ग्राहकों को मिलेगी अब हाल मार्क मानक के अनुसार ज्वैलरी


मुजफ्फरनगर। ज्वेलरी को हॉल मार्क में शामिल करने के लिए वर्षों से सरकार से की जा रही अपील पर सर्राफा बाजार एसोसिएशन द्वारा ज्वेलरी की शुद्धता एवं गुणवत्ता के आधार पर मानक के अनुसार ज्वैलरी को बेचा जाएगा। 

जनपद में आज भारत सरकार के द्वारा जारी किए गए निर्देशों के अनुसार सर्राफा व्यापारियों के द्वारा बेचे जाने वाली सोने की ज्वेलरी एवं गांव देहात में किसी भी छोटे ज्वेलर्स के द्वारा विक्रय की जाने वाली ज्वेलरी की शुद्धता एवं गुणवत्ता के आधार पर मानक के अनुसार ज्वैलरी को बेचा जाएगा। मुजफ्फरनगर के सर्राफा बाजार में इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन के पदाधिकारियों के द्वारा अपने कार्यालय में एक प्रेसवार्ता कर पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि अब एसआईएस हॉलमार्क के होने पर ही एक ज्वेलर्स अपनी ज्वेलरी बेच सकता है एवं समान मानक के अनुसार छोटे ज्वेलर्स से लेकर बड़े ज्वेलर्स तक कोई भी ज्वेलर्स ग्राहक के साथ धोखाधड़ी नहीं कर पाएगा। इससे छोटे ज्वेलर्स पर ग्राहक का विश्वास और अधिक मजबूत होता जाएगा तथा व्यापार नई गति से आगे भी बढ़ेगा। हॉल मार्क कानून आने के बाद ग्राहकों की सोने में निवेश करने का आकर्षण बढ़ेगा एवं सर्राफा व्यवसाय को बहुत लाभ होगा। छोटे - छोटे कस्बों एवं शहरों में बैठे व्यापारियों को आगे बढ़ने का मौका मिलेगा। भारत सरकार द्वारा सोने की ज्वेलरी में 14 कैरेट, 18 कैरेट, 20 कैरेट, 22 कैरेट, 23 कैरेट एवं 24 कैरेट की होल मार्क करने की मान्यता प्रदान की गई है। इसके अलावा इंडिया बुलियन एन्ड ज्वेलर्स एसोसिएशन के द्वारा यह भी जानकारी दी गई है कि 20 कैरेट की ज्वेलरी को हॉल मार्क में शामिल करने के लिए पिछले कई वर्षों से सरकार से अपील की जा रही थी, जिसके बाद आज पीयूष गोयल के द्वारा स्वीकृति प्रदान की गई है। ज्वेलर्स के अनुसार 20 कैरेट की ज्वेलरी सबसे ज्यादा मजबूत और उसका कलर सबसे अच्छा होता है एवं यह ज्वेलरी ग्राहकों की पसंद वह जेब के हिसाब से अच्छी रहती है। 20 कैरेट की ज्वैलरी को एसआईएस हॉल मार्क में शामिल करने के बाद इस रैली का पूरे भारत में ग्राहक लाभ ले सकेंगे। वही 40 लाख से कम टर्नओवर करने वाले ज्वेलर्स को हॉल मार्क का लाइसेंस लेने के लिए सूट प्रदान की जाएगी जिसके चलते सभी छोटे ज्वेलर्स अपना हॉल मार्क का लाइसेंस बनवा सकेंगे एवं ज्वैलरी के नाम पर हो रही धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म कर सकेंगे। गत रात्रि मैं हॉल मार्क कानून लागू होने से सर्राफ व्यापारियों में कॉफी उत्साह दिखाई दे रहा है एवं उनके चेहरे से साफ-साफ जाहिर हो रहा है कि जनपद में हॉल मार्क कानून के लागू होने से ग्राहक को कितना फायदा होने वाला है। इस दौरान प्रेस कॉन्फ्रेंस में जिला एडवाइजरी कमेटी से पराग गोयल, पुष्पेंद्र अग्रवाल, शंकर स्वरूप, इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन मुजफ्फरनगर जिला अध्यक्ष मनोज जैन, सेक्रेटरी मोहित गोयल, उपाध्यक्ष श्रेय गोयल, सुशील गर्ग, रामबाबू ज्वाइंट सेक्रेट्री, मनोज पुंडीर, मीडिया प्रभारी गौरव शर्मा, संगठन मंत्री मयंक बंसल, कोषाध्यक्ष सिद्धार्थ बंसल, आदि लोग उपस्थित रहे।

Comments

Popular posts from this blog

राज्य कर्मचारियों को भी मिलेगा बढा महंगाई भत्ता

डीएम सेल्वा कुमारी जे का तबादला, मनीष बंसल होंगे नये डीएम!

रालोद और भाकियू के नाम पर हुडदंग करने वालों पर लाठीचार्ज, पांच गिरफ्तार