सरकार पर दबाव डालने के लिए अब भूख हड़ताल करेंगे आंदोलनकारी


नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली की प्रमुख सीमाओं पर किसानों का आंदोलन अनवरत जारी है। रविवार को संयुक्त किसान मोर्चा समन्वय समिति की बैठक हुई। इसमें फैसला लिया गया कि 21 दिसंबर से 24 घंटे रिले हंगर स्ट्राइक शुरू की जाएगी। देशभर में जहां भी धरना चल रहा है, वहां के किसानों से रिले हंगर स्ट्राइक में शामिल होने की अपील की गई है। इसकी शुरुआत 11 लोगों के साथ होगी। इसके अलावा किसानों के समर्थन में 23 दिसंबर को किसान दिवस के मौके पर देशवासियों से एक समय का खाना त्यागने की अपील भी की गई है।

संयुक्त किसान मोर्चा समन्वय समिति की बैठक में हुए फैसले के मुताबिक, 21 दिसंबर से 24 घंटे रिले हंगर स्ट्राइक शुरू होगी।देशभर में जहां भी धरना चल रहा है, उन सबसे इसमें शामिल होने की अपील की गई है। 11 लोगों के साथ इसकी शुरुआत होगी।

समिति ने कहा कि 23 दिसंबर को पूरा देश चौधरी चरण सिंह का जन्मदिन मनाता है। यह किसान दिवस के रूप में जाना जाता है। देश के लोगों से किसानों ने अपील की है कि वे एक टाइम का खाना छोड़कर किसानों का समर्थन करें। पूरे दुनिया में जहां-जहां भारतीय हैं उनसे भी अपील की गई है कि वे इसे समर्थन दें।

फैसले के अनुसार, 26 दिसंबर को एनडीए के साथी संगठनों को किसानों की तरफ से एक मैसेज दिया जाएगा कि आप सरकार के भागीदार हैं। आप केंद्र सरकार से अपील करें कि सरकार इन कानूनों को वापस ले।

किसानों का कहना है कि प्रधानमंत्री 27 दिसंबर को मन की बात करेंगे। उन्होंने कहा कि पूरे देश ने जिस तरह थाली बजाई थी। उसी तरह देशवासियों से अपील है कि इस दिन जितनी देर तक मन की बात चले उतनी देर अपने-अपने घरों पर थालियां बजाकर हमें समर्थन दें।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा