बॉर्डर पर किसानों ने नदी में फेंके बैरिकेड

 नई दिल्ली l खनौरी अंतरराज्यीय सीमा पर ड्यूटी पर तैनात एक अधिकारी ने बताया कि हरियाणा पुलिस ने क्रेन की मदद से सड़कों पर बड़े-बड़े पत्थर रखे हैं वहीं दूसरी ओर से यातायात की आवाजाही ठप है l कृषि कानूनों का विरोध करने के लिए हरियाणा और पंजाब के बीच शंभू बॉर्डर पर एकत्रित किसानों की भीड़ को तितर-बितर करने के लिए सुरक्षाकर्मी फायर टियर गैस के गोले का इस्तेमाल किया गया है l आपको बता दें कि साल 2020 के मानसून सत्र में केंद्र की मोदी सरकार द्वारा पास कराए गए तीन विवादित कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों ने मोर्चा खोल दिया था l 26 नवंबर को किसानों को दिल्ली कूच आंदोलन को नियंत्रित करने के लिए हरियाणा और पंजाब की सीमा सील कर दी गई. वहीं दिल्ली की सीमा पर भी काफी सख्ती की गई. आंदोलनकारी किसानों पर एक जहां बुधवार को वाटर कैनन से तितर बितर करने की कोशिश की गई वहीं गुरुवार को आंसू गैस के गोले दागे गए. कुछ इलाकों में किसानों ने पुलिस की बैरिकेड


को उखाड़ कर नदी में फेंक दिया.

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा