आज का पंचांग एवँ राशिफल 25 जनवरी 2021

 विज्ञापन 


🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞

⛅ *दिनांक 25 जनवरी 2021*

⛅ *दिन - सोमवार*

⛅ *विक्रम संवत - 2077*

⛅ *शक संवत - 1942*

⛅ *अयन - उत्तरायण*

⛅ *ऋतु - शिशिर*

⛅ *मास - पौष*

⛅ *पक्ष - शुक्ल* 

⛅ *तिथि - द्वादशी रात्रि 12:24 तक तत्पश्चात त्रयोदशी*

⛅ *नक्षत्र - मॄगशिरा 26 जनवरी रात्रि 01:56 तक तत्पश्चात आर्द्रा*

⛅ *योग - इन्द्र रात्रि 10:29 तक तत्पश्चात वैधृति*

⛅ *राहुकाल - सुबह 08:41 से सुबह 10:04 तक*

⛅ *सूर्योदय - 07:18* 

⛅ *सूर्यास्त - 18:23* 

⛅ *दिशाशूल - पूर्व दिशा में*

⛅ *व्रत पर्व विवरण - 

 💥 *विशेष - द्वादशी को पूतिका(पोई) अथवा त्रयोदशी को बैंगन खाना मना होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞



🌷 *प्रणव’ (ॐ) की महिमा (चतुर्दशी आर्द्रा नक्षत्र योग : 26 जनवरी 2021 रात्रि को 01:12 से प्रातः 03:12 तक अर्थात् 27 जनवरी 2021 01:12 AM से 03:12 AM तक)*

🙏🏻 *सूतजी ने ऋषियों से कहा : “महर्षियों ! ‘प्र’ नाम है प्रकृति से उत्पन्न संसाररूपी महासागर का | प्रणव इससे पार करने के लिए (नव) नाव है | इसलिए इस ॐकार को ‘प्रणव’ की संज्ञा देते हैं | ॐकार अपना जप करनेवाले साधकों से कहता है – ‘प्र –प्रपंच, न – नहीं है, व: - तुम लोगों के लिए |’ अत: इस भाव को लेकर भी ज्ञानी पुरुष ‘ॐ’ को ‘प्रणव’ नाम से जानते हैं | इसका दूसरा भाव है : ‘प्र – प्रकर्षेण, न – नयेत, व: -युष्मान मोक्षम इति वा प्रणव: | अर्थात यह तुम सब उपासकों को बलपूर्वक मोक्ष तक पहुँचा देगा|’ इस अभिप्राय से भी ऋषि-मुनि इसे ‘प्रणव’ कहते हैं | अपना जप करनेवाले योगियों के तथा अपने मंत्र की पूजा करनेवाले उपासको के समस्त कर्मो का नाश करके यह उन्हें दिव्य नूतन ज्ञान देता है, इसलिए भी इसका नाम प्रणव – प्र (कर्मक्षयपूर्वक) नव (नूतन ज्ञान देनेवाला) है |*

🙏🏻 *इस मायारहित महेश्वर को ही नव अर्थात नूतन कहते हैं | वे परमात्मा प्रधान रूप से नव अर्थात शुद्धस्वरुप है, इसलिए ‘प्रणव’ कहलाते हैं | प्रणव साधक को नव अर्थात नवीन (शिवस्वरूप) कर देता है, इसलिए भी विद्वान पुरुष इसे प्रणव के नाम से जानते हैं अथवा प्र – प्रमुख रूप से नव – दिव्य परमात्म – ज्ञान प्रकट करता है, इसलिए यह प्रणव है |*

🙏🏻 *यद्यपि जीवन्मुक्त के लिए किसी साधन की आवश्यकता नहीं है क्योंकि वह सिद्धरुप है, तथापि दूसरों की दृष्टि में जब तक उसका शरीर रहता है, उसके द्वारा प्रणव – जप की सहज साधना स्वत: होती रहती है | वह अपनी देह का विलय होने तक सूक्ष्म प्रणव मंत्र का जप और उसके अर्थभूत परमात्म-तत्त्व का अनुसंधान करता रहता है | जो अर्थ का अनुसंधान न करके केवल मंत्र का जप करता है, उसे निश्चय ही योग की प्राप्ति होती है | जिसने इस मंत्र का ३६ करोड़ जप कर लिया हो, उसे अवश्य ही योग प्राप्त हो जाता है | ‘अ’ शिव है, ‘उ’ शक्ति है और ‘मकार’ इन दोनों की एकता यह त्रितत्त्वरूप है, ऐसा समझकर ‘ह्रस्व प्रणव’ का जप करना चाहिए | जो अपने समस्त पापों का क्षय करना चाहते हैं, उनके लिए इस ह्रस्व प्रणव का जप अत्यंत आवश्यक है |*

🙏🏻 *वेद के आदि में और दोनों संध्याओं की उपासना के समय भी ॐकार का उच्चारण करना चाहिए | भगवान शिव ने भगवान ब्रम्हाजी और भगवान विष्णु से कहा : “मैंने पूर्वकाल में अपने स्वरूपभूत मंत्र का उपदेश किया है, जो ॐकार के रूप में प्रसिद्ध है | वह महामंगलकारी मंत्र है | सबसे पहले मेरे मुख से ॐकार ( ॐ ) प्रकट हुआ, जो मेरे स्वरूप का बोध करानेवाला है | ॐकार वाचक है और मैं वाच्य हूँ | यह मंत्र मेरा स्वरुप ही है | प्रतिदिन ॐकार का निरंतर स्मरण करने से मेरा ही सदा स्मरण होता है |*

🙏🏻 *मुनीश्वरो ! प्रतिदिन दस हजार प्रणवमंत्र का जप करें अथवा दोनों संध्याओं के समय एक-एक हजार प्रणव का जप किया करें | यह क्रम भी शिवप्रद की प्राप्ति करानेवाला है |*

🙏🏻 *‘ॐ’ इस मंत्र का प्रतिदिन मात्र एक हजार जप करने पर सम्पूर्ण मनोरथों की सिद्धि होती है |*

🙏🏻 *प्रणव के ‘अ’ , ‘उ’ और ‘म’ इन तीनों अक्षरों से जीव और ब्रम्ह की एकता का प्रतिपादन होता है – इस बात को जानकर प्रणव ( ॐ ) का जप करना चाहिए | जपकाल में यह भावना करनी चाहिए कि ‘हम तीनों लोकों की सृष्टि करनेवाले ब्रम्हा, पालन करनेवाले विष्णु तथा संहार करनेवाले रुद्र जो स्वयंप्रकाश चिन्मय हैं, उनकी उपसना करते हैं | यह ब्रम्हस्वरूप ॐकार हमारी कर्मेन्द्रियों और ज्ञानेन्द्रियों की वृत्तियों को, मन की वृत्तियों को तथा बुद्धि की वृत्तियों को सदा भोग और मोक्ष प्रदान करनेवाले धर्म एवं ज्ञान की ओर प्रेरित करें | प्रणव के इस अर्थ का बुद्धि के द्वारा चिंतन करता हुआ जो इसका जप करता है, वह निश्चय ही ब्रम्ह को प्राप्त कर लेता है | अथवा अर्थानुसंधान के बिना भी प्रणव का नित्य जप करना चाहिए |* 🙏🏻 *(‘शिव पुराण’ अंतर्गत विद्धेश्वर संहिता से संकलित)*

👉🏻 *भिन्न-भिन्न काल में ‘ॐ’ की महिमा*

➡ *आर्दा नक्षत्र से युक्त चतुर्दशी के योग में (दिनांक 26 जनवरी 2021 को रात्रि 01:12 से प्रातः 03:12 तक अर्थात् 27 जनवरी 2021 01:12 AM से 03:12 AM तक) प्रणव का जप किया जाय तो वह अक्षय फल देनेवाला होता है |*

पंचक

12 फरवरी रात्रि 2.11 बजे से 16 फरवरी रात्रि 8.55 बजे तक


30 बुधवार मार्गशीर्ष पूर्णिमा व्रत

जनवरी 2021: 

रविवार, 24 जनवरी 2021- पौष पुत्रदा एकादशी

रविवार, 07 फरवरी 2021- षटतिला एकादशी


प्रदोष व्रत

26 जनवरी: भौम प्रदोष व्रत


दर्श अमावस्या, माघ अमावस्या- गुरुवार, 11 फरवरी 2021


मेष 

राजा चंद्र देव वृषभ राशि से निकलकर मिथुन राशि में आ जाएंगे। विद्यार्थियों को पढ़ाई के मामले में कुछ दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है और आपको अपनी संतान की ओर से थोड़ी निराशा हो सकती है, जिसकी वजह से मानसिक तनाव रहेगा। आज आपका कोई छुपा हुआ शत्रु या विरोधी आपको परेशान कर सकता है, इसलिए सतर्क रहें। परिवार वालों के साथ हंसी-खुशी दिन बताएंगे, जिससे चिंताएं थोड़ी कम होंगी। जीवन साथी का सहयोग प्राप्त होगा। बिजनेस में लाभ का योग बनेगा। 

वृष 

आपकी राशि से चंद्र देव का गबन हो जाएगा और मिथुन राशि में गोचर करेंगे तथा द्वादश भाव में मंगल स्थित रहेंगे, जिसकी वजह से कुछ खर्चे जरूर रहेंगे, लेकिन मानसिक तनाव खत्म होगा। दिन शांति के साथ व्यतीत होगा। आर्थिक तौर पर लाभ के योग बनेंगे। राजनीतिक क्षेत्र में भी आपको आज लाभ मिल सकता है। जनसंपर्क का पूरा फायदा मिलेगा। रोजगार के क्षेत्र में कोई खुशखबरी मिल सकती है। कोई नया कांटेक्ट मिलने से आपके बिजनेस की प्रतिष्ठा बढ़ेगी। किसी खास मामले में आपके पिता का सहयोग और आशीर्वाद प्राप्त होगा तथा अपनी संतान से आपको सुखद समाचार मिलेंगे। शाम के समय कुछ गलत लोगों से मिलने के कारण कुछ समस्याएं हो सकती हैं, इसलिए सावधानी रखें और निजी जीवन के लिए भी समय निकालें।

मिथुन 

आपकी राशि में चंद्र देव की उपस्थिति और अष्टम भाव में सूर्य, बृहस्पति, बुध और शनि की की युति होने के कारण आज का दिन संभल कर रहने का होगा। आपकी कोई खास वस्तु के खोने या चोरी हो जाने की संभावना बन सकती है। पारिवारिक जीवन में कोई शुभ और मांगलिक कार्यक्रम कराने की प्लानिंग करेंगे। आर्थिक तौर पर स्थिति मजबूत होगी और आपकी पारिवारिक संपत्ति में भी वृद्धि के स्पष्ट संकेत मिलते हैं। आपकी संतान को आज कोई अच्छी सफलता मिल सकती है। खासतौर से पढ़ाई के क्षेत्र में, जिससे मन में हर्ष की भावना रहेगी। बिजनेस में नए सौदे मिलने से लाभ की स्थिति बन सकती है। विद्यार्थियों को आगे की प्लानिंग करने में समय लगेगा। उसके लिए आज से ही प्रयास करें। आपको किसी अनुभवी व्यक्ति का मार्गदर्शन मिल सकता है। दांपत्य जीवन में स्थितियां नियंत्रण में रहेंगी और दिन सुखद जाएगा।

कर्क 

ग्रहों की स्थिति बता रही है कि आज परिवार के छोटे सदस्यों के साथ अच्छा समय व्यतीत करेंगे और पारिवारिक जनों के साथ किसी लंबी ट्रैवलिंग का प्लान बन सकता है। आज आप के खर्चे थोड़े ज्यादा रहेंगे, लेकिन दूसरी तरफ उत्तम धन प्राप्ति के योग भी बन रहे हैं। आज रोजगार के क्षेत्र में प्रगति मिलेगी और आपका मान-सम्मान भी बढ़ेगा। संतान को लेकर अपने सभी कर्तव्यों का पालन अच्छे से कर पाएंगे, जो लोग नया बिजनेस कर रहे हैं, उन्हें आज लाभ होगा। अपने कार्य क्षेत्र में जो काम आपके हाथ में है, उनसे आप की साख मजबूत होगी और उन कार्यों में सफलता मिलेगी। शाम के समय धार्मिक क्रियाकलापों में समय बिताएंगे। जीवन साथी का स्वास्थ्य परेशान कर सकता है।

सिंह

छठे भाव में चार ग्रहों की उपस्थिति और चंद्रमा का एकादश भाव में होना आर्थिक तौर पर थोड़ा कमजोर स्थिति का संकेत देता है।आज के दिन खर्चों में अधिकता रहेगी और सेहत में गिरावट आ सकती है। आपके विरोधियों की संख्या में बढ़ोतरी हो सकती है, लेकिन वे आपस में ही उलझ कर रह जाएंगे। यदि आप अपने काम पर पूरा ध्यान देंगे, तो नौकरी के सिलसिले में आज का दिन बहुत मजबूत रहेगा और आपको प्रशंसा मिलेगी। पारिवारिक जीवन में छोटे भाई बहनों के साथ अच्छा समय बिताएंगे और निजी जीवन में भी तो रोमांस बना रहेगा। प्रेम जीवन में अपने साथी को मिलने वाली किसी सफलता से आप हर्षित होंगे। आज अपनी प्यारी मीठी बातों से किसी सम्मान के हकदार बन सकते हैं। विद्यार्थियों के लिए आज सफलता से भरा दिन रहेगा। आंखों में समस्या हो सकती है और व्यर्थ की भागदौड़ बनी रहेगी। बिजनेस में विदेशी माध्यमों से सकारात्मक परिणाम मिल सकते हैं।

कन्या 

अष्टम भाव में मंगल दशम भाव में चंद्रमा और चतुर्थ भाव में शुक्र की उपस्थिति पारिवारिक जीवन में संतोष की स्थिति का निर्माण करेगी। किसी नई गाड़ी को खरीदने का विचार करेंगे। काम के सिलसिले में आप की पकड़ मजबूत रहेगी। अपनी बात करने की कला और कार्यकुशलता से अटके हुए काम भी बना पाने में सफल रहेंगे। कार्यक्षेत्र में आपकी तूती बोलेगी। आज आपके किसी दोस्त को आपकी जरूरत पड़ेगी और आप उनकी मदद करेंगे। रोजगार के लिए किए जा रहे प्रयासों में सफलता मिलेगी। संतान को लेकर चिंता थी, आज कुछ हद तक वह दूर हो जाएगी। कानूनी मामला में जीत की खबर मिल सकती है, जिससे पारिवारिक जीवन में खुशी की लहर दौड़ जाएगी।

तुला

ग्रहों की चाल बता रही है कि आज बिजनेस के क्षेत्र में किए गए प्रयास सफल होंगे और नए अवसरों का फायदा मिलेगा। आप की गिनती में बढ़ोतरी होगी। आपके चारों ओर की स्थिति सुखद वातावरण का निर्माण करेगी। घर परिवार के सदस्यों में प्रेम की भावना रहेगी और कोई शुभ मांगलिक कार्य होने की संभावना रहेगी। लेनदेन की समस्या से मुक्ति मिलेगी। कोई कर्ज चुकाने में आज सफलता मिल सकती हैं। आज आपके हाथ में पैसा आ सकता है। निजी जीवन में भी जीवन साथी का पूरा सहयोग मिलेगा और किसी ट्रैवलिंग पर जाने की स्थिति बनेगी। इन्वेस्टमेंट के लिए दिन अनुकूल नहीं है। सरकारी मामलों में सफलता और आर्थिक लाभ संभव है।

वृश्चिक 

राशि से सप्तम भाव में चंद्रमा की उपस्थिति जो बाद में अष्टम भाव में चले जाएंगे। आपके लिए कुछ हद तक अच्छी स्थिति का निर्माण भी करेगी। जोखिम से भरे निवेशकों में आपको सफलता मिल सकती है और किसी तीर्थ स्थान की यात्रा करने से मानसिक तनाव से मुक्ति मिलेगी और मन में शांति की भावना आएगी। शादीशुदा लोगों को ससुराल पक्ष से संबंधों में मधुरता का लाभ मिलेगा और जीवनसाथी का सहयोग भी मिलेगा, लेकिन उनके स्वास्थ्य में गिरावट आ सकती है।कोट कचहरी के मामले में आपको फायदा मिलेगा और रोजगार के क्षेत्र में समस्याओं से मुक्ति मिलने के योग बनेंगे। बिजनेस करने वालों को रामधनी के नए स्रोतों से धन लाभ होने के संकेत मिलते हैं। प्रेम जीवन में आपने जो अधिक अपेक्षाएं बना रखी है। वह आपको आज निराश कर सकती हैं, इसलिए सहृदय बने रहें और ज्यादा उम्मीदें ना पालें।

धनु 

आज का दिन ग्रह चाल के अनुरूप साझेदारी में किए जा रहे कामों में कुछ भी दिन पढ़ सकते हैं, इसलिए सतर्क रहें। विद्यार्थियों को सफलता प्राप्त करने के लिए ज्यादा प्रयास करने पड़ेंगे, लेकिन प्रतियोगिता में सफलता मिल सकती है। राजनीति के क्षेत्र से जुड़े लोगों के लिए आज का दिन अनुकूल रहेगा। आज आपके काम की तारीफ होगी। यहां तक कि आपके विरोधी भी आपकी प्रशंसा कर सकते हैं। आपको शासन और प्रशासन के लोगों से निकटता का लाभ मिल सकता है। आज ससुराल से कोई लाभ मिलने की संभावना बनेगी। यदि आप कोई पैतृक व्यवसाय करते हैं, तो उसमें आगे बढ़ने के लिए परिवार के लोगों से विचार-विमर्श करेंगे। शाम को समय कुछ सांस्कृतिक क्रियाकलापों में भाग लेने का मौका मिलेगा। दांपत्य जीवन में प्रेम की बढ़ोतरी होगी और जीवन साथी से संबंध सुधरेंगे।

मकर 

चतुर्थ भाव में मंगल और राशि में सूर्य, बुध, बृहस्पति और शनि की युति बनी रहेगी और द्वादश भाव में शुक्र भी अपनी गति से गतिमान रहेंगे। आज आपको सामाजिक क्षेत्र में अपनी प्रतिष्ठा का एहसास होगा और आप अपने सभी पारिवारिक दायित्वों का भली प्रकार पालन करेंगे। इसके परिणाम स्वरूप पारिवारिक और आर्थिक मामलों में आज आपको अच्छी सफलता मिल सकती है। रोजगार के मामले में चल रहे प्रयास कारगर रहेंगे और नौकरी मिलने की संभावना रहेगी। आप जहां जॉब करते हैं, वहां अपने साथ काम कर रहे लोगों का सहयोग और प्रेम प्राप्त होगा, जिससे आपकी स्थिति प्रबल होगी। यदि आप अभी तक अविवाहित हैं, तो आज आपको कोई खुशी से भरा समाचार मिलेगा। आज अपने माता पिता के स्वास्थ्य का ध्यान रखें और शाम के समय किसी से भी व्यर्थ के झगड़े में ना पड़े। आज घर में अतिथियों के आगमन के अच्छे संकेत बन रहे हैं। उनके आदर सत्कार में कोई कमी ना छोड़ें।

कुंभ

ग्रहों की चाल बता रही है कि आज विद्यार्थियों को शिक्षा के मामले में कुछ नया अवसर मिल सकता है, लेकिन अपने ऐसे दोस्त से सावधान रहें, जो आज आप को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर सकता है और विश्वासघात कर सकता है। इससे आपको मानसिक तनाव भी मिल सकता है। पारिवारिक जीवन सुखद रहेगा और भाई बहनों के साथ संबंधों में भी सुधार देखने को मिलेगा। आपको अपनी वाणी पर नियंत्रण रखना होगा क्योंकि इसकी वजह से प्रेम जीवन में तनाव बढ़ सकता है और दरार आ सकती है। आज कोई ऐसा समाचार मिल सकता है, जिसकी वजह से आपको अचानक से ट्रैवलिंग करनी पड़ेगी। आज नाना नानी का प्यार महसूस करने का मौका मिलेगा। आपके कैरियर में आज अच्छी तरक्की का दिन है। बिजनेस में भी सुधारात्मक स्थितियां बनी रहेंगी। विदेशों से कोई अच्छा समाचार मिलने की संभावना रहेगी। सेहत में गिरावट आ सकती है, इसे नजर अंदाज ना करें।

मीन 

राशि स्वामी की एकादश भाव में सूर्य शनि और बुध के साथ उपस्थिति तथा चंद्रमा का तीसरे भाव से होते हुए चौथे भाव में प्रवेश करना पारिवारिक जीवन में सुखद माहौल का निर्माण करेगा। आपकी माता जी से संबंधों में सुधार होगा, लेकिन दांपत्य जीवन में तनाव बढ़ सकता है। जीवन साथी से छोटी-छोटी बातों पर विवाद करने से बचना चाहिए। विद्यार्थियों को भविष्य की नई-नई योजनाओं पर काम करने का मौका मिलेगा और वह तैयारी करेंगे। आज के दिन किसी से भी पैसों का लेनदेन करने से बचे। खासतौर से अपने रिश्तेदारों से नहीं, तो इससे आपके संबंध बिगड़ सकते हैं। आज किसी धार्मिक यात्रा पर जाने अथवा दान पुण्य करने का सौभाग्य मिल सकता है, लेकिन यात्रा ज्यादा सुखद नहीं होगी, इसलिए सावधानी से जाएं। नौकरी पेशा लोगों के लिए दिन मजबूत रहेगा और बिजनेस में भी लाभ की अच्छी स्थिति का निर्माण हो रहा है। आज आप के सम्मान में बढ़ोतरी होगी।

जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं


दिनांक 25 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 7 होगा। यह अंक वरूण ग्रह से संचालित होता है। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति अपने आप में कई विशेषता लिए होते हैं। आप खुले दिल के व्यक्ति हैं। आप पैनी नजर के होते हैं। किसी के मन की बात तुरंत समझने की आपमें दक्षता होती है। आपकी प्रवृत्ति जल की तरह होती है। जिस तरह जल अपनी राह स्वयं बना लेता है वैसे ही आप भी तमाम बाधाओं को पार कर अपनी मंजिल पाने में कामयाब होते हैं। 

 

शुभ दिनांक : 7, 16, 25 

 

शुभ अंक : 7, 16, 25, 34 




  

शुभ वर्ष : 2023

 

ईष्टदेव : भगवान शिव तथा विष्णु  


 

शुभ रंग : सफेद, पिंक, जामुनी, मेहरून    

 

कैसा रहेगा यह वर्ष

नौकरीपेशा व्यक्तियों के लिए समय सुखकर रहेगा। नवीन कार्य-योजना शुरू करने से पहले केसर का लंबा तिलक लगाएं। आपके कार्य में तेजी का वातावरण रहेगा। आपको प्रत्येक कार्य में जुटकर ही सफलता मिलेगी। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति उत्तम रहेगी। अधिकारी वर्ग का सहयोग मिलेगा। मंदिर में पताका चढ़ाएं

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा