पूर्व विधायक समेत 32 फर्मों पर जीएसटी चोरी में लाखों का जुर्माना


मुजफ्फरनगर । जीएसटी में मोटी हेराफेरी कर टैक्स चोरी करने वाली जिले की 32 बड़ी फर्मों पर कार्रवाई की गई है। इनमें लोहे के कारोबार से जुड़ी बसपा के एक पूर्व विधायक की फर्म शामिल है। राज्य वाणिज्य कर विभाग ने जांच के बाद जीएसटी की चोरी मिलने के बाद इन फर्मों पर इनपुट टैक्स क्रेडिट की धनराशि लाक कर भारी जुर्माना भी लगाया है।

जनपद में काफी फर्में इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) का दुरुपयोग कर बिलों में हेराफेरी करती हैं। स्थानीय जीएसटी अधिकारियों ने दिसम्बर में व्यापारियों के क्रय-विक्रय के बिलों की जांच की तो तमाम फर्मों के बिल संदिग्ध मिले। जांच में पकड़ी गई टैक्स चोरी में 32 फर्मों पर कार्रवाई करते हुए आइटीसी आनलाइन लाक कर दी गई। इससे फर्म संचालकों के 80.58 लाख रुपये लाक हुए। फर्म संचालकों पर 5.63 लाख रुपये जुर्माना लगाकर लाखों का माल भी जब्त किया है।

स्टेट जीएसटी ज्वाइंट कमिश्नर शरद कुमार शुक्ला के अनुसार जनपद में आइटीसी का दुरुपयोग करने वाली 32 फर्म पकड़ी गई हैं, जिसमें पूर्व विधायक की फर्म भी शामिल है। इस फर्म से लोहे का कारोबार दिखाया जा रहा था। सभी पर जुर्माना लगाते हुए आनलाइन आइटीसी लाक की गई है। लाखों का माल भी जब्त किया है।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा