नव सम्वत्सर पर यज्ञ, जलियांवाला बाग के शहीदों को किया नमन


मुजफ्फरनगर। वैदिक संस्कार चेतना केंद्र पर नवसम्वत्सर पर वेद मंत्रोच्चार से यज्ञ में आहुतियां दी गई।  जलियांवाला बाग कांड के 102 साल पूरे होने पर स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों को नमन किया गया।

संतोष विहार में बैशाखी, नव सम्वत्सर और आर्य समाज के स्थापना दिवस पर देव यज्ञ हुआ। वैदिक संस्कार चेतना अभियान संयोजक आचार्य गुरुदत्त आर्य ने कहा कि सनातन संस्कृति के सत्य मार्ग पर चलें। ऋषियों द्वारा बताई परंपराओं और सिद्धांतों को गृहस्थी अपनाये ताकि संतान सुयोग्य बने। सुख, शांति, ऊर्जा, समृद्धि की प्राप्ति को यज्ञ, योग, सत्संग, स्वाध्याय, नैतिक आचरण को अपनाए। 13 अप्रैल, 1919 को ब्रिटिश जनरल डायर ने अमृतसर के जलियांवाला बाग में निहत्थे भारतीयों पर गोलियां बरसा कर मानवता को कलंकित किया था। उस घटना के 102 साल पूरे हो चुके है। आर.पी.शर्मा ने नव सम्वत्सर पर ऋषि दयानंद के वैदिक सिद्धांतो से अवगत कराया। डॉ. सतीश कुमार आर्य ने भजन प्रस्तुत किये। आंनद पाल सिंह आर्य, मंगत सिंह आर्य, योगेश्वर दयाल, अतर सिंह आर्य, राजेंद्र प्रसाद आर्य आदि मौजूद रहे। संचालन आर.पी.शर्मा ने किया।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा