Sunday, September 26, 2021

हर हर महादेव के घोष के बीच गन्ने का दाम 500 रुपये करने की मांग



मुजफ्फरनगर। हर हर महादेव के नारों के बीच आध्यात्मिक किसान नेता चंद्रमोहन महाराज ने  गन्ने के अपमान को भगवान राम का अपमान बताते हुए केंद्र सरकार से मांग की है कि गन्ने को राष्ट्रीय फसल घोषित किया जाए और यूपी में गन्ना मूल्य 500 रुपये क्विंटल किया जाए।

महापंचायत में उन्होंने कहा कि किसान खुशहाल होगा, तो मजदूर खुशहाल होगा और किसान-मजदूर के खुशहाल होने से देश में भी खुशहाली होगी। 

जीआईसी ग्राउंड में हिंद मजदूर किसान समिति द्वारा आयोजित महापंचायत में बोलते चंद्रमोहन महाराज ने कहा कि हम कई मामलों में सरकार का धन्यवाद करते हैं, तो कई मामलों में हम सरकार के सामने अपना दुख भी प्रकट करते हैं। सरकार ने प्रदेश से गुंडागर्दी खत्म कर दी, इसके लिए धन्यवाद, लेकिन गन्ना मूल्य 4 साल से नहीं बढाया, इसका दुख भी है, सडके अच्छी बनी, लेकिन डीजल व पेट्रोल महंगा कर दिया, महंगाई पर नियंत्रण नहीं है। गौहत्या रुकी, लेकिन आवारा पशु फसलों को बर्बाद कर रहे हैं, इसका भी समाधान किया जाना चाहिए। ट्रैक्टर को आजीवन किसान के पास ही रहने दिया जाए और परेशान न किया जाए। पंचायत को गठवाला खाप के बाबा चौधरी राजेंद्र सिंह मलिक व किसान नेता संजीव त्यागी, हिंद मजदूर किसान समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजपाल सिंह, अमित मोलाहेडी, रमन मोलाहेडी समेत अनेक वक्ताओं ने संबोधित किया। 

हिंद मजदूर किसान समिति, राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन, गठवाला खाप सहित कई संगठनों का पंचायत में सहयोग रहा। मंच पर सोफे एवं कुर्सियों की बजाय मूढो एवं खाट से मंचत्र तैयार कर रखा था। किसान पंचायत में छेत्रीय किसान भारी संख्या में उपस्थित थे। बारिश की वजह से ग्राउंड से पानी सुखाने में पंचायत आयोजन कर्ता जुटे रहे और मैदान को बैठने लायक बनाया। मैदान पर पानी भरे होने की वजह से तय समय से कुछ देरी से पंचायत शुरू हुई। एसपी सिटी अर्पित विजयवर्गीय के नेतृत्व में सुरक्षा व्यवस्था की दृष्टि से जीआईसी ग्राउंड के आसपास भारी पुलिस बल मौजूद रहा।

No comments: