ब्वाय फ्रेंड नहीं तो कॉलेज में प्रवेश नहीं


चेन्नई।
 
कट्टनकुलथुर स्थित एसआरएम इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी (एसआरएमआईएसटी) का एक सर्कुलर सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। कॉलेज के लेटरपैड पर जारी इस सर्कुलर में कहा गया है कि सिंगल गर्ल्स को कॉलेज कैंपस में आने की इजाजत नहीं दी जाएगी। छात्राओं के लिए ब्वायफ्रेंड बनाना अनिवार्य है। मामले की जानकारी मिलने के बाद कॉलेज प्रबंधन ने पुलिस से शिकायत की है। उनका आरोप है कि यह कॉलेज को बदनाम करने की साजिश है।


यह है पूरा मामला जानकारी के मुताबिक, एसआरएस इंस्टीट्यूट के लेटरपैड पर जारी सर्कुलर तमिलनाडु में चर्चा का विषय बना हुआ है। बता दें कि यह सर्कुलर 22 जनवरी का है, जिस पर रजिस्ट्रार एन सेतुरमन के अलावा कुलपति और अध्यक्ष के भी हस्ताक्षर हैं, जिससे यह सर्कुलर असली लग रहा है।इस सर्कुलर में कहा गया कि कॉलेज छात्र-छात्राओं के बीच मुहब्बत बढ़ाना चाहता है। ऐसे में अब कॉलेज कैंपस में किसी भी ऐसी लड़की को नहीं आने दिया जाएगा, जिसका प्रेमी नहीं होगा। देखते ही देखते यह सर्कुलर सोशल मीडिया पर वायरल हो गया।

पुलिस से की मामले की शिकायत मामले की जानकारी मिलने के बाद कॉलेज में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में कॉलेज प्रबंधन ने बैठक की, जिसके बाद चेंगलपट्टू, कांचीपुरम और चेन्नई पुलिस से मामले की शिकायत की गई। संस्थान ने कहा है कि जांच के दौरान जिन छात्रों का नाम सर्कुलर वायरल करने में शामिल पाया जाएगा, उन्हें तत्काल प्रभाव से निष्कासित कर दिया जाएगा।

संस्थान ने जारी की नई सूचना इस मामले में संस्थान की ओर से एक नोटिस जारी किया गया है। इसमें कहा गया है कि संस्थान के रजिस्ट्रार के नाम पर कई फर्जी सर्कुलर फैलाए जा रहे हैं। इस मामले में दोषी व्यक्ति के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जाएगी। अगर कोई छात्र इसमें संलिप्त मिलता है तो उसे संस्थान से निष्कासित कर दिया जाएगा। इस मामले में पुलिस से भी शिकायत की गई है।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा