आज का पंचांग और राशिफल 25 दिसंबर 2020


🌞 ~ *आज का पंचांग* ~ 🌞

⛅ *दिनांक 25 दिसम्बर 2020*

⛅ *दिन - शुक्रवार*

⛅ *विक्रम संवत - 2077*

⛅ *शक संवत - 1942*

⛅ *अयन - दक्षिणायन*

⛅ *ऋतु - शिशिर*

⛅ *मास - मार्गशीर्ष*

⛅ *पक्ष - शुक्ल* 

⛅ *तिथि - एकादशी 26 दिसम्बर रात्रि 01:54 तक तत्पश्चात द्वादशी*

⛅ *नक्षत्र - अश्विनी सुबह 07:37 तक तत्पश्चात भरणी*

⛅ *योग - शिव दोपहर 02:37 तक तत्पश्चात सिद्ध*

⛅ *राहुकाल - सुबह 11:18 से दोपहर 12:39 तक*

⛅ *सूर्योदय - 07:14* 

⛅ *सूर्यास्त - 18:03* 

⛅ *दिशाशूल - पश्चिम दिशा में*

⛅ *व्रत पर्व विवरण - मोक्षदा एकादशी, श्रीमद् भगवद्गीता जयंती, तुलसी पूजन दिवस*

 💥 *विशेष - हर एकादशी को श्री विष्णु सहस्रनाम का पाठ करने से घर में सुख शांति बनी रहती है lराम रामेति रामेति । रमे रामे मनोरमे ।। सहस्त्र नाम त तुल्यं । राम नाम वरानने ।।*

💥 *आज एकादशी के दिन इस मंत्र के पाठ से विष्णु सहस्रनाम के जप के समान पुण्य प्राप्त होता है l*

💥 *एकादशी के दिन बाल नहीं कटवाने चाहिए।*

💥 *एकादशी को चावल व साबूदाना खाना वर्जित है | एकादशी को शिम्बी (सेम) ना खाएं अन्यथा पुत्र का नाश होता है।*

💥 *जो दोनों पक्षों की एकादशियों को आँवले के रस का प्रयोग कर स्नान करते हैं, उनके पाप नष्ट हो जाते हैं।*

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


🌷  *तुलसी* 🌷

➡ *25 दिसम्बर को तुलसी पूजन दिवस है ।*

🙏🏻 *प्राचीन काल से ही यह परंपरा चली आ रही है कि घर में तुलसी का पौधा होना चाहिए। शास्त्रों में तुलसी को पूजनीय, पवित्र और देवी स्वरूप माना गया है, इस कारण घर में तुलसी हो तो कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। यदि ये बातें ध्यान रखी जाती हैं तो सभी देवी-देवताओं की विशेष कृपा हमारे घर पर बनी रहती है। घर में सकारात्मक और सुखद वातावरण बना रहता है, पैसों की कमी नहीं आती है और परिवार के सदस्यों को स्वास्थ्य लाभ प्राप्त होता है। यहां जानिए शास्त्रों के अनुसार बताई गई तुलसी के संबंध में 8 खास बातें…*

🌿 *1. इन दिनों में नहीं तोड़ना चाहिए तुलसी के पत्ते-*

*शास्त्रों के अनुसार तुलसी के पत्ते कुछ खास दिनों में नहीं तोड़ने चाहिए। ये दिन हैं अमावश्या, पूनम,द्ववादशी, रविवार और सूर्य या चंद्र ग्रहण काल। इन दिनों में और रात के समय तुलसी के पत्ते नहीं तोड़ने चाहिए। बिना उपयोग तुलसी के पत्ते कभी नहीं तोड़ने चाहिए। ऐसा करने पर व्यक्ति को दोष लगता है। अनावश्यक रूप से तुलसी के पत्ते तोड़ना, तुलसी को नष्ट करने के समान माना गया है।*

