डायनामाइट विस्फोट से हिला कर्नाटक, आठ लोगों की मौत

 


बेंगलुरु। शिवमोगा इलाके के डायनामाइट से भरे ट्रक में विस्फोट के बाद लोगों ने एक तेज आवाज सुनी और झटके महसूस किए। धमाका इतना तेज था कि कई घरों के शीशे तक टूट गए। यह घटना 21 जनवरी रात करीब 10.20 बजे की है। 

शिवमोगा जिला कलेक्टर नन्द शिवकुमार ने बताया कि हुनासोडू गांव में एक रेलवे क्रेशर साइट पर एक डायनामाइट विस्फोट की वजह से इतना बड़ा धमका हुआ। जिसमें कम से कम आठ लोगों की मौत हो गई है। माना जा रहा है कि विस्फोटक खनन के उद्देश्य से ले जाए जा रहे थे। धमाके के झटके सिर्फ शिवमोगा में ही नहीं बल्कि चिक्कमगलुरु और दावणगेरे जिलों में भी महसूस किए गए।

प्रत्यक्षदर्शियों का दावा है कि रात साढ़े दस बजे के लगभग धमाका हुआ था। उन्होंने कहा कि विस्फोट इतना तेज था कि घरों की खिड़की के शीशे भी टूट गए। वहीं सड़कों पर भी दरार आ गई हैं। कई लोगों को धमाके से ऐसा लगा कि मानों जैसे भूकंप के झटके आ गया हों। हालांकि भूगर्भ वैज्ञानिकों ने भूकंप आने की सूचना ने मना किया है।

हालांकि शिवमोगा के जिलाधिकारी शिवकुमार ने कहा है कि यह हुनासोडु गांव में एक रेलवे क्रशर साइट पर डायनामाइट का धमाका हुआ था। हालांकि इसमें कितने घायल हुए हैं, इसकी पुष्टी नहीं हो पाई है। यह धमाका शिवमोगा शहर से करीब 5-6 किलोमीटर की दूरी पर हुआ था। फिलहाल मौके पर पुलिस बल मौजूद है। इलाके की घेराबंदी की है।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा