आज का पंचांग एवँ राशिफल 24 दिसम्बर 2020

 

🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग

⛅ *दिनांक 24 दिसम्बर 2020


*

⛅ *दिन - गुरुवार*

⛅ *विक्रम संवत - 2077*

⛅ *शक संवत - 1942*

⛅ *अयन - दक्षिणायन*

⛅ *ऋतु - शिशिर*

⛅ *मास - मार्गशीर्ष*

⛅ *पक्ष - शुक्ल* 

⛅ *तिथि - दशमी रात्रि 11:17 तक तत्पश्चात एकादशी*

⛅ *नक्षत्र - अश्विनी पूर्ण रात्रि तक*

⛅ *योग - परिघ दोपहर 01:42 तक तत्पश्चात शिव*

⛅ *राहुकाल - दोपहर 02:00 से शाम 03:21 तक*

⛅ *सूर्योदय - 07:14* 

⛅ *सूर्यास्त - 18:02* 

(प्रत्येक जिले के लिए सूर्योदय और सूर्यास्त के समय मे कुछ अंतर संभव है)

⛅ *दिशाशूल - दक्षिण दिशा में*

⛅ *व्रत पर्व विवरण - 

 💥 *विशेष - 

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


🌷 *मोक्षदा एकादशी* 🌷

➡ *24 दिसम्बर 2020 गुरुवार को रात्रि 11:17 से 26 दिसम्बर, शनिवार को रात्रि 01:54 तक (यानी 25 दिसम्बर, शुक्रवार को पूरा दिन) एकादशी है ।*

💥 *विशेष - 25 दिसम्बर, शुक्रवार को एकादशी का व्रत (उपवास) रखें ।*

🙏🏻 *यह बड़े भारी पापों का नाश करनेवाला व्रत है | नीच योनि में पड़े पितर भी इसके पुण्यदान से मोक्ष पाते हैं |*

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


🌷 *तुलसी व तुलसी-माला की महिमा* 🌷

➡ *25 दिसम्बर को तुलसी पूजन दिवस है ।*

🌿 *तुलसीदल एक उत्कृष्ट रसायन है। यह गर्म और त्रिदोषशामक है। रक्तविकार, ज्वर, वायु, खाँसी एवं कृमि निवारक है तथा हृदय के लिए हितकारी है।*

🌿 *सफेद तुलसी के सेवन से त्वचा, मांस और हड्डियों के रोग दूर होते हैं।*

🌿 *काली तुलसी के सेवन से सफेद दाग दूर होते हैं।*

🌿 *तुलसी की जड़ और पत्ते ज्वर में उपयोगी हैं।*

🌿 *वीर्यदोष में इसके बीज उत्तम हैं तुलसी की चाय पीने से ज्वर, आलस्य, सुस्ती तथा वातपित्त विकार दूर होते हैं, भूख बढ़ती है।*

🌿 *जहाँ तुलसी का समुदाय हो, वहाँ किया हुआ पिण्डदान आदि पितरों के लिए अक्षय होता है। यदि तुलसी की लकड़ी से बनी हुई मालाओं से अलंकृत होकर मनुष्य देवताओं और पितरों के पूजनादि कार्य करें तो वह कोटि गुना फल देने वाला होता है।*

🌿 *तुलसी सेवन से शरीर स्वस्थ और सुडौल बनता है। मंदाग्नि, कब्जियत, गैस, अम्लता आदि रोगों के लिए यह रामबाण औषधि सिद्ध हुई है।*

🌿 *गले में तुलसी की माला धारण करने से जीवनशक्ति बढ़ती है, आवश्यक एक्युप्रेशर बिन्दुओं पर दबाव पड़ता है, जिससे मानसिक तनाव में लाभ होता है, संक्रामक रोगों से रक्षा होती है तथा शरीर स्वास्थ्य में सुधार होकर दीर्घायु की प्राप्ति होती है। शरीर निर्मल, रोगमुक्त व सात्त्विक बनता है। इसको धारण करने से शरीर में विद्युतशक्ति का प्रवाह बढ़ता है तथा जीव-कोशों द्वारा धारण करने के सामर्थ्य में वृद्धि होती है। गले में माला पहनने से बिजली की लहरें निकलकर रक्त संचार में रूकावट नहीं आने देतीं । प्रबल विद्युतशक्ति के कारण धारक के चारों ओर चुम्बकीय मंडल विद्यमान रहता है। तुलसी की माला पहनने से आवाज सुरीली होती है, गले के रोग नहीं होते, मुखड़ा गोरा, गुलाबी रहता है। हृदय पर झूलने वाली तुलसी माला फेफड़े और हृदय के रोगों से बचाती है। इसे धारण करने वाले के स्वभाव में सात्त्विकता का संचार होता है। जो मनुष्य तुलसी की लकड़ी से बनी हुई माला भगवान विष्णु को अर्पित करके पुनः प्रसाद रूप से उसे भक्तिपूर्वक धारण करता है, उसके पातक नष्ट हो जाते हैं।*

🌿 *कलाई में तुलसी का गजरा पहनने से नब्ज नहीं छूटती, हाथ सुन्न नहीं होता, भुजाओं का बल बढ़ता है।*

🌿 *तुलसी की जड़ें कमर में बाँधने से स्त्रियों को, विशेषतः गर्भवती स्त्रियों को लाभ होता है। प्रसव वेदना कम होती है और प्रसूति भी सरलता से हो जाती है।*

🌿 *कमर में तुलसी की करधनी पहनने से पक्षाघात नहीं होता, कमर, जिगर, तिल्ली, आमाशय और यौनांग के विकार नहीं होते हैं।*

🌿 *तुलसी की माला पर जप करने से उँगलियों के एक्यूप्रेशर बिन्दुओं पर दबाव पड़ता है, जिससे मानसिक तनाव दूर होता है ।*

🌿 *इसके नियमित सेवन से टूटी हड्डियाँ जुड़ने में मदद मिलती हैं ।*

🌿 *तुलसी की पत्तियों के नियमित सेवन से क्रोधावेश एवं कामोत्तेजना पर नियंत्रण रहता है ।*

🌿 *तुलसी के समीप पड़ने, संचिन्तन करने से, दीप जलने से और पौधे की परिक्रमा करने से पांचो इन्द्रियों के विकार दूर होते हैं ।

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


🌷 *श्रीमद् भगवद् गीता जयंती* 🌷

➡ *25 दिसम्बर 2020 शुक्रवार को श्रीमद् भगवद् गीता जयंती है।*

🙏🏻 *धर्म ग्रंथों के अनुसार मार्गशीर्ष मास के शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि को भगवान श्रीकृष्ण ने कुरुक्षेत्र के मैदान में अर्जुन को गीता का उपदेश दिया था। इसलिए प्रतिवर्ष इस तिथि को गीता जयंती का पर्व मनाया जाता है। गीता एकमात्र ऐसा ग्रंथ है, जिसकी जयंती मनाई जाती है।*

🙏🏻 *गीता दुनिया के उन चंद ग्रंथों में शुमार है, जो आज भी सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे हैं और जीवन के हर पहलू को गीता से जोड़कर व्याख्या की जा रही है। इसके 18 अध्यायों के करीब 700 श्लोकों में हर उस समस्या का समाधान है जो कभी ना कभी हर इंसान के सामने आती है। आज हम आपको इस लेख में गीता के 9 चुनिंदा प्रबंधन सूत्रों से रूबरू करवा रहे हैं, जो इस प्रकार हैं-*

🌷 *1 : श्लोक*

*कर्मण्येवाधिकारस्ते मा फलेषु कदाचन।*

*मा कर्मफलहेतु र्भूर्मा ते संगोस्त्वकर्मणि ।।*

🙏🏻 *अर्थ- भगवान श्रीकृष्ण अर्जुन से कहते हैं कि हे अर्जुन। कर्म करने में तेरा अधिकार है। उसके फलों के विषय में मत सोच। इसलिए तू कर्मों के फल का हेतु मत हो और कर्म न करने के विषय में भी तू आग्रह न कर।*

➡ *मैनेजमेंट सूत्र- भगवान श्रीकृष्ण इस श्लोक के माध्यम से अर्जुन से कहना चाहते हैं कि मनुष्य को बिना फल की इच्छा से अपने कर्तव्यों का पालन पूरी निष्ठा व ईमानदारी से करना चाहिए। यदि कर्म करते समय फल की इच्छा मन में होगी तो आप पूर्ण निष्ठा से साथ वह कर्म नहीं कर पाओगे। निष्काम कर्म ही सर्वश्रेष्ठ परिणाम देता है। इसलिए बिना किसी फल की इच्छा से मन लगाकर अपना काम करते रहो। फल देना, न देना व कितना देना ये सभी बातें परमात्मा पर छोड़ दो क्योंकि परमात्मा ही सभी का पालनकर्ता है।*

🌷 *2 : श्लोक*

*योगस्थ: कुरु कर्माणि संग त्यक्तवा धनंजय।*

*सिद्धय-सिद्धयो: समो भूत्वा समत्वं योग उच्यते।।*

🙏🏻 *अर्थ- हे धनंजय (अर्जुन)। कर्म न करने का आग्रह त्यागकर, यश-अपयश के विषय में समबुद्धि होकर योग युक्त होकर, कर्म कर, (क्योंकि) समत्व को ही योग कहते हैं।*

➡ *मैनेजमेंट सूत्र- धर्म का अर्थ होता है कर्तव्य। धर्म के नाम पर हम अक्सर सिर्फ कर्मकांड, पूजा-पाठ, तीर्थ-मंदिरों तक सीमित रह जाते हैं। हमारे ग्रंथों ने कर्तव्य को ही धर्म कहा है। भगवान कहते हैं कि अपने कर्तव्य को पूरा करने में कभी यश-अपयश और हानि-लाभ का विचार नहीं करना चाहिए। बुद्धि को सिर्फ अपने कर्तव्य यानी धर्म पर टिकाकर काम करना चाहिए। इससे परिणाम बेहतर मिलेंगे और मन में शांति का वास होगा। मन में शांति होगी तो परमात्मा से आपका योग आसानी से होगा। आज का युवा अपने कर्तव्यों में फायदे और नुकसान का नापतौल पहले करता है, फिर उस कर्तव्य को पूरा करने के बारे में सोचता है। उस काम से तात्कालिक नुकसान देखने पर कई बार उसे टाल देते हैं और बाद में उससे ज्यादा हानि उठाते हैं।*

🌷 *3 : श्लोक*

*नास्ति बुद्धिरयुक्तस्य न चायुक्तस्य भावना।*

*न चाभावयत: शांतिरशांतस्य कुत: सुखम्।*

🙏🏻 *अर्थ- योग रहित पुरुष में निश्चय करने की बुद्धि नहीं होती और उसके मन में भावना भी नहीं होती। ऐसे भावना रहित पुरुष को शांति नहीं मिलती और जिसे शांति नहीं, उसे सुख कहां से मिलेगा।*

➡ *मैनेजमेंट सूत्र - हर मनुष्य की इच्छा होती है कि उसे सुख प्राप्त हो, इसके लिए वह भटकता रहता है, लेकिन सुख का मूल तो उसके अपने मन में स्थित होता है। जिस मनुष्य का मन इंद्रियों यानी धन, वासना, आलस्य आदि में लिप्त है, उसके मन में भावना (आत्मज्ञान) नहीं होती। और जिस मनुष्य के मन में भावना नहीं होती, उसे किसी भी प्रकार से शांति नहीं मिलती और जिसके मन में शांति न हो, उसे सुख कहां से प्राप्त होगा। अत: सुख प्राप्त करने के लिए मन पर नियंत्रण होना बहुत आवश्यक है।*

👉🏻 *शेष कल..........*


📖 🙏पंचक

19 दिसंबर 

प्रातः 7.16 से 23 दिसंबर तड़के 4.32 बजे तक

15 जनवरी सायं 5.04 बजे से 20 जनवरी दोपहर 12.37 बजे तक

12 फरवरी रात्रि 2.11 बजे से 16 फरवरी रात्रि 8.55 बजे तक

दिसंबर 2020 त्यौहार

25 शुक्रवार मोक्षदा एकादशी

27 रविवार प्रदोष व्रत (शुक्ल)

30 बुधवार मार्गशीर्ष पूर्णिमा व्रत


मेष 

आज ग्रह गोचर कुछ ज्यादा अनुकूल नहीं है, इसलिए कोई भी बड़ा काम हाथ में लेने से पहले कई बार सोच विचार कर लें। आज आप के खर्चे सर से ऊपर जाएंगे, जो आपको तनाव भी दे सकते हैं। सेहत में उतार-चढ़ाव की स्थिति बनेगी तथा आपके कुछ विरोधी आज सिर उठा सकते हैं। कोर्ट कचहरी से जुड़े मामलों में खर्च के बाद सफलता की स्थिति बनेगी। राजनीति और कानून से जुड़े लोगों के लिए आज का दिन बेहद अच्छा रहने वाला है। आपको अपने कामों में सफलता मिलेगी। किसी व्यक्ति की बैंक गारंटी ना लें।

वृष 

आज ग्रहों की चाल आपको फायदा पहुंचाएगी और आपकी इनकम में स्पष्ट वृद्धि के योग बनेंगे। नौकरी में इंक्रीमेंट की बात चल सकती है, इसलिए अपनी तरफ से कोई भी ऐसा मौका ना दें, जो आपके विरुद्ध जाए। प्रेमी जातकों के लिए आज का दिन बहुत खुशगवार बीतेगा और अपने रिश्ते में बढ़ते प्रेम से आप अभिभूत हो उठेंगे। आपके प्रिय से संबंध खूबसूरत बनेंगे और आज उनके लिए कोई सरप्राइज़ प्लान भी कर सकते हैं। शादीशुदा लोगों को अपनी संतान से कोई बड़ा समाचार सुनने को मिल सकता है। बिज़नेस के लिए दिन सफलतादायक रहेगा।

मिथुन 

आज परोपकार की भावना मन में जागेगी और लोगों की भलाई का कुछ काम करेंगे। आप जहां काम करते हैं, आज वहां आपकी ही चर्चा होगी। आपका काम भी बढ़िया होगा और खूब मन लगाकर मेहनत भी करेंगे। आप के सीनियर भी आपके पक्ष में नजर आएंगे। परिवार की जिम्मेदारियां भी आपका ध्यान आकर्षित करेंगी लेकिन इस सबके बावजूद आप अच्छा तालमेल बनाए रखने में कामयाब होंगे और अपनी लव लाइफ को इंजॉय करेंगे।

कर्क 

ग्रहों की चाल बता रही है कि आज भाग्य आपके पक्ष में रहेगा, जिससे आपको लगभग सभी कामों में सफलता हाथ लगेगी। आज किसी खूबसूरत जगह ट्रेवलिंग करने का मौका मिलेगा, जहां जाने से मन खुश हो जाएगा और जीवन में ताज़गी आएगी। सेहत में भी अच्छा सुधार देखने को मिलेगा। मान सम्मान भी बढ़ेगा और आज आर्थिक तौर पर भी कोई बढ़िया समाचार सुनने को मिल सकता है। आप कोई बड़ी प्रॉपर्टी खरीदने की ओर बढ़ सकते हैं तथा भाई बहनों के सहयोग से करियर में कोई बड़ा हाथ आजमाने की कोशिश कर सकते हैं।

सिंह 

ग्रहों का गोचर आपको अपने बारे में सोचने के लिए मजबूर करेगा। कुछ ऐसी बातें हैं, जो आपने किसी को नहीं बताई हैं। आज खुद से उन बातों पर चर्चा करेंगे। मानसिक तनाव तो बढ़ेगा और कुछ आर्थिक चिंताएं भी परेशान करेंगी लेकिन अंदर से आवाज आएगी कि आप सब कुछ कर सकते हैं और इसी वजह से आप कॉन्फिडेंट नजर आएंगे। घर की चुनौतियां आपको परेशान कर सकती हैं, फिर भी आप ईश्वर की कृपा के सहारे आज अपने हर क्षेत्र को अपना शत प्रतिशत योगदान देते नजर आएंगे। पॉलिटिक्स से जुड़े लोगों के लिए आज का दिन बढ़िया रहेगा।

कन्या 

ग्रहों और सितारों की चाल आपके बिज़नेस के लिए आज कोई नई खुशखबरी लेकर आएगी। आज आपको कुछ नए लोगों से बिज़नेस डील मिल सकती हैं, जिससे आपका बिज़नेस चमक उठेगा। दांपत्य जीवन में भी तनावपूर्ण स्थितियों का अंत होगा और एक दूसरे के प्यार में सराबोर होने का मौका मिलेगा। जीवन साथी के नाम से कोई बिज़नेस करते हैं तो आप लाभ के हकदार बनेंगे और आज उनके नाम से कोई प्रॉपर्टी खरीदने में भी हाथ आजमा सकते हैं, जिसमें आपको लाभ मिलेगा। मन में हल्का क्रोध जरूर रहेगा, जो बीच-बीच में आपको परेशान करेगा लेकिन आप के चारों ओर की स्थितियां आपको आगे बढ़ने में मददगार बनेंगी।

तुला 

आज ग्रह स्थितियां ज्यादा अनुकूल नहीं हैं, इसलिए धन का निवेश भूलकर भी ना करें, नहीं तो नुकसान में आ सकते हैं। यदि पहले से कहीं निवेश किया हुआ है तो आज उस निवेश का अच्छा फल आपके हाथ लग सकता है। आज खर्चों में बढ़ोतरी स्पष्ट रूप से दिखाई दे रही है लेकिन आप अपनी हिम्मत नहीं हारेंगे। नौकरी के लिए आवेदन कर रहे हैं तो स्थिति पक्की होगी और यदि आप नौकरीपेशा हैं तो आज का दिन आपके नाम रहेगा। राशि का स्वामी पीड़ित होने से खानपान संबंधित परेशानियां सेहत में गिरावट का कारण बन सकती हैं। आज धन प्राप्ति के लिए कोई अलग रास्ता अपना सकते हैं। हालांकि से दिक्कत हो सकती है।

वृश्चिक 

ग्रहों की चाल बता रही है कि आज प्यार की हवा आपके चारों तरफ महकेगी, जिससे आपका दिन बड़ा खुशनुमा व्यतीत होगा। आज अपने प्रेम को खुलकर महसूस करेंगे और अपने साथी को खुश रखने की पूरी कोशिश करेंगे। यदि आप शादीशुदा हैं तो संतान से सुख मिलेगा। जमीन जायदाद से जुड़े मामले आपको सफलता प्रदान करेंगे और आज कोई पुरानी इच्छा पूरी हो सकती है। किसी लंबी ट्रैवलिंग की योजना बन सकती है। आज आपका भाग्य प्रबल रहेगा।

धनु

ग्रहों की स्थिति आज आपके लिए कुछ खास लेकर आई है। दिल में खुशी की भावना रहेगी और परिवार का प्यार भी। आज परिवार की जरूरतों को समझेंगे और घरेलू जीवन पर आपका सारा फोकस रहेगा। आज अपनी मां जी के लिए कुछ करने की इच्छा होगी और हो सकता है उन्हें कोई बढ़िया सा गिफ्ट दें। नया वाहन या नए मकान की इच्छा तीव्र होगी और इस दिशा में प्रयास भी करेंगे। अपने काम को लेकर भी आप कोई कोताही नहीं बरतेंगे। मैनेजमेंट की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थियों के लिए बहुत बढ़िया समय रहेगा।

मकर 

आज का दिन मेहनत करने के नाम जाएगा लेकिन पुरानी यादें ताजा करने का भी मौका मिलेगा। आज अपने दोस्तों से मिलने में समय लगाएंगे और खूब गपशप करेंगे। अपने भाई बहनों से कोई सुखद समाचार सुनने को मिलेगा, जो आपके चेहरे पर खुशी लेकर आएगा। किसी काम के सिलसिले में यात्रा करनी पड़ सकती है। अपने विरोधियों पर आज आप भारी पड़ेंगे और खुद को आत्मबल से भरपूर समझकर बिज़नेस में कोई बड़े डिसीजन भी लेंगे। आज का दिन आपकी काबिलियत को परखेगा।

कुंभ 

ग्रह स्थिति के आईने में आज का दिन आर्थिक चुनौतियों को कम करने वाला होगा। आपके पास कहीं ना कहीं से पैसा आएगा, जो आपको राहत की सांस लेने का मौका देगा। कर्ज में कमी आएगी लेकिन किसी बड़ी प्रॉपर्टी में हाथ डालने के लिए आप बैंक से लोन लेने के लिए अप्लाई कर सकते हैं। आज अच्छा भोजन करने का सुख मिलेगा और परिवार वालों से भी कुछ महत्वपूर्ण विचार विमर्श करेंगे। आपकी बोलचाल में कुछ कड़वापन भी हो सकता है। इससे बचना जरूरी होगा। बिज़नेस में लाभ होगा।

मीन 

आज ग्रह मानो आपके साथ खड़े नजर आएंगे। जहां भी आप हाथ डालेंगे, वहीं सफलता मिलेगी। खुद पर कॉन्फिडेंस भी बढ़ेगा और सेहत भी मजबूत रहेगी। आज आप दांपत्य जीवन को भी बहुत अच्छे से जियेंगे और जीवन साथी के लिए कुछ खरीद कर लाएंगे, जो उनको बहुत खुशी देगा। बिज़नेस के लिए आज का दिन बहुत अच्छा देने वाला है क्योंकि आपको कोई बड़ा लाभ मिलने का मौका मिल सकता है। गवर्नमेंट सेक्टर से भी बड़ा बेनिफिट मिलने के योग बनेंगे। आज का दिन आपको आगे बढ़ने के कुछ नए मौके दे सकता है।


जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं


दिनांक 24 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 6 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति आकर्षक, विनोदी, कलाप्रेमी होते हैं। आपमें गजब का आत्मविश्वास है। इसी आत्मविश्वास के कारण आप किसी भी परिस्थिति में डगमगाते नहीं है। आपको सुगंध का शौक होगा। आप अपनी महत्वाकांक्षा के प्रति गंभीर होते हैं। 6 मूलांक शुक्र ग्रह द्वारा संचालित होता है। अत: शुक्र से प्रभावित बुराई भी आपमें पाई जा सकती है। जैसे स्त्री जाति के प्रति आपमें सहज झुकाव होगा। अगर आप स्त्री हैं तो पुरुषों के प्रति आपकी दिलचस्पी होगी। लेकिन आप दिल के बुरे नहीं है। 

 

शुभ दिनांक : 6, 15, 24 

 

शुभ अंक : 6, 15, 24, 33, 42, 51, 69, 78




 

शुभ वर्ष : 2022, 2026

 

ईष्टदेव : मां सरस्वती, महालक्ष्मी


 

शुभ रंग : क्रीम, सफेद, लाल, बैंगनी 

 

कैसा रहेगा यह वर्ष

लेखन संबंधी मामलों के लिए उत्तम होती है। जो विद्यार्थी सीए की परीक्षा देंगे उनके लिए शुभ रहेगा। व्यापार-व्यवसाय में भी सफलता रहेगी। विवाह के योग भी बनेंगे। स्त्री पक्ष का सहयोग मिलने से प्रसन्नता रहेगी।

   

नौकरीपेशा व्यक्ति अपने परिश्रम के बल पर उन्नति के हकदार होंगे। बैक परीक्षाओं में भी सफलता अर्जित करेंगे। दाम्पत्य जीवन में मिली जुली स्थिति रहेगी। आर्थिक मामलों में सभंलकर चलना होगा।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा