Monday, October 4, 2021

आज का पंचांग एवँ राशिफल 04 अक्तूबर 2021

 


🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞

⛅ *दिनांक 04 अक्टूबर 2021*

⛅ *दिन - सोमवार*

⛅ *विक्रम संवत - 2078 (गुजरात - 2077)*

⛅ *शक संवत -1943*

⛅ *अयन - दक्षिणायन*

⛅ *ऋतु - शरद* 

⛅ *मास -अश्विन (गुजरात एवं महाराष्ट्र के अनुसार - भाद्रपद)*

⛅ *पक्ष - कृष्ण* 

⛅ *तिथि - त्रयोदशी रात्रि 09:05 तक तत्पश्चात चतुर्दशी*

⛅ *नक्षत्र - पूर्वाफाल्गुनी 05 अक्टूबर रात्रि 02:36 तक तत्पश्चात उत्तराफाल्गुनी*

⛅ *योग - शुभ दोपहर 02:12 तक तत्पश्चात शुक्ल*

⛅ *राहुकाल - सुबह 08:00 से सुबह 09:29 तक*

⛅ *सूर्योदय - 06:31* 

⛅ *सूर्यास्त - 18:22*

⛅ *दिशाशूल - पूर्व दिशा में*

⛅ *व्रत पर्व विवरण - त्रयोदशी का श्राद्ध, सोम प्रदोष व्रत, मासिक शिवरात्रि*

 💥 *विशेष - त्रयोदशी को बैंगन खाने से पुत्र का नाश होता है।(ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


🌷 *चतुर्दशी तिथि पर न करें श्राद्ध* 🌷

➡ *05 अक्टूबर 2021 मंगलवार को आग - दुर्घटना - अस्त्र - शस्त्र - अपमृत्यु से मृतक का श्राद्ध*

🙏🏻 *हिंदू धर्म के अनुसार, श्राद्ध पक्ष में परिजनों की मृत्यु तिथि के अनुसार ही श्राद्ध करने का विधान है । महाभारत के अनुशासन पर्व में भीष्म पितामह ने युधिष्ठिर को बताया है कि इस तिथि पर केवल उन परिजनों का ही श्राद्ध करना चाहिए, जिनकी अकाल मृत्यु हुई हो।*

💥 *इस तिथि पर अकाल मृत्यु (हत्या, दुर्घटना, आत्महत्या आदि) से मरे पितरों का श्राद्ध करने का ही महत्व है। इस तिथि पर स्वाभाविक रूप से मृत परिजनों का श्राद्ध करने से श्राद्ध करने वाले को अनेक प्रकार की मुसीबतों का सामना करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में उन परिजनों का श्राद्ध सर्वपितृमोक्ष अमावस्या के दिन करना श्रेष्ठ रहता है।*

🙏🏻 *महाभारत के अनुसार जिन पितरों की मृत्यु स्वाभाविक रुप से हुई हो, उनका श्राद्ध चतुर्दशी तिथि पर करने से श्राद्धकर्ता विवादों में घिर जाता हैं। उन्हें शीघ्र ही लड़ाई में जाना पड़ता है। जवानी में उनके घर के सदस्यों की मृत्यु हो सकती है।*

🙏🏻 *चतुर्दशी श्राद्ध के संबंध में ऐसा वर्णन कूर्मपुराण में भी मिलता है कि चतुर्दशी को श्राद्ध करने से अयोग्य संतान होती है।*

🙏🏻 *याज्ञवल्क्यस्मृति के अनुसार, भी चतुर्दशी तिथि को श्राद्ध नहीं करना चाहिए। इस दिन श्राद्ध करने वाला विवादों में फस सकता है।*

🙏🏻 *चतुर्दशी तिथि पर अकाल (हत्या), आत्महत्या (दुर्घटना), रुप से मृत परिजनों का श्राद्ध करने का विधान है।*

🙏🏻 *जिन पितरों की अकाल मृत्यु हुई हो व उनकी मृत्यु तिथि ज्ञात नहीं हो, उनका श्राद्ध चतुर्दशी तिथि को करने से वे प्रसन्न होते हैं।*

             🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


🌷 *सर्व पितृ अमावस्या* 🌷

➡ *06 अक्टूबर 2021 बुधवार को सर्व पितृ अमावस्या है।*

🙏🏻 *जिन्होंने हमें पाला-पोसा, बड़ा किया, पढ़ाया-लिखाया, हममें भक्ति, ज्ञान एवं धर्म के संस्कारों का सिंचन किया उनका श्रद्धापूर्वक स्मरण करके उन्हें तर्पण-श्राद्ध से प्रसन्न करने के दिन ही हैं श्राद्धपक्ष।*

🙏🏻 *जिस प्रकार चारागाह में सैंकड़ों गौओं में छिपी हुई अपनी माँ को बछड़ा ढूँढ लेता है उसी प्रकार श्राद्धकर्म में दिए गये पदार्थ को मंत्र वहाँ पर पहुँचा देता है जहाँ लक्षित जीव अवस्थित रहता है।*

🙏🏻 *पितरों के नाम, गोत्र और मंत्र श्राद्ध में दिये गये अन्न को उसके पास ले जाते हैं, चाहे वे सैंकड़ों योनियों में क्यों न गये हों। श्राद्ध के अन्नादि से उनकी तृप्ति होती है। परमेष्ठी ब्रह्मा ने इसी प्रकार के श्राद्ध की मर्यादा स्थिर की है।"*

🙏🏻 *सर्व पितृ अमावस्या को पितर भूमि पर आते हैं । उस दिन अवश्य श्राद्ध करना चहिये।*

🙏🏻 *उस दिन श्राद्ध नही करते हैं तो पितर नाराज होकर चले जाते हैं ।*

🙏🏻 *आप यदि उस दिन श्राद्ध करने में सक्षम् नही हैं तो उस दिन तांबे के लोटे में जल भरकर के भगवदगीता के सातवें अध्याय का पाठ करें और मंत्र "ॐ नमो भगवते वासुदेव"एवं " ॐ ह्रीं श्रीं क्लीं स्वधा देव्यै स्वाहा" की 1-1 माला करके सूर्यनारायण भगवान को जल का अर्घ्य दें ।*

🙏🏻 *और सूर्य भगवान को बगल ऊँची करके बोले की मैं अपने पितरों को प्रणाम करता हूँ।*

🙏🏻 *वे मेरी भक्ति से ही तृप्तिलाभ करें। मैंने अपनी दोनों बाहें आकाश में उठा रखी हैं।और जिनका श्राद्ध किया जाये उन माता, पिता, पति, पत्नी, संबंधी आदि का स्मरण करके उन्हें याद दिलायें किः "आप देह नहीं हो। आपकी देह तो समाप्त हो चुकी है, किंतु आप विद्यमान हो।*

🙏🏻 *आप अगर आत्मा हो.. शाश्वत हो... चैतन्य हो। अपने शाश्वत स्वरूप को निहार कर हे पितृ आत्माओं ! आप भी परमात्ममय हो जाओ। हे पितरात्माओं ! हे पुण्यात्माओं !अपने परमात्म-स्वभाव का स्मऱण करके जन्म मृत्यु के चक्र से सदा-सदा के लिए मुक्त हो जाओ। हे पितृ आत्माओ !*

🙏🏻 *आपको हमारा प्रणाम है। हम भी नश्वर देह के मोह से सावधान होकर अपने शाश्वत् परमात्म-स्वभाव में जल्दी जागें.... परमात्मा एवं परमात्म-प्राप्त महापुरुषों के आशीर्वाद आप पर हम पर बरसते रहें.... ॐ....ॐ.....ॐ...." पितृपक्ष के विषय में शास्त्रों में बताया गया है कि इन दिनों मनुष्य को अपना आचरण शुद्ध और सात्विक रखना चाहिए। इसलिए भोजन में मांस-मछली, मदिरा और तामसिक पदार्थों से परहेज रखना चाहिए।*

🙏🏻 *क्योंकि आप जो भोजन करते हैं उनमें से एक अंश पितरों को भी प्राप्त होता है। इन दिनों मन और भावनाओं पर नियंत्रण रखने का प्रयास करें और काम-वासना से बचें।*

👉🏻 *ज्योतिषशास्त्र में बताया गया है कि जिनके पितर नाराज हो जाते हैं उनकी ग्रह दशा अच्छी भी हो तब भी उनके जीवन में हर पल परेशानी बनी रहती है।*

👉🏻 *श्राद्ध पक्ष में सयंम-नियम पालन करें, नहीं तो पितर देंगे शाप...*

👉🏻 *श्राद्ध पक्ष में गाय को गुड़ के साथ रोटी खिलाएं और कुत्ते, बिल्ली और कौओं को भी आहार दें। इससे पितरों का आशीर्वाद आप पर बना रहेगा।*


📖 

          🌞 ~ *हिन्दू पंचांग* ~ 🌞

🙏🏻🌷🌻🌹🍀🌺🌸🍁💐🙏🏻संपूर्ण पक्ष में श्राद्ध की तिथियां :


पूर्णिमा श्राद्ध – 20 सितंबर

प्रतिपदा श्राद्ध – 21 सितंबर

द्वितीया श्राद्ध – 22 सितंबर

तृतीया श्राद्ध – 23 सितंबर

चतुर्थी श्राद्ध – 24 सितंबर

पंचमी श्राद्ध – 25 सितंबर

षष्ठी श्राद्ध – 27 सितंबर

सप्तमी श्राद्ध – 28 सितंबर

अष्टमी श्राद्ध- 29 सितंबर

नवमी श्राद्ध – 30 सितंबर

दशमी श्राद्ध – 1 अक्टूबर

एकादशी श्राद्ध – 2 अक्टूबर

द्वादशी श्राद्ध- 3 अक्टूबर

त्रयोदशी श्राद्ध – 4 अक्टूबर

चतुर्दशी श्राद्ध- 5 अक्टूबर

अमावस्या श्राद्ध- 6 अक्टूबर


दिनांक 4 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 4 होगा। ऐसे व्यक्ति को जीवन में अनेक परिवर्तनों का सामना करना पड़ता है। जैसे तेज स्पीड से आती गाड़ी को अचानक ब्रेक लग जाए ऐसा उनका भाग्य होगा। लेकिन यह भी निश्चित है कि इस अंक वाले अधिकांश लोग कुलदीपक होते हैं। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति जिद्दी, कुशाग्र बुद्धि वाले, साहसी होते हैं। आपका जीवन संघर्षशील होता है। इनमें अभिमान भी होता है। ये लोग दिल के कोमल होते हैं किन्तु बाहर से कठोर दिखाई पड़ते हैं। इनकी नेतृत्त्व क्षमता के लोग कायल होते हैं।

 

शुभ दिनांक : 4, 8, 13, 22, 26, 31

 

शुभ अंक : 4, 8,18, 22, 45, 57



 

शुभ वर्ष : 2031, 2040, 2060

 

ईष्टदेव : श्री गणेश, श्री हनुमान


 

शुभ रंग : नीला, काला, भूरा

 

कैसा रहेगा यह वर्ष

मान-सम्मान में वृद्धि होगी, वहीं मित्र वर्ग का सहयोग मिलेगा। नवीन व्यापार की योजना प्रभावी होने तक गुप्त ही रखें। शत्रु पक्ष पर प्रभावपूर्ण सफलता मिलेगी। नौकरीपेशा प्रयास करें तो उन्नति के चांस भी है। यह वर्ष पिछले वर्ष के दुष्प्रभावों को दूर करने में सक्षम है। आपको सजग रहकर कार्य करना होगा। परिवारिक मामलों में सहयोग के द्वारा सफलता मिलेगी। विवाह के मामलों में आश्चर्यजनक परिणाम आ सकते हैं।


मेष दैनिक राशिफल (Aries Daily Horoscope)

आज के दिन आप के चारों ओर का वातावरण सुखद रहेगा, जिसके कारण आपको सकारात्मक ऊर्जा मिलेगी और आप अपने हर कार्य को अपनी बुद्धि व विवेक से सफलतापूर्वक पूरा करने में सफल रहेंगे, लेकिन आज आपको किसी की सुनी सुनाई बातों पर भरोसा करने से पहले सोचना होगा कि यह बात सही है या नहीं। व्यापार कर रहे लोगों के आज बड़ी मात्रा में धन हाथ मे आने से वह संतुष्ट रहेंगे, लेकिन आप ध्यान देना होगा। सायंकाल के समय आज आप अपने परिवार के सदस्यों के साथ किसी धार्मिक आयोजन में सम्मिलित हो सकते हैं।

वृष दैनिक राशिफल (Taurus Daily Horoscope)

आज आपको अपने स्वास्थ्य के प्रति अधिक सतर्कता बरतनी होगी। यदि कोई कष्ट हो, तो उसमें लापरवाही बिल्कुल ना करें, नही तो भविष्य में वह किसी भयंकर बीमारी का रूप ले सकती है। आज परिवार मे आपको कुछ ऐसे खर्चा करेगे, जो आपको मजबूरी में ना चाहते हुए भी करने पड़ सकते हैं, लेकिन आपको अपने बढ़ते हुए खर्चों पर लगाम लगानी होगी, नहीं तो यह आपकी आर्थिक स्थिति को बिगाड़ कर रख सकते हैं। सायंकाल का समय आज आप अपने जीवन साथी के साथ कुछ जरूरी मुद्दों पर बातचीत में व्यतीत करेंगे

मिथुन दैनिक राशिफल (Gemini Daily Horoscope) 

आज का दिन आप महत्वपूर्ण योजनाओं को आरंभ करने में व्यतीत करेंगे। आपने अपने व्यवसाय के लिए जितनी योजनाएं बनाई हैं, आज आप उनको एक एक करके अपने व्यापार में आरंभ करेंगे, जो आपको धीरे-धीरे लेकिन बाद में अधिक धन लाभ देने लग जाएंगी, लेकिन आज आपको अपने किसी भी सहयोगी से बुरा बर्ताव नहीं करना है, नहीं तो आपको कष्ट हो सकता है। सायंकाल के समय यदि आपके आस पड़ोस में कोई वाद-विवाद हो, तो आपको उसमें पडने से भी बचना होगा। आज आपको अपनी किस जिद के कारण परेशान होना पड़ सकता है।


कर्क दैनिक राशिफल (Cancer Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए महत्वपूर्ण रहने वाला है। आज आपको संतान पक्ष की ओर से कोई हर्षवर्धन समाचार सुनने को मिलेगा, जिससे आपकी खुशी में चार चांद लगेगे और आज आप अपने संतान के भविष्य से संबंधित कोई बड़ा फैसला भी ले सकते हैं। आज सरकारी नौकरी से जुड़े जातकों को अपने किसी भी कार्य को लंबे समय के लिए नहीं टालना है, नहीं तो वह उनके लिए नुकसान का सौदा हो सकता है। राजनीति से जुड़े जातकों को आज उनके किए गए कार्यों की सराहना होगी।


सिंह दैनिक राशिफल (Leo Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए मिश्रित परिणाम लेकर आएगा। प्रेम जीवन जी रहे लोगों के जीवन में आज एक नई ऊर्जा का संचार होगा। विद्यार्थियों को आज किसी पर भी भरोसा करने से पहले सोचना होगा, नहीं तो वह उन्हें धोखा दे सकता है। नौकरी से जुड़े जातकों को आज किसी महिला मित्र के सहयोग से पदोन्नति प्राप्त हो सकती है। आज का दिन आप अपने किसी परिचित के स्वास्थ्य को लेकर थोड़ा परेशान हो सकते हैं। सायंकाल का समय आज आप अपने माता पिता की सेवा में व्यतीत करेंगे।


कन्या दैनिक राशिफल (Virgo Daily Horoscope) 

आज का दिन आपको ऊर्जावान बनाएगा। आज आप एक-एक करके अपने लंबे समय से रुके हुए कार्यों को पूरा करने के लिए तत्पर रहेंगे। आपके अंदर एक नया जोश और जुनून देखने को मिलेगा, लेकिन आज आपको किसी के बहकावे में आकर किसी भी निर्णय पर नहीं पहुंचना है, नहीं तो वह आपके लिए नुकसानदायक हो सकता है। जीवन साथी की सलाह से किए गए कार्यों में आज आपको सफलता अवश्य प्राप्त होगी। यदि आज व्यापार में जोखिम उठाया, तो बहुत ही सोच समझ कर उठाये, नहीं तो आपको नुकसान हो सकता है।


तुला दैनिक राशिफल (Libra Daily Horoscope)

आज का दिन आपके लिए मध्यम रूप से फलदायक रहेगा। यदि आपने साझेदारी में किसी व्यापार को किया हुआ है, तो वह आपको भरपूर लाभ दे सकता है, लेकिन ससुराल पक्ष के किसी सदस्य से आज आपका कोई वाद विवाद हो सकता है। यदि ऐसा हो, तो आपको उसमें अपनी वाणी की मधुरता को बनाए रखना होगा, नहीं तो वह आपके रिश्तो में दरार डाल सकती है। सायंकाल के समय आज आप किसी मांगलिक समारोह में सम्मिलित हो सकते हैं, जहां की किसी रसूखदार व्यक्ति से मुलाकात होगी।


वृश्चिक दैनिक राशिफल (Scorpio Daily Horoscope) 

आज आप अपने जिस भी कार्य को करेंगे। शारीरिक व मानसिक रूप से परेशान होने के बाद भी आप इसे पूरे साहस से करेंगे। व्यवसाय कर रहे लोग आज अपने व्यवसाय में स्थल परिवर्तन कर सकते हैं। परिवार में यदि कोई कलह चल रही थी, तो वह आज फिर से सिर उठा सकती है, जिसमें आपको कुछ भला बुरा भी सुनने को मिल सकता है। यदि आप व्यापार मे किसी को पार्टनर बनाने की सोच रहे हैं,तो उसके बारे में पहले अच्छे से जांच लें, नहीं तो आपको परेशानी हो सकती है। सायंकाल का समय आज आप किसी धार्मिक समारोह में सम्मिलित हो सकते हैं।


धनु दैनिक राशिफल (Sagittarius Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके लिए मध्यम रूप से फलदायक रहेगा। आज आपकी सेहत के कारण आप थोड़ा परेशान रहेंगे। यदि आपको कोई रोग पहले से ही चल रहा है, तो उसके कष्टों में आज वृद्धि हो सकती है, नहीं तो आपको कोई दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है। यदि ऐसा हो, तो डॉक्टरी परामर्श अवश्य लें। आपको आज लोगों से ज्यादा मिलने से बचना होगा, नहीं तो आपके मन में कुछ निराशा हो सकती हैं। आज आपको कार्य कुशलता पूर्वक करना होगा, नहीं तो दूसरे आप का फायदा उठाने की पूरी कोशिश कर सकते हैं

मकर दैनिक राशिफल (Capricorn Daily Horoscope) 

आज का दिन आपके जीवन में कोई महत्वपूर्ण परिवर्तन लेकर आ रहा है, लेकिन इसके चलते आपको किसी कठिनाई का सामना करना पड़ सकता है, लेकिन आपको इससे घबराना नहीं है और रात के बाद ही सवेरा होता है। जीवनसाथी की तरक्की देख आज आपके मन में प्रसन्नता रहेगी। नौकरी से जुड़े जातकों को आज सफलता प्राप्त हो सकती है। आज आपको अपने परिवार के मामले में चल रहे विवादों के लिए अपने पिताजी से सलाह अवश्य ले, तभी आप उन्हे निपटाने में सफल रहेंगे।


कुंभ दैनिक राशिफल (Aquarius Daily Horoscope) 

आज आपको किसी भी मामले में अतिवादी होने से बचना होगा, नहीं तो वह आपके लिए कोई बड़ी परेशानी का कारण बन सकता है। जीवन के कड़वे अनुभवों से आप सबक सीखेंगे, जो आपको आगे चलकर लाभ भी अवश्य देंगे। आज लेकिन आपको अपने अतीत को छोड़कर वर्तमान में कदम आगे बढ़ाना होगा, तभी आप अपने धीमी गति से चल रहे बिजनेस में नई जान डाल पाएंगे। किसी पारिवारिक सदस्यों से आज आपको कोई शुभ सूचना प्राप्त हो सकती है, जिससे आपके आत्मसम्मान में मजबूती मिलेगी।

मीन दैनिक राशिफल (Pisces Daily Horoscope) 

आज का दिन आपकी इच्छाओं की पूर्ति का दिन रहेगा। आज तक आपने अपने सपनों को संजोकर रखा था, आज उनके पूरे होने का समय आ गया है, जिसे देखकर आप प्रसन्न होंगे। यदि आप अपनी संतान के विवाह संबंधित कंपनी को देख रहे थे,तो वह आज पूरा हो सकता है। निजी संबंधों में यदि कोई वाद विवाद चल रहा है, तो और आप उसे समाप्त करें और आगे बढ़े। यदि आपने अपने लिए कोई नया घर खरीदने का सपना देखा है, तो वह भी इस समय में पूरा हो सकता है, इसलिए आपको लगातार प्रयास करने होंगे, तभी वह पूरे हो पाएंगे

No comments: