Sunday, April 18, 2021

यूपी में टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव होने पर भी लक्षणों के आधार पर होगा उपचार


लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मरीज और लगातार आरटी-पीसीआर टेस्ट नेगेटिव आने के बाद भी कोरोना संक्रमण होता देख अब उत्तर प्रदेश सरकार ने बड़ा फैसला किया है। यूपी सरकार के अनुसार यदि अब किसी व्यक्ति का आरटी-पीसीआर टेस्ट नेगेटिव आ रहा है लेकिन उसको कोरोना होने की आशंका है तो उसका कोरोना मरीज की तरह ही उपचार हो और उसे प्रिजम्‍टिव कोविड की कैटेगरी में रखा जाए। आदेश के अनुसार आरटी-पीसीआर टेस्ट नेगेटिव होने के बाद भी यदि मरीज का एक्सरे, सीटी स्कैन, खून की जांच, सिम्टम्स कोरोना जैसे हों, साथ ही डॉक्टर का मानना हो कि ये कोविड है तो मरीज को हर हाल में इस कैटेगरी में रखा जाए।

No comments:

Featured Post

ग्राहकों को मिलेगी अब हाल मार्क मानक के अनुसार ज्वैलरी

मुजफ्फरनगर। ज्वेलरी को हॉल मार्क में शामिल करने के लिए वर्षों से सरकार से की जा रही अपील पर सर्राफा बाजार एसोसिएशन द्वारा ज्वेलरी की शुद्धता...