🌿 *2. रोज करें तुलसी का पूजन-*

*हर रोज तुलसी पूजन करना चाहिए  साथ ही यहां बताई जा रही सभी बातों का भी ध्यान रखना चाहिए। साथ ही, हर शाम तुलसी के पास दीपक लगाना चाहिए। ऐसी मान्यता है कि जो लोग शाम के समय तुलसी के पास दीपक लगाते हैं, उनके घर में महालक्ष्मी की कृपा सदैव बनी रहती है।*

🌿 *3. तुलसी से दूर होते हैं वास्तु दोष-*

*तुलसी घर-आंगन में होने से कई प्रकार के वास्तु दोष भी समाप्त हो जाते हैं और परिवार की आर्थिक स्थिति पर शुभ असर होता है।*

🌿 *4. तुलसी का पौधा घर में हो तो नहीं लगती है बुरी नजर-*

*ऐसी मान्यता है कि तुलसी का पौधा होने से घर वालों को बुरी नजर प्रभावित नहीं कर पाती है। साथ ही, सभी प्रकार की नकारात्मक ऊर्जा सक्रिय नहीं हो पाती है। सकारात्मक ऊर्जा को बल मिलता है।*

🌿 *5. तुलसी का सूखा पौधा नहीं रखना चाहिए घर में-*

*यदि घर में लगा हुआ तुलसी का पौधा सूख जाता है तो उसे किसी पवित्र नदी में या तालाब में या कुएं में प्रवाहित कर देना चाहिए। तुलसी का सूखा पौधा घर में रखना अशुभ माना जाता है।*

🌿 *6. सूखा पौधा हटाने के बाद तुरंत लगा लेना चाहिए तुलसी का दूसरा पौधा-* 

*एक पौधा सूख जाने के बाद तुरंत ही दूसरा तुलसी का पौधा लगा लेना चाहिए। सूखा हुआ तुलसी का पौधा घर में होने से बरकत पर बुरा असर पड़ सकता है। इसी वजह से घर में हमेशा पूरी तरह स्वस्थ तुलसी का पौधा ही लगाया जाना चाहिए।*

🌿 *7. तुलसी है औषधि भी-* 

*तुलसी का धार्मिक महत्व तो है, साथ ही आयुर्वेद में इसे संजीवनीबूटी के समान माना जाता है। तुलसी में कई ऐसे गुण होते हैं जो कई बीमारियों को दूर करने और उनकी रोकथाम करने में सहायक हैं। तुलसी का पौधा घर में रहने से उसकी सुगंध वातावरण को पवित्र बनाती है और हवा में मौजूद बीमारी फैलाने वाले कई सूक्ष्म कीटाणुओं को नष्ट कर देती है।*

🌿 *8. रोज तुलसी की एक पत्ती सेवन करने से मिलते हैं ये फायदे-*

*तुलसी की सुंगध हमें श्वास संबंधी कई रोगों से बचाती है। साथ ही, तुलसी की एक पत्ती रोज सेवन करने से हम सामान्य बुखार से बचे रहते हैं। मौसम परिवर्तन के समय होने वाली स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से बचाव हो सकता है। तुलसी की पत्ती सेवन करने से हमारे शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता काफी बढ़ जाती है, लेकिन हमें नियमित रूप से तुलसी की पत्ती का सेवन करते रहना चाहिए।*

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


🌷 *श्रीमद् भगवद्गगीता जयंती* 🌷

👉🏻 *गतांक से आगे......*

🙏🏻 *जानिए भगवद् गीता के 9 बेहतरीन मैनेजमेंट सूत्र जिनमे छुपा है आपकी हर परेशानी का हल*

🌷 *4 श्लोक*

*विहाय कामान् य: कर्वान्पुमांश्चरति निस्पृह:।*

*निर्ममो निरहंकार स शांतिमधिगच्छति।।*

🙏🏻 *अर्थ- जो मनुष्य सभी इच्छाओं व कामनाओं को त्याग कर ममता रहित और अहंकार रहित होकर अपने कर्तव्यों का पालन करता है, उसे ही शांति प्राप्त होती है।*

➡ *मैनेजमेंट सूत्र - यहां भगवान श्रीकृष्ण कहते हैं कि मन में किसी भी प्रकार की इच्छा व कामना को रखकर मनुष्य को शांति प्राप्त नहीं हो सकती। इसलिए शांति प्राप्त करने के लिए सबसे पहले मनुष्य को अपने मन से इच्छाओं को मिटाना होगा। हम जो भी कर्म करते हैं, उसके साथ अपने अपेक्षित परिणाम को साथ में चिपका देते हैं। अपनी पसंद के परिणाम की इच्छा हमें कमजोर कर देती है। वो ना हो तो व्यक्ति का मन और ज्यादा अशांत हो जाता है। मन से ममता अथवा अहंकार आदि भावों को मिटाकर तन्मयता से अपने कर्तव्यों का पालन करना होगा। तभी मनुष्य को शांति प्राप्त होगी।*

🌷 *5 श्लोक*

*न हि कश्चित्क्षणमपि जातु तिष्ठत्यकर्मकृत्।*

*कार्यते ह्यश: कर्म सर्व प्रकृतिजैर्गुणै:।।*

🙏🏻 *अर्थ- कोई भी मनुष्य क्षण भर भी कर्म किए बिना नहीं रह सकता। सभी प्राणी प्रकृति के अधीन हैं और प्रकृति अपने अनुसार हर प्राणी से कर्म करवाती है और उसके अनुसार  परिणाम भी देती है।*

➡ *मैनेजमेंट सूत्र- बुरे परिणामों के डर से अगर ये सोच लें कि हम कुछ नहीं करेंगे तो ये हमारी मूर्खता है। खाली बैठे रहना भी एक तरह का कर्म ही है, जिसका परिणाम हमारी आर्थिक हानि, अपयश और समय की हानि के रूप में मिलता है। सारे जीव प्रकृति यानी परमात्मा के अधीन हैं, वो हमसे अपने अनुसार कर्म करवा ही लेगी। और उसका परिणाम भी मिलेगा ही। इसलिए कभी भी कर्म के प्रति उदासीन नहीं होना चाहिए, अपनी क्षमता और विवेक के आधार पर हमें निरंतर कर्म करते रहना चाहिए।*

🌷 *6 श्लोक*

*नियतं कुरु कर्म त्वं कर्म ज्यायो ह्यकर्मण:।*

*शरीरयात्रापि च ते न प्रसिद्धयेदकर्मण:।।*

🙏🏻 *अर्थ- तू शास्त्रों में बताए गए अपने धर्म के अनुसार कर्म कर, क्योंकि कर्म न करने की अपेक्षा कर्म करना श्रेष्ठ है तथा कर्म न करने से तेरा शरीर निर्वाह भी नहीं सिद्ध होगा।*

➡ *मैनेजमेंट सूत्र- श्रीकृष्ण अर्जुन के माध्यम से मनुष्यों को समझाते हैं कि हर मनुष्य को अपने-अपने धर्म के अनुसार कर्म करना चाहिए जैसे- विद्यार्थी का धर्म है विद्या प्राप्त करना, सैनिक का कर्म है देश की रक्षा करना। जो लोग कर्म नहीं करते, उनसे श्रेष्ठ वे लोग होते हैं जो अपने धर्म के अनुसार कर्म करते हैं, क्योंकि बिना कर्म किए तो शरीर का पालन-पोषण करना भी संभव नहीं है। जिस व्यक्ति का जो कर्तव्य तय है, उसे वो पूरा करना ही चाहिए।*

🌷 *7 श्लोक*

*यद्यदाचरति श्रेष्ठस्तत्तदेवेतरो जन:।*

*स यत्प्रमाणं कुरुते लोकस्तदनुवर्तते।।*

🙏🏻 *अर्थ- श्रेष्ठ पुरुष जैसा आचरण करते हैं, सामान्य पुरुष भी वैसा ही आचरण करने लगते हैं। श्रेष्ठ पुरुष जिस कर्म को करता है, उसी को आदर्श मानकर लोग उसका अनुसरण करते हैं।*

➡ *मैनेजमेंट सूत्र- यहां भगवान श्रीकृष्ण ने बताया है कि श्रेष्ठ पुरुष को सदैव अपने पद व गरिमा के अनुसार ही व्यवहार करना चाहिए, क्योंकि वह जिस प्रकार का व्यवहार करेगा, सामान्य मनुष्य भी उसी की नकल करेंगे। जो कार्य श्रेष्ठ पुरुष करेगा, सामान्यजन उसी को अपना आदर्श मानेंगे। उदाहरण के तौर पर अगर किसी संस्थान में उच्च अधिकार पूरी मेहनत और निष्ठा से काम करते हैं तो वहां के दूसरे कर्मचारी भी वैसे ही काम करेंगे, लेकिन अगर उच्च अधिकारी काम को टालने लगेंगे तो कर्मचारी उनसे भी ज्यादा आलसी हो जाएंगे।*

🌷 *8 श्लोक*

*न बुद्धिभेदं जनयेदज्ञानां कर्म संगिनाम्।*

*जोषयेत्सर्वकर्माणि विद्वान्युक्त: समाचरन्।।*

🙏🏻 *अर्थ- ज्ञानी पुरुष को चाहिए कि कर्मों में आसक्ति वाले अज्ञानियों की बुद्धि में भ्रम अर्थात कर्मों में अश्रद्धा उत्पन्न न करे किंतु स्वयं परमात्मा के स्वरूप में स्थित हुआ और सब कर्मों को अच्छी प्रकार करता हुआ उनसे भी वैसे ही कराए।*

➡ *मैनेजमेंट सूत्र- ये प्रतिस्पर्धा का दौर है, यहां हर कोई आगे निकलना चाहता है। ऐसे में अक्सर संस्थानों में ये होता है कि कुछ चतुर लोग अपना काम तो पूरा कर लेते हैं, लेकिन अपने साथी को उसी काम को टालने के लिए प्रोत्साहित करते हैं या काम के प्रति उसके मन में लापरवाही का भाव भर देते हैं। श्रेष्ठ व्यक्ति वही होता है जो अपने काम से दूसरों के लिए प्रेरणा का स्रोत बनता है। संस्थान में उसी का भविष्य सबसे ज्यादा उज्जवल भी होता है।*

🌷 *9श्लोक*

*ये यथा मां प्रपद्यन्ते तांस्तथैव भजाम्यहम्।*

*म वत्र्मानुवर्तन्ते मनुष्या पार्थ सर्वश:।।*

🙏🏻 *अर्थ- हे अर्जुन। जो मनुष्य मुझे जिस प्रकार भजता है यानी जिस इच्छा से मेरा स्मरण करता है, उसी के अनुरूप मैं उसे फल प्रदान करता हूं। सभी लोग सब प्रकार से मेरे ही मार्ग का अनुसरण करते हैं।*

➡ *मैनेजमेंट सूत्र- इस श्लोक के माध्यम से भगवान श्रीकृष्ण बता रहे हैं कि संसार में जो मनुष्य जैसा व्यवहार दूसरों के प्रति करता है, दूसरे भी उसी प्रकार का व्यवहार उसके साथ करते हैं। उदाहरण के तौर पर जो लोग भगवान का स्मरण मोक्ष प्राप्ति के लिए करते हैं, उन्हें मोक्ष की प्राप्ति होती है। जो किसी अन्य इच्छा से प्रभु का स्मरण करते हैं, उनकी वह इच्छाएं भी प्रभु कृपा से पूर्ण हो जाती है। कंस ने सदैव भगवान को मृत्यु के रूप में स्मरण किया। इसलिए भगवान ने उसे मृत्यु प्रदान की। हमें परमात्मा को वैसे ही याद करना चाहिए, जिस रुप में हम उसे पाना चाहते हैं।*

🙏

मेष 

ग्रहों की स्थिति आज आपके लिए फायदे का दिन लेकर आई है। जमीन जायदाद से जुड़े मामलों में आपको सफलता मिलेगी और आज कोई नई प्रॉपर्टी खरीदने में भी सफल हो सकते हैं। आप पूरी तरह से कॉन्फिडेंट रहेंगे और जिस काम को भी आज करेंगे, उसमें सफलता पाना ही चाहेंगे और काफी हद तक सफल भी रहेंगे। भाग्य आपके साथ रहेगा, जिससे काम बनते चले जाएंगे। दांपत्य जीवन में तनाव खत्म होगा और प्यार भरे समय की प्राप्ति होगी। पारिवारिक जीवन से आज आपको खुशियां मिलेंगी और आज अपनी सेहत को अच्छा बनाने के लिए कोई नई सेहत से जुड़ी आदत अपना सकते हैं।

वृष 

ग्रह सितारों की चाल यह इशारा कर रही है कि आज खर्चों से भरा दिन बीतेगा। कुछ जरूरी खर्चे भी होंगे और कुछ बेवजह के लेकिन आज आपकी जेब पर बोझ जरूर पड़ेगा। जीवन साथी के साथ शॉपिंग करने का मौका भी मिलेगा और वह भरपूर खर्च कर आएंगे, लेकिन बिजनेस करने वालों को आज बेहद अच्छे लाभ की उम्मीद मिल सकती है। आज आपका कुछ इन्वेस्टमेंट बिजनेस को लेकर भी हो सकता है, जो आने वाले समय में आपको लाभ देगा। दांपत्य जीवन में तनाव बढ़ सकता है। इसकी और ध्यान दें। मानसिक रूप से कुछ अजीब सा व्यवहार करेंगे, क्योंकि आपको किसी बात को लेकर चिड़चिड़ाहट हो सकती है।

मिथुन 

आज खर्चों से दूर आमदनी में बढ़ोतरी आपका स्वागत करेगी। आज पूर्व में किए गए प्रयास सफल रहेंगे और आपकी इनकम बढ़ती हुई नजर आएगी। अगर आपने कहीं निवेश  किया हुआ था, तो आज उसका अच्छा रिटर्न मिल सकता है और यदि किसी को अपना पैसा उधार दिया हुआ था, तो आज वह पैसा लौट कर वापस आ सकता है, जिससे आप काफी हर्षित होंगे। प्रेम जीवन में आज का दिन और रोमांस तो बढ़ाएगा, लेकिन कुछ तीखी झड़प भी करवा सकता है। फिर भी आप खुश रहेंगे। सेहत के लिए समझौता करने से बचें और अपने खानपान पर पूरा ध्यान दें। निजी जीवन आपको खुशी देगा।

कर्क 

ग्रहों की चाल आज आपके पक्ष में रहेगी, जिससे आप अपने काम में मजबूत बनेंगे। आपके लिए आज नौकरी में कुछ नए काम भी इंतजार करेंगे, जिनको आप हाथ में लेकर बहुत सरलता से अपना काम अंजाम तक पहुंचाएंगे, जिसकी वजह से आपको तारीफ भी मिलेगी। निजी जीवन में आज का दिन खुशनुमा रहेगा और जीवन साथी के साथ साथ आपके परिवार वाले भी आपके सपोर्ट में नजर आएंगे। बिजनेस के लिए दिन थोड़ा सा कमजोर हो सकता है, इसलिए बिना समझे निवेश करने से बचें। प्रेम जीवन बिता रहे लोग कुछ परेशान रहेंगे।

सिंह 

सितारों की चाल यह दर्शा रही है कि आज भाग्य आपके साथ खड़ा है। आज कम मेहनत से भी अच्छे लाभ कि आप उम्मीद कर सकते हैं और जिन योजनाओं में आपने निवेश किया था, वह आज आपको लाभ दे सकती हैं। आर्थिक तौर पर आज का दिन बेहद मजबूत रहेगा। विदेश जाने के योग बन सकते हैं या फिर कोई लंबी ट्रैवलिंग पर जाने की योजना साकार हो सकती है। आपका भाग्य भी प्रबल होगा और परिवार के लिए कुछ नया खरीद सकते हैं। प्रॉपर्टी में निवेश के लिए दिन अच्छा है।

कन्या 

आज आपको थोड़ा सावधान रहना होगा क्योंकि ग्रह स्थिति यह दर्शा रही है की सेहत में बड़ी तेज गिरावट आ सकती है और आप बीमार पड़ सकते हैं। तेज मसालों से युक्त भोजन करना आपकी सेहत और आपके पेट को नुकसान दे सकता है तथा ब्लड इंफेक्शन हो सकता है। सावधानी से दिनचर्या का पालन करें। किसी से भी कडवा ना बोले बहुत सोच समझकर बातचीत करें। जीवनसाथी को स्वास्थ्य समस्याएं परेशान कर सकती हैं। गुप्त स्रोतों से धन की आवक हो सकती है।

तुला 

आज का दिन बिज़नेस करने के लिए बेहद अच्छा है। यदि किसी नए व्यक्ति से मिलना हो, तो आज आपको सफलता मिलेगी। पार्टनरशिप में बिजनेस करने वाले पूरे कॉन्फिडेंस में नजर आएंगे और आज आप बिजनेस मुनाफा भी अर्जित करेगे। आप को सामाजिक तौर पर अच्छा सम्मान मिल सकता है और यदि आप नौकरीपेशा भी हैं, तो आज आपको प्रमोशन से संबंधित कोई शुभ सूचना मिल सकती है। गृहस्थ जीवन में तालमेल बढ़ेगा और एक दूसरे के प्रति अपनेपन की भावना बढ़ेगी। खुद पर विश्वास बढ़ेगा, जिससे दिन बढ़िया जाएगा।


वृश्चिक 

ग्रह इशारा कर रहे हैं कि आज बड़ा निवेश करने से बचे क्योंकि यह नुकसानदायक हो सकता है। अपनी सेहत के प्रति लापरवाही भरा रवैया आपको बीमार बना सकता है। कहीं चोट भी लग सकती है, इसलिए सावधान रहें और गाड़ी भी सावधानी से चलाएं, लेकिन नौकरी पेशा लोगों के लिए आज का दिन बेहद अनुकूल बीतेगा और अपनी मेहनत आपको साफ नजर आएगी, जिससे आपको बेहद अच्छे नतीजे मिलेंगे। निजी जीवन में कुछ समस्याएं आ सकती हैं, लेकिन आप अपने साहस के बल पर चुनौतियों का सामना करके उन पर जीत हासिल करेंगे। कोर्ट कचहरी से जुड़े मामलों में सफलता मिलेगी।

धनु 

आज का दिन आपके प्रेम जीवन के लिए बेहद खुशगवार दिन रहेगा। रिश्ते में थोड़े अधीर भी रहेंगे और उनसे मिलने की इच्छा बहुत तीव्र होगी, मिलने के बाद दिल में उन्हें अपने मन के हर बात कहने की इच्छा भी जागेगी। यानी कि आज का दिन प्रेम जीवन व्यतीत कर रहे लोगों के लिए बेहद अच्छा रहेगा। नौकरी पेशा लोगों को थोड़ी सावधानी रखनी पड़ेगी क्योंकि आज कुछ आपसे गड़बड़ हो सकती हैं। आज आपको धन प्राप्ति के योग बनेंगे, जो आपके चेहरे पर मुस्कुराहट लेकर आएंगे और सेहत आपका साथ देगी।

मकर 

आज का दिन पारिवारिक जीवन में खुशियां लेकर आएगा। आपको गाड़ी खरीदने या फिर मकान खरीदने की योजना बनाएंगी और उसमें परिवार वालों से विचार-विमर्श भी करेंगे। यदि पहले से ही फाइनल किया हुआ है, तो आज आपके हाथ उसकी चाबी लग सकती है। काम के सिलसिले में आज आप की मजबूत स्थिति रहेगी। आपके बॉस भी आपसे प्रभावित रहेंगे और आप के प्रभाव में रहेंगे। यानी आज का दिन आपके लिए बेहद अनुकूल रहेगा। केवल दांपत्य जीवन में कुछ तनाव हो सकता है क्योंकि जीवन साथी आपकी किसी बात से नाराज हो सकते हैं। सेहत अच्छी रहेगी।

कुंभ 

आज का दिन मान आपके लिए अनुकूलता दिखा रहा है। प्रयासों में बढ़ोतरी होगी, जिससे आपको अच्छा लाभ भी मिलेगा। अपने विरोधियों पर आप भारी पड़ेंगे और जहां आप काम करते हैं। वहां साथ काम करने वाले लोग भी पूरी तरह से आपके पक्ष में खड़े नजर आएंगे, जिससे आपको कार्य क्षेत्र में अच्छा सम्मान मिलेगा। कहीं से धन प्राप्ति की खुशखबरी भी मिलेगी। हल्के खर्चे जरूर होंगे, लेकिन आपके लिए चिंता का कारण नहीं बनेंगे। आज आप भाई बहनों के साथ कहीं घूमने जा सकते हैं। सेहत अच्छी होने से कामों में सफलता मिलेगी।

मीन 

आज का दिन मान ग्रहों के अनुसार आपके पक्ष में आ सकता है, लेकिन सेहत का ध्यान जरूर रखें। लापरवाही भरा जीवन बिताना आपको नुकसान दे सकता है। मिर्च मसालों से परहेज करें। अच्छा भोजन करें। आज धन की आवक होगी, जो आर्थिक स्थिति के लिए शुभ समाचार लेकर आएगी। परिवार में किसी बात को लेकर गहन विचार-विमर्श भी होगा, जिसमें थोड़ी गरमा गरम बहस भी हो सकती है। भाग्य आपका प्रबल रहेगा, जिससे गुप्त धन की प्राप्ति के योग बनेंगे या आप का गया हुआ पैसा भी वापस आ सकता है। कार्यक्षेत्र में स्थितियां अनुकूल रहेंगी और आप खुद को काफी अच्छी स्थिति में देखेंगे।


जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं

दिनांक 25 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 7 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति अपने आप में कई विशेषता लिए होते हैं। यह अंक वरूण ग्रह से संचालित होता है। आप खुले दिल के व्यक्ति हैं। आपकी प्रवृत्ति जल की तरह होती है। जिस तरह जल अपनी राह स्वयं बना लेता है वैसे ही आप भी तमाम बाधाओं को पार कर अपनी मंजिल पाने में कामयाब होते हैं। आप पैनी नजर के होते हैं। किसी के मन की बात तुरंत समझने की आपमें दक्षता होती है।  

 

शुभ दिनांक : 7, 16, 25 

 

 शुभ अंक : 7, 16, 25, 34 




  

शुभ वर्ष : 2023

 

ईष्टदेव : भगवान शिव तथा विष्णु  


 

शुभ रंग : सफेद, पिंक, जामुनी, मेहरून    

 

कैसा रहेगा यह वर्ष

आपके कार्य में तेजी का वातावरण रहेगा। आपको प्रत्येक कार्य में जुटकर ही सफलता मिलेगी। व्यापार-व्यवसाय की स्थिति उत्तम रहेगी। अधिकारी वर्ग का सहयोग मिलेगा। नौकरीपेशा व्यक्तियों के लिए समय सुखकर रहेगा। नवीन कार्य-योजना शुरू करने से पहले केसर का लंबा तिलक लगाएं व मंदिर में पताका चढ़ाएं

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा