Monday, August 23, 2021

आज का पंचांग एवँ राशिफल 23 अगस्त 2021



🌞 ~ *आज का हिन्दू पंचांग* ~ 🌞

⛅ *दिनांक 23 अगस्त 2021*

⛅ *दिन - सोमवार*

⛅ *विक्रम संवत - 2078 (गुजरात - 2077)*

⛅ *शक संवत - 1943*

⛅ *अयन - दक्षिणायन*

⛅ *ऋतु - शरद* 

⛅ *मास - भाद्रपद (गुजरात एवं महाराष्ट्र अनुसार - श्रावण)*

⛅ *पक्ष - कृष्ण* 

⛅ *तिथि - प्रतिपदा शाम 04:30 तक तत्पश्चात द्वितीया*

⛅ *नक्षत्र - शतभिषा रात्रि 07:26 तक तत्पश्चात पूर्व भाद्रपद*

⛅ *योग - अतिगण्ड सुबह 08:34 तक तत्पश्चात सुकर्मा*

⛅ *राहुकाल - सुबह 07:55 से सुबह 09:30 तक*

⛅ *सूर्योदय - 06:20* 

⛅ *सूर्यास्त - 19:01* 

⛅ *दिशाशूल - पूर्व दिशा में*

⛅ *व्रत पर्व विवरण - 

 💥 *विशेष - प्रतिपदा को कूष्माण्ड(कुम्हड़ा, पेठा) न खाये, क्योंकि यह धन का नाश करने वाला है। (ब्रह्मवैवर्त पुराण, ब्रह्म खंडः 27.29-34)*

               🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞


🌷 *शरद ऋतु में कैसे करें स्वास्थ्य की रक्षा* 🌷

➡ *22 अगस्त 2021 रविवार से शरद ऋतु*

🌷 *शरद ऋतु में ध्यान देने योग्य महत्त्वपूर्ण बातें :*

👉🏻 *१] रोगाणां शारदी माता | रोगों की माता है यह शरद ऋतु | वर्षा ऋतु में संचित पित्त इस ऋतु में प्रकुपित होता है | इसलिए शरद पूर्णिमा की चाँदनी में उस पित्त का शमन किया जाता हैं |*

*इस मौसम में खीर खानी चाहिए | खीर को भोजनों में ‘रसराज’ कहा गया है | सीता माता जब अशोक वाटिका में नजरकैद थीं तो रावण का भेजा हुआ भोजन तो क्या खायेंगी, तब इंद्र देवता खीर भेजते थे और सीताजी वह खाती थी |*

👉🏻 *२] इस ऋतु में दूध, घी, चावल, लौकी, पेठा, अंगूर, किशमिश, काली द्राक्ष तथा मौसम के अनुसार फल आदि स्वास्थ्य की रक्षा करते हैं |* *गुलकंद खाने से भी पित्तशामक शक्ति पैदा होती है | रात को (सोने से कम-से-कम घंटाभर पहले ) मीठा दूध घूँट – घूँट मुँह में बार-बार घुमाते हुए पियें | दिन में ७ – ८ गिलास पानी शरीर में जाय, यह स्वास्थ्य के लिए अच्छा है |*

👉🏻 *३] खट्टे, खारे, तीखे पदार्थ व भारी खुराक का त्याग करना बुद्धिमत्ता है | तली हुई चीजें, अचारवाली खुराक, रात को देरी से खाना अथवा बासी खुराक खाना और देरी से सोना स्वास्थ्य के लिए खतरा है क्योंकि शरद ऋतु रोगों की माता है | कोई भी छोटा-मोटा रोग होगा तो इस ऋतु में भडकेगा इसलिए उसको बिठा दो |*

👉🏻 *४] शरद ऋतु में कड़वा रस बहुत उपयोगी है | कभी करेला चबा लिया, कभी नीम के १०-१२ पत्ते चबा लिये | यह कड़वा रस खाने में तो अच्छा नहीं लगता लेकिन भूख लगाता है और भोजन को पचा देता है |*

👉🏻 *५] पाचन ठीक करने का एक मंत्र भी है :*

🌷 *अगस्त्यं कुम्भकर्ण च शनिं च वडवानलम् |*

*आहारपरिपाकार्थ स्मरेद् भीमं च पंचमम् ||*

➡ *यह मंत्र पढ़के पेट पर हाथ घुमाने से भी पाचनतंत्र ठीक रहता हैं |*

👉🏻 *६] बार-बार मुँह चलाना (खाना) ठीक नहीं, दिन में दो बार भोजन करें | और वह सात्त्विक व सुपाच्य हो | भोजन शांत व प्रसन्न होकर करें | भगवन्नाम से आप्लावित ( तर, नम ) निगाह डालकर भोजन को प्रसाद बना के खायें |*

👉🏻 *७] ५० साल के बाद स्वास्थ्य जरा नपा-तुला रहता है, रोगप्रतिकारक शक्तिदबी रहती है | इस समय नमक, शक्कर और घी-तेल पाचन की स्थिति पर ध्यान देते हुए नपा-तुला खायें, थोडा भी ज्यादा खाना स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है |*

👉🏻 *८] कइयों की आँखें जलती होंगी, लाल हो जाती होंगी | कइयों को सिरदर्द होता होगा | तो एक –एक घूँट पानी मुँह में लेकर अंदर गरारा (कुल्ला) करता रहे और चाँदी का बर्तन मिले अथवा जो भी मिल जाय, उसमें पानी भर के आँख डुबा के पटपटाता जाय | मुँह में दुबारा पानी भर के फिर दूसरी आँख डुबा के ऐसा करें | फिर इसे कुछ बार दोहराये | इससे आँख व सिर की गर्मी निकलेगी | सिरदर्द और आँखों की जलन में आराम होगा व नेत्रज्योति में वृद्धि होगी |*

👉🏻 *९] अगर स्वस्थ रहना है और सात्त्विक सुख लेना है तो सुर्योदय के पहले उठना न भूलें | आरोग्य और प्रसन्नता की कुंजी है सुबह-सुबह वायु-सेवन करना | सूरज की किरणें नही निकली हों और चन्द्रमा की किरणें शांत हो गयी हों उस समय वातावरण में सात्तिवकता का प्रभाव होता है | वैज्ञानिक भाषा में कहें तो इस समय ओजोन वायु खूब मात्रा में होती है और वातावरण में ऋणायनों का प्रमाण अधिक होता है | वह स्वास्थ्यप्रद होती है | सुबह के समय की जो हवा है वह मरीज को भी थोड़ी सांत्वना देती है |*

🙏🏻


📖 **

📒 *

              🌞 *~ हिन्दू पंचांग ~* 🌞

🙏🏻🌷☘🌺🌸🌳💐🌻🌹🙏🏻पंचक


: 22 अगस्त प्रात: 7.57 बजे से 26 अगस्त रात्रि 10.28 बजे तक

: 18 सितंबर दोपहर 3.26 बजे से 23 सितंबर प्रात: 6.45 बजे तक

एकादशी


सितंबर 2021: एकादशी व्रत


03 सितंबर: अजा एकादशी


17 सितंबर: परिवर्तिनी एकादशी


प्रदोष


सितंबर 2021: प्रदोष व्रत


04 सितंबर: शनि प्रदोष


18 सितंबर: शनि प्रदोष व्रत


पूर्णिमा

अगस्त 2021

 20 सितंबर सोमवार भाद्रपद


अमावस्या


07 सितंबर, मंगलवार भाद्रपद अमावस्या


साप्ताहिक राशिफल (23 से 29 अगस्त):


मेष

मेष राशि के जातकों का इस सप्ताह आर्थिक पक्ष थोड़ा प्रभावित हो सकता है। सप्ताह की शुरुआत में कुछ ऐसे खर्च आ सकते हैं, जिसका आपको जरा भी अंदाजा नहीं होगा। हालांकि भाग्य का पूरा साथ मिलने के कारण आप सभी मुश्किलों से पार पा जाएंगे। कार्यक्षेत्र में सतर्क होकर कार्य करने की आवश्यकता है क्योंकि विरोधी आपके खिलाफ षडयंत्र रच सकते हैं। व्यवसाय में यदि कहीं बड़ी पूंजी लगाने की सोच रहे हैं तो सोच-समझकर फैसला करें। प्रेम संबंध और सेहत के लिए यह सप्ताह अच्छा नहीं कहा जा सकता है। इस सप्ताह इन दोनों का बहुत ख्याल रखना है। लव पार्टनर के साथ सोच-समझकर शब्दों का प्रयोग करें, अन्यथा बात बिगड़ सकती है। स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों को अनदेखी न करें, अन्यथा अस्पताल के चक्कर लगाने पड़ सकते हैं।


उपाय : गुड़ एवं गेहूं का दान करें। श्री हनुमान जी की नित्य उपासना करें।


वृषभ 

सप्ताह के प्रारंभ से ही वृष राशि के जातकों को अपेक्षा के अनुरूप फल मिलना प्रारंभ हो जाएंगे। इस सप्ताह आपको भाग्य का पूरा साथ मिलेगा। विरोधी परास्त होंगे और कोर्ट-कचहरी से जुड़े मामलों में फैसला आपके पक्ष में आएगा। वहीं राजनीति से जुड़े लोगों को किसी बड़े पद की प्राप्ति के संकेत मिलेंगे। हालांकि औपचारिक घोषणा के लिए उन्हें थोड़ा और इंतजार करना होगा। व्यवासाय के सिलसिले में लंबी या छोटी दूरी की यात्रा करनी पड़ सकती है। यात्रा सुखद एवं लाभदायक होगी। नौकरीपेशा लोगों को इस सप्ताह कामकाज की कुछ ज्यादा ही व्यस्तता बनी रहेगी। नतीजतन, घर-परिवार अथवा प्रेम संबंधों के लिए समय नहीं निकाल पाएंगे। इस दौरान अपने जीवनसाथी या लव पार्टनर की भावनाओं की अनदेखी करने से विशेष रूप से बचें। सप्ताह के उत्तरार्ध में संतान पक्ष से कोई सुखद समाचार मिलने से घर में खुशियों का माहौल रहेगा।


उपाय : दूध एवं चीनी का दान करें। प्रतिदिन पूजा में गायत्री मंत्र का पाठ जरूर करें।

मिथुन 

सप्ताह की शुरुआत में ही किसी पयर्टन अथवा सगे संबंधी से मुलाकात करने के लिए यात्रा करनी पड़ सकती है। घर परिवार किसी मांगलिक कार्य का आयोजन हो सकता है। परिश्रम एवं प्रयास करने पर आपको पूरा फल प्राप्त होगा। नौकरीपेशा से जुड़े लोगों के लिए समय अनुकूल है। यदि आपका धन किसी सरकारी कार्यालय या किसी संस्थान में अटका है तो उसकी प्राप्ति हो सकती है। मनचाहे प्रमोशन या तबादला होने से घर में खुशियों का माहौल रहेगा। भूमि-भवन आदि से जुड़े कार्यों को करने वालों को लाभ हो सकता है। प्रेम संबंधों में मजबूती आयेगी। परिजन आपके प्रेम संबंध पर विवाह की मुहर लगा सकते हैं। जीवनसाथी के साथ सुखद पल बिताने के अवसर प्राप्त होंगे। परिजनों का पूरा सहयोग प्राप्त होगा।


उपाय : गणपति की पूजा में दूर्वा अवश्य चढ़ाएं और प्रतिदिन गणेश चालीसा का पाठ करें।

कर्क

कर्क राशि के जातकों के लिए यह सप्ताह अत्यंत शुभ साबित होगा। सप्ताह की शुरुआत में ही विभिन्न क्षेत्रों से शुभ समाचार की प्राप्ति हो सकती है। घर एवं बाहर, दोनों जगह आपको लोगों का पूरा सहयोग मिलेगा। यदि आप बेरोजगार हैं तो आपको रोजगार के नये अवसर प्राप्त होंगे। सप्ताह के मध्य में घर की साज-सज्जा आदि में अधिक धन खर्च हो सकता है। युवाओं का ज्यादातर समय मौज-मस्ती में बीतेगा। यदि लव पार्टनर के साथ अनबन चल रही थी तो किसी महिला मित्र की मदद से वो खत्म हो जाएगी। जीवनसाथी का पूरा सहयोग मिलेगा। हालांकि सेहत को लेकर किसी भी तरह की लापरवाही न बरतें क्योंकि पुराने रोग एक बार फिर से उभर सकते हैं।


उपाय : भगवान शिव की प्रतिदिन पूजा करें और शिवलिंग पर बेलपत्र जरूर चढ़ाएं।


सिंह

इस सप्ताह मन की दुविधा घटेगी और संकल्प की शक्ति बढ़ेगी। किसी प्रिय सदस्य के घर में आने से खुशियों का माहौल बना रहेगा। हालांकि आर्थिक चिंताएं बनी रह सकती हैं। इस दौरान अनावश्यक व्यय से बचें। भूमि-भवन के क्रय-विक्रय का निर्णय सोच-विचार कर ले। सप्ताह के उत्तरार्ध में रोजी-रोजगार की दिशा में किये जा रहे प्रयास में सफलता मिलेगी। इस दौरान दूसरों को प्रभावित करने की आपकी कला काफी काम आयेगी। प्रेम संबंधों के लिए भी यह समय काफी अनुकूल रहेगा। यदि आप किसी के सामने प्रेम या विवाह का प्रस्ताव रखने की सोच रहे हैं तो आपकी बात बन जायेगी। दांपत्य जीवन में मधुरता बनी रहेगी। सेहत के प्रति लापरवाही न बरतें। वाहन सावधानीपूर्वक चलाएं अन्यथा चोट-चपेट की आशंका है।


उपाय : पीपल के वृक्ष पर जल चढ़ाएं और विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें

कन्या 

कन्या राशि के जातकों को इस सप्ताह 'सावधानी हटी, दुघर्टना घटी' का मूलमंत्र हर समय याद रखना चाहिए। नौकरीपेशा लोगों को कार्यक्षेत्र में सतर्क होकर काम करने की बहुत जरूरत रहेगी, कयोंकि विरोधी आपके काम को बिगाड़ने की कोशिश करेंगे। इस दौरान अपने सीनियर्स और जूनियर्स के साथ विनम्रता पूर्वक व्यवहार करें। किसी नई योजना पर काम शुरु करने से पहले खूब सोचविचार कर लें अन्यथा यह कदम आपके लिए जी का जंजाल साबित हो सकता है। कारोबार में धन का लेन-देन करते समय पूरी सावधानी बरतें। छात्रों को कठिन परिश्रम करने पर ही सफलता के योग बनेंगे। पास के फायदे में दूर का नुकसान करने से बचें। कहने का मतलब यह है कि किसी तरह के प्रलोभन में से बचें। जीवनसाथी हो या फिर लव पार्टनर उसकी भावनाओं की कद्र करें, अन्यथा बात बिगड़ सकती है।


उपाय 

बड़ी-बूढ़ी स्त्रियों की सेवा करें और किसी विशेष कार्य को करने के लिए निकलने से पहले उनका आशीर्वाद जरूर लें। प्रतिदिन हनुमान जी की उपासना करें।


तुला

तुला राशि के जातकों को इस सप्ताह की शुरुआत में ही कुछ एक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। स्थायी संपत्ति खरीदने के लिए यह समय शुभ नहीं है, भूमि-भवन को खरीदने से पहले किसी शुभचिंतक की सलाह जरूर लें। अतिआत्मविश्वास में आकर कोई निर्णय लेने से बचें, अन्यथा बाद में पछताना पड़ सकता है। परिवार में किसी बात को लेकर विवाद हो सकता है। सप्ताह के मध्य में रोजी-रोजगार के सिलसिले में निरर्थक भाग-दौड़ हो सकती है। इस दौरान किसी को सोच-समझकर धन उधार दें और किसी के फटे में टांग अड़ाने से बचें। इंश्योरेंस और कमीशन का काम करने वालों को कुछ एक उलझनें रहेंगी। कठिन समय में लव पार्टनर आपके साथ पूरी तरह से खड़ा रहेगा। समस्याओं को सुलझाने में ससुराल पक्ष से पूरा सहयोग मिलेगा।


उपाय: तुला राशि के लोगों भगवान शिव की उपासना शुभ साबित होगी। साथ ही गरीब बच्चों को दूध-दही आदि का दान दें।

वृश्चिक

सप्ताह की शुरुआत में किसी घरेलू विवाद को लेकर मन परेशान रहेगा। परिजनों का सहयोग मिलने के बावजूद मन में कुछ चीजों को लेकर आशंका बनी रहेगी। सप्ताह के मध्य में आर्थिक मामलों, पूंजी निवेश तथा लेन-देन को लेकर सचेत रहें क्योंकि हानि की आशंका है। नौकरीपेशा लोगों के लिए यह सप्ताह मध्यम फलदायक रहेगा। जरूरी कार्यों को कल पर टालने से बचें, अन्यथा बड़ा नुकसान हो सकता है। साथ ही दूसरों पर निर्भर रहने की बजाय अपनी समस्याओं को खुद सुलझाने का प्रयास करें। प्रेम संबंधों में किसी प्रकार की शंका या गलतफहमियों को न पनपने दें। लव पार्टनर को कोई ऐसा वादा न करें, जिसे भविष्य में न पूरा कर पाएं, अन्यथा आपको शर्मिंदा होना पड़ सकता है।


उपाय : हनुमान जी को सिंदूर चढ़ाएं और सुंदरकांड का पाठ करें।


धनु 

धनु राशि के जातकों को घर एवं बाहर दोनों जगह लोगों से पूरा सहयोग मिलेगा। सौभाग्य का साथ बना रहने के कारण आपके सोचे हुए सभी कार्य समय पर पूरे होंगे। इस सप्ताह आप अपनी वाणी से शत्रु को भी मित्र बनाने में कामयाब होंगे। व्यवसाय में लंबे समय से अटका धन निकल आयेगा। इस दौरान यदि किस विशेष कार्य के लिए प्रयास करेंगे तो उसमें आपको पूरी सफलता मिलेगी। कार्यक्षेत्र में सीनियर और जूनियर दोनों का पूरा सहयोग मिलेगा। लव पार्टनर के साथ सुखद पल बिताने के अवसर प्राप्त होंगे। परिवार के साथ पिकनिक या पर्यटन का प्रोग्राम बन सकता है। संतान पक्ष की किसी बड़ी उपलब्धि से आपका मान-सम्मान बढ़ेगा।


उपाय : प्रतिदिन केसर का तिलक लगाएं और विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करें।

मकर 

सप्ताह की शुरुआत में अपने क्रोध एवं वाणी पर पूरा नियंत्रण रखें। इस दौरान परिजनों के साथ वाद-विवाद या फिर किसी बात को लेकर उनके विरोध की आशंका है। करिअर-कारोबार की दिशा में उठाए गये कदमों में कुछ एक बाधा आ सकती है। चाहे-अनचाहे सप्ताह के मध्य में छोटी या लंबी दूरी की यात्रा करनी पड़ सकती है। यात्रा के दौरान अपनी सेहत और सामान दोनों का खूब ख्याल रखें, अन्यथा परेशान होना पड़ सकता है। विशेष रूप से खान-पान पर पूरा ध्यान दें। किसी भी कार्य को करते समय और वाहन चलाते समय जल्दबाजी से बचें। प्रेम संबंधों को लेकर किसी भी प्रकार का दिखावा करने से बचें अन्यथा बदनामी झेलनी पड़ सकती है। कठिन समय में जीवनसाथी का पूरा साथ मिलेगा।

उपाय : सुंदरकांड का पाठ करें।

कुंभ 

कुंभ राशि के जातकों को सप्ताह की शुरुआत में तो भाग्य का पूरा साथ मिलेगा। इस दौरान आपको अपने जीवन में कई अनुकूल परिवर्तन देखने को मिल सकते हैं। कार्यक्षेत्र में बॉस की कृपा से प्रमोशन और बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है। आय के नये स्रोत बनेंगे। करिअर-कारोबार में सफलता मिलेगी। परिजनों का पूरा सहयोग प्राप्त होगा। सप्ताह के मध्य में परिवार के साथ लंबी या छोटी यात्रा पर निकल सकते हैं। इस दौरान धार्मिक-सामाजिक कार्यों में खूब मन लगेगा। प्रेम संबंधों में मजबूती आयेगी। आपके परिजन प्रेम संबंधों को को स्वीकार करते हुए विवाह की हरी झंडी दिखा सकते हैं। युवाओं का अधिकांश समय मौज-मस्ती करते हुए बीतेगा।


उपाय : किसी दिव्यांग अथवा गरीब व्यक्ति खाने-पीने की वस्तुएं दान करें। श्री हनुमान जी की नित्य उपासना करें।

मीन 

मीन राशि के जातकों के लिए यह सप्ताह काफी राहत भरा साबित होने जा रहा है। लंबे समय से चली आ रही किसी बड़ी समस्या का समाधान खोजने में आप कामयाब हो जाएंगे। किसी कार्य विशेष को पूरा करने में इष्ट-मित्रों का पूरा सहयोग मिलेगा। कोर्ट-कचहरी से जुड़े मामले को समझौते के जरिए बाहर ही खत्म कर लेने में फायदा रहेगा। सप्ताह के उत्तरार्ध में संतान पक्ष की किसी बड़ी उपलब्धि से आपका मान-सम्मान बढ़ेगा। कामