आयोजन

 


मुजफ्फरनगर । शासन के निर्देशो पर कलेक्ट्रेट स्थित एनआईसी में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से वैज्ञानिकों की बात किसानों के साथ कार्यक्रम का आयोजन हुआ। कार्यक्रम में जनपद के अनेकों प्रगतिशीला कृषको के साथ कृषि विभाग के अधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। एनआईसी लखनऊ के माध्यम से माननीय कृषि मंत्री  सूर्य प्रताप शाही  के द्वारा कृषकों की उपयोगी योजनाओं की जानकारी के साथ-साथ कृषको से उनके लाभ प्राप्त करने का अनुरोध किया गया। अपर मुख्य सचिव कृषि उत्तर प्रदेश शासन द्वारा चलाई जा रही महत्वपूर्ण योजनाओं के संबंध में कृषकों को जानकारी दी गई, उक्त के अतिरिक्त कृषि निदेशक उत्तर प्रदेश वरिष्ठ एवं कृषि वैज्ञानिकों के द्वारा सामाजिक जानकारी फसलों के संबंध में दी गई तथा कृषि उत्पादक संगठनों के संबंध में विस्तृत जानकारी दी गई।

        कृषि मंत्री उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा कृषकों से अनुरोध किया गया है कि कृषक पराली/फसल अवशेष ना जलाए नवीनतम कृषि यंत्रों का प्रयोग कर फसल अवशेषों को खेतों में ही डी-कंपोजर का भी प्रयोग कर खाद बनायें, खेतों में भी जीवांश बढ़ाएं, अपर मुख्य सचिव कृषि महोदय द्वारा अधिकारियों को निर्देशित किया कि अधिकारी कृषकों की समस्याओं को सुने व निस्तारण करें। क्षेत्रीय कर्मचारियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में दिए गए लिंक पर लाइव स्ट्रीमिंग दिखाई गई।

एनआईसी में उप कृषि निदेशक/जिला कृषि अधिकारी  जसवीर सिंह तेवतिया एवं अन्य अधिकारियों के साथ-साथ कृषको द्वारा प्रतिभाग किया गया।

No comments: