नाजायज संबंधोंं के चलते हत्या, पति व पत्नी गिरफ्तार


मुजफ्फरनगर । थाना खतौली क्षेत्र के बुआडा रोड पर अवैध संबंधों के कारण युवक की हत्या करके शव को छिपा देने वाले दम्पति को गिरफ्तार किया गया है। बताया गया है कि करीब चार महीने पूर्व पत्नी को नशीला बर्गर खिलाकर बेहोश कर दुकर्श्म करने के बाद वीडियो बनाकर रॉबिन उसको ब्लैकमेल कर रहा था। कई बार समझाने का प्रयास भी किया गया लेकिन जब नहीं माना तो हत्या करने को मजबूर होना पडा। 


गिरफ्तार अभियुक्तगण के नाम बन्टी ठाकुर पुत्र प्रताप सिंह निवासी मूलचन्द बिहार कस्बा व थाना खतौली और ज्योती पत्नी बन्टी ठाकुर निवासी मूलचन्द बिहार कस्बा व थाना खतौली हैं। प्राप्त जानकारी के मुताबिक कस्बा खतौली में बुआडा रोड निवासी 35 वर्षिय युवक रोबिन उर्फ गुड्डू पुत्र धर्मवीर कस्बे की एक हार्डवेयर की दुकान पर कार्य करता था। 5 नबम्बर को गुड्डू दुकान से वापस घर लौटते समय रास्ते से संगदिग्द परिस्थितियों में लापता हो गया था। गुड्डू के घर नही पहुचने पर उसके परिजनों ने उसे काफी तलाश किया था। मगर गुड्डू का कोई सुराग परिजनों को नही मिला था। लापता होने के बाद गुड्डू का मोबाइल भी बंद हो गया था। उधर परिजनों ने युवक के साथ कोई अनहोनी होने की आशंका व्यक्त करते हुए शुक्रवार को कोतवाली में गुमशुदगी दर्ज कराकर पुलिस से युवक को बरामद करने की मांग की थी। वही शनिवार देर शाम नगर के बुआडा रेलवे फाटक के समीप राहगीरों ने कपड़े में बंधा एक शव देखा तो राहगीरों में सनसनी फैल गयी थी। शव मिलने की सूचना पर मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गयी थी। मामले की सूचना पर मौके पर पहुचीं कोतवाली पुलिस ने शव को कपड़े से बाहर निकालकर उसकी पहचान कराने का प्रयास किया था। मगर शव का चेहरा श्रतिग्रस्त होने से पहचान नही हो सकी थी। युवक की गर्दन पर किसी धार धार हथियार से वार कर गला घोंटकर उसकी हत्या की गयी थी। घण्टो बाद पुलिस ने शव की पहचान लापता युवक गुड्डू पुत्र धर्मवीर के रूप में करने के बाद उसके परिजनों को मौके पर बुलाया तो परिजनों भी शव की पहचान लापता रोबिन उर्फ गुड्डू के रूप में की थी। जिसके बाद पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया था। उधर परिजनों ने मोहल्ले के ही दम्पत्ति बंटी ठाकुर और उसकी पत्नी ज्योति ठाकुर के खिलाफ हत्या करने की तहरीर दी थीं। पुलिस ने तहरीर के आधार मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी थी। रविवार को पुलिस ने हत्यारोपी दम्पति को दाबिसे देकर हिरासत में ले लिया जिनसे पुलिस ने कड़ी पूछताछ की तो उन्होंने गुड्डू की हत्या करना स्वीकार कर लिया। पुलिस के अनुसार मृतक युवक गुड्डू का बंटी से दोस्ताना था। इसलिये गुड्डू का बंटी के घर आना जाना लगा रहता था। इस दौरान गुड्डू के बंटी की पत्नी से अवैध संबंध बन गये। जिसका पता चलने पर बंटी ने गुड्डू को बहुत समझाया मगर गुड्डू नही माना और उसने बंटी के घर आना जाना बंद नही किया गुड्डू के नही मानने पर बंटी ने उसकी हत्या की योजना बनाई थी। पुलिस के अनुसार बंटी में गुड्डू को अपने घर बुलाया और दोनो ने शराब का सेवन करने के बाद गुड्डू के नशे में होने पर बंटी और उसकी पत्नी ने गुड्डू का रस्सी से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी थी। दंपत्ति ने शव की पहचान नही हो सके इसके लिये मृतक के चेहरे और गर्दन पर धार धार से वार कर उसके चेहरे को श्रतिग्रस्त कर दिया था। हत्यारोपी दम्पत्ति ने घटना के बाद गुड्डू के शव को रस्सी से बांध कर शव को एक कपड़े में बांधकर सबूत मिटाने के लिये बुआडा रोड पर जंगल मे फेंक दिया था। पुलिस ने हत्यारोपी दम्पत्ति से आलाकत्ल एक दांव, तीन रस्सी के टुकड़े, और मृतक की बाइक बरामद कर ली है। पुलिस ने दम्पत्ति से कड़ी पूछताछ करने के बाद उन्हें जेल भेज दिया। 


उनकी निशानदेही पर 01 दांव (आला कत्ल), 03 रस्सी के टुकडे (हत्या में प्रयुक्त) व मृतक की मोटर साइकिल पैशन गिरफ्तार अभियुक्त बन्टी उपरोक्त ने बताया कि मृतक के उसकी पत्नी के साथ नाजायज समबन्ध थे, जिसके चलते उसने व उसकी पत्नी द्वारा मिलकर उसकी हत्या करने की घटना को अंजाम दिया गया।


Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा