श्री राम काॅलेज में नैक मूल्यांकन पर संगोष्ठी में चर्चा

 मुजफ्फरनगर । श्रीराम ग्रुप आॅफ कालिजेज के कॉन्फ्रेन्स हॉल में श्रीराम काॅलेज के आगामी नैक  मूल्याकंन के सम्बन्ध में विभागो को जानकारी प्रदान करने के उद्देश्य से एक संगोष्ठी का आयोजन प्रशासन एवं सरकार द्वारा कोविड से सम्बन्धित जारी दिशा निर्देशों का पालन करते हुए किया गया। संगोष्ठी में श्रीराम ग्रुप आॅफ काॅलिजेज के चेयरमेन डाॅ एससी कुलश्रेष्ठ व श्रीराम काॅलेज आॅफ इंजीनियरिंग की डीन एकेडमिक ई साक्षी श्रीवास्तव मुख्य वक्ता रहें।


इस अवसर पर डीन एकेडमिक इं साक्षी श्रीवास्तव ने बताया कि वर्तमान समय में शिक्षा की गुणवत्ता को बढाने के लिये सरकार ने सभी शैक्षिक संस्थानों को नैक मूल्यांकन अनिवार्य किया गया है। नैक मूल्यांकन के पहले बिन्दु पर विस्तार से जानकारी देते हुए कहा कि राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद शैक्षिक सस्थानों के मूल्याकन के दौरान उच्च शिक्षा तथा शिक्षण संस्थानों के आंकलन तथा प्रत्यायन का कार्य शैक्षिक प्रक्रियाओं में संस्था का प्रदर्शन, पाठयक्रम चयन एवं कार्यान्वयन, शिक्षा अधिगम एवं मूल्यांकन तथा छात्रों के परिणाम, संकाय सदस्यांे का अनुसंधान कार्य एवं प्रकाशन, बुनियादी सुविधायें, संसाधनों की स्थिति, संगठन, प्रशासन व्यवस्था, आर्थिक स्थिति तथा छात्र सेवाओं आदि मानदंडों के आधार पर मूल्यांकन करके उन्हें ग्रेड प्रदान करती है। उन्होंने कहा कि नैक मूल्यांकन का उददेश्य शिक्षा के स्तर को उच्च बनाने के साथ-साथ सभी महाविद्यालयों में विद्यार्थियों को समस्त शैक्षिक सुविधायें उपलब्ध कराना है जिससे विद्यार्थियो में तकनीकी एवं व्यवसायिक कौशल का विकास हो सके तथा वे देश और समाज के उत्थान में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन कर सकें। 


इस अवसर पर श्रीराम ग्रुप आफ कालिजेज के चेयरमैन डा0 एस0सी0कुलश्रेष्ठ ने कहा कि इस संगोष्ठी का मूल उददेश्य सस्थान के सभी विभागाध्यक्षों एवं शिक्षकों को नैक मूल्यांकन की सम्पूर्ण जानकारी एवं प्रक्रिया से अवगत कराना है। उन्होने पहले मानदण्ड के विभिन्न पहलूओं पर प्रकाश डालते हुए कहा कि हम हमेशा से ही उच्च शिक्षा के मानदण्डों को पूरा करते आये है तथा हमारा हमेशा से ही प्रयास रहा है कि हम विद्यार्थी को नवोन्मेषी शिक्षा प्रदान कर समाज एवं देश के प्रति सस्थान की जिम्मेदारी को बेहतर तरीके से निर्वाह करे साथ ही विद्यार्थियों में उन समस्त गुणों को भी विकसित करें जो उन्हें भविष्य में सफल बनाने के साथ-साथ एक अच्छा इंसान भी बनाये। 

इस अवसर पर श्रीराम काॅलेज के निदेशक डा0 आदित्य गौतम, श्रीराम काॅलेज की प्राचार्य डाॅ0 प्रेरणा मित्तल, श्रीराम कालेज आॅफ इंजीनियरिंग के निदेशक डा0 आलोक गुप्ता, डाॅ0 विनीत कुमार, डीन एकेडमिक, पंकज कुमार डीन मैनेजमेन्ट, श्रीराम गल्र्स काॅलेज के निदेशक डा0 मनोज धीमान तथा श्रीराम गु्रप आॅफ कालिजेज के सभी संकायों के विभागाध्यक्ष उपस्थित रहें।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा