Sunday, February 7, 2021

हरिद्वार और ऋषिकेश में शाम तक पहुंचेगा पानी


देहरादून । पहाड़ी से ग्लेशियर का एक हिस्सा टूटकर डैम पर गिरने से डैम का एक हिस्सा क्षतिग्रस्त होने से  पानी तेजी से अलकनंदा नदी में जाने से भयावह नजारा है। अलकनंदा नदी का प्रवाह बढ़ने से केंद्रीय जल आयोग ने अपनी सभी चौकियों पर अलर्ट जारी किया है। ऋषिकेश तथा हरिद्वार में 5-6 बजे तक इस पानी के पहुंचने का अनुमान लगाया जा रहा है।

आज सुबह ग्लेशियर फटने से बांध क्षतिग्रस्त हो गया, जिससे धोली नद में बाढ़ आ गई है। तपोवन बैराज पूरी तरह से ध्वस्त होकर बह गया है। घटना के बाद से कई लोग लापता बताए जा रहे हैं। चमोली से हरिद्वार तक खतरा बढ़ने से अलर्ट जारी हो गया है। पुलिस व एसडीआरएफ की टीमें नदी किनारे की बस्तियों को लाउडस्पीकर से अलर्ट करने के साथ ही खाली कराने में जुट गई है। ऋषिकेश में भी गंगा नदी से बोट राफ्टिंग संचालकों को हटा दिया गया है। मामले को गंभीरता से लेते हुए श्रीनगर जल विद्युत परियोजना को झील का पानी कम किया जा रहा है ताकि अलकनंदा का जल स्तर बढ़ने पर अतिरिक्त पानी छोड़ने में दिक्कत न हो। श्रीनगर पुलिस ने नदी किनारे बस्तियों में रह रहे लोगों से सुरक्षित स्थानों में जाने की अपील कर रही हैं। साथ ही नदी में काम करने वाले मजदूरों को भी हटा दिया गया है।

No comments:

Featured Post

चंदन चौहान में डोर टू डोर जाकर मांगे वोट

  मुजफ्फरनगर ।  मीरापुर विधानसभा  के गठबंधन प्रत्यशी चंदनचौहान ने ग्राम तेवड़ा , रुरकली, जटवाड़ा, बेड़ा सादात में डोर टू डोर घूम घूमकर वोट मा...