Friday, May 14, 2021

कोरोना से मरे व्यक्ति के पोते सहित 5 के खिलाफ मुकदमा दर्ज

 मुजफ्फरनगर l निजी कोविड अस्पताल में मरीज की मौत पर हुए हंगामे के दौरान फायरिंग करने वाले डाक्टर के भाई के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं हुई है, जबकि पुलिस ने डाक्टर की तहरीर पर मरीज के पौते व अन्य 5 अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। निजी कोविड अस्पताल के डाक्टरों के खिलाफ शहर कोतवाली में तहरीर दी गयी है।


गुरुवार को आर्यपुरी स्थित निजी कोविड एल-2 अस्पताल में कोरोना संक्रमित नरेन्द्र कुमार गुप्ता की मौत हो गयी थी। परिजनों ने आरोप लगाया था कि मरीज को भर्ती करते समय ही अस्पताल ने दो लाख रुपये एडवांस जमा करा लिए थे। नरेन्द्र कुमार गुप्ता के बेटे मनोज कुमार गुप्ता ने आरोप लगाया कि उनके बेटे व भतीजे ने डाक्टर से दो लाख रुपये का हिसाब मांगा था, जबकि डाक्टर ओर भी पैसों की मांग कर रहे थे। इस बात को लेकर दोनों पक्षों के बीच बहस हो गयी। आरोप है कि इसी बीच पीपीई किट पहने डाक्टर के भाई ने उसके बेटे व भतीजे पर फायरिंग कर दी। मौके पर आयी पुलिस को पिस्टल लिए डाक्टर के भाई की वीडियो व फोटो दिए गए। पुलिस ने उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नही की। देर रात पुलिस ने हार्ट केयर सैंटर के डाक्टर देवेन्द्र सैनी की तहरीर पर कोरोना संक्रमित मरीज के पौते अर्पित गुप्ता व 5 अज्ञात के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली है। डाक्टर ने आरोप लगाया कि उनके मरीज के संबंध में सभी जानकारी दी गयी थी। उसके बावजूद मरीज के तीमारदारों ने अस्पताल में हंगामा करते हुए मारपीट की। पुलिस ने डाक्टर की तहरीर पर रिपोर्ट दर्ज कर ली है। वहीं पुलिस मनोज गुप्ता की तहरीर आने से इंकार कर रही है।


--

No comments: