अंजू अग्रवाल को आया गुस्सा तो ईओ ने टेंडर किए स्वीकृत


 मुजफ्फरनगर । पालिकाध्यक्ष की ईओ को चेतावनी के बाद ईओ ने 14वें वित्त की करीब धनराशि से होने वाले सभी निर्माण कार्यों को स्वीकृति प्रदान कर दी है। ईओ ने इन निर्माण कार्यों के टेंडरों को रोक दिया तो पालिका अध्यक्ष अंजू अग्रवाल का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुंच गया। अब ईओ की स्वीकृति के बाद अब शहर के 50 वार्डों में करीब 19.50 करोड के विकास कार्यों की गंगा बहेगी।

पालिकाध्यक्ष अंजू अग्रवाल ने शहरी क्षेत्र के 50 वार्डों में होने वाले निर्माण कार्यों को दो भागों में रखा है। पहले भाग में 1 से 25 वार्ड तक 63 निर्माण कार्य और 26 से 50 वार्ड में 62 निर्माण कार्य रहे थे। यह सभी कार्य 14वें वित्त की धनराशि से होने है और 31 मार्च तक ही इस धनराशि का उपभोग किया जा सकता है। शहरी क्षेत्र में होने वाले यह सभी निर्माण कार्य ई टेंडरिंग से होने है। इसके लिए 63 ई निविदाए आपलोड की गई थी। जिसमें से 23 ई निविदाए सिंगल प्राप्त हुई और 40 निविदाए दो या दो से अधिक प्राप्त हुई है। आरोप है कि ईओ ने 14वें वित्त की धनराशि से होने वाले सभी निर्माण कार्यों के टेंडर को रोक दिया। पालिकाध्यक्ष ने इस पर नाराजगी जताते हुए ईओ को चेतावनी पत्र जारी करते हुए दो दिन मेें स्पष्टीकरण मांगा। वहीं इस मामले की जानकारी मुख्यमंत्री स्तर पर भी दी गई। पालिकाध्यक्ष की चेतावनी के बाद ईओ ने टेंडरों की स्वीकृति प्रदान कर दी है। 23 ई निविदाए को दोबारा से अपलोड कर दिया है। कायाकल्प योजना से होने वाले प्राइमरी स्कूलों के सौन्दर्यकरण की पत्रावली पर भी ईओ ने स्वीकृति कर दी है। पालिकाध्यक्ष अंजू अग्रवाल ने बताया कि ईओ स्तर पर निर्माण कार्यों के टेंडर रूके हुए थे, लेकिन अब उन्होंने अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी है। अब शहरी क्षेत्र में चौतरफा विकास कार्य नजर आएगे।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा