Wednesday, May 12, 2021

हर जरूरतमंद को मिले आक्सीजन : कपिलदेव अग्रवाल


मुजफ्फरनगर । जनपद मुज़फ्फरनगर में राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार कपिल देव अग्रवाल ने एक चिट्ठी मुख्य चिकित्सा अधिकारी (CMO)महावीर सिंह फौजदार को लिखी है उसमें कहा गया कि संज्ञान में आया है कि आपके द्वारा कोरोना रोगियों के लिए केवल एमबीबीएस चिकित्सकों द्वारा ही एक निर्धारित प्रारूप पर ऑक्सीजन की मांग हेतु प्रमाण पत्र देकर ऑक्सीजन सिलेंडर दिए जाने हेतु आदेशित किया गया है। इसके अलावा अन्य किसी पध्दति के चिकित्सकों को ऑक्सीजन नहीं दी जाएगी। अवगत है कि कोरोना संक्रमण गांव-गांव तक फैल गया है तथा हर गांव में छोटे कस्बों में एमबीबीएस डॉक्टर उपलब्ध ना होने के कारण  एमबीबीएस के अतिरिक्त बीएएमएस या आप द्वारा पंजीकृत जो (अधिकृत है) ऐसे सभी चिकित्सक गली-गली गांव-गांव अपने दायित्व का निर्वहन कर रहे हैं। तथा कोविड गाइडलाइन के अनुरूप औषधि दे रहे हैं तथा प्राथमिक उपचार कर रहे हैं निश्चित रूप से उनकी यह सेवा इस महामारी में वरदान सिद्ध हो रही है। आपसे अपेक्षा है कि एमबीबीएस बीएएमएस सहित सभी पंजीकृत चिकित्सकों के परामर्श पर यथा संभव ऑक्सीजन उपलब्ध कराया जाना सुनिश्चित करें तथा डॉक्टरो को इस बात की हिदायत दी जाए कि वे अनावश्यक रूप से ऑक्सीजन की संस्तुति ना करें


आपको बता दे मुजफ्फरनगर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ महावीर सिंह फौजदार ने एक आदेश जारी किया था कि अब एमबीबीएस डॉक्टरों के पर्चे पर ऑक्सीजन मिलने की बात कही गयी थी या मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय पर पंजीकृत चिकित्सको के द्वारा ही ऑक्सीजन की मांग की जा सकती है जिसके लिए निजी चिकित्सक को एक निर्धारित प्रारूप पर ऑक्सीजन की मांग के लिए प्रमाण पत्र देना होगा साथ ही चिकित्सा के द्वारा अपना (प्रिस्क्रिप्शन) पर्चा भी उपलब्ध कराया जाना था। जिसके बाद मरीज को ऑक्सीजन दी जानी थी उसी आदेश के बाद राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल ने CMO को चिट्ठी लिखी है।