देश में कोरोना पर काबू पाने कैबिनेट सचिव की बैठक, क्या हुआ निर्णय ?



नई दिल्ली

 देशभर में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए केंद्र सरकार ने 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को 'गंभीर चिंता' वाले राज्यों की श्रेणी में रखा है। पिछले कुछ दिनों में इन सभी राज्यों में कोरोना वायरस के नए केसों में तेजी से उछाल देखने को मिला है और मौतें भी हुई हैं। 

केंद्र सरकार ने शुक्रवार को कहा कि पिछले 14 दिनों में कोरोना वायरस के मामलों में 90 फीसदी (31 मार्च तक) और मौत के आंकड़ों में 90.5% का योगदान रहा है। खासकर महाराष्ट्र के हालात को लेकर सरकार ने चिंता जताई है। केंद्र सरकार ने महाराष्ट्र में सक्रिय मामलों और रोजाना होने वाली मौतों पर काबू पाने के लिए तत्काल उपाय करने की सलाह दी है।

कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए शुक्रवार को कैबिनेट सचि राजीव गौबा ने 11 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के मुख्य सचिवों, पुलिस महानिदेशक और स्वास्थ्य सचिवों के साथ एक हाई लेबल बैठक की। इस बैठक में कोरोना वायरस केसों पर लगाम लगाने के लिए उठाए गए कदमों पर चर्चा हुई और राज्यों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए गए। इस बैठक में राज्यों से कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए सभी संसाधनों के इस्तेमाल की बात भी कही गई है।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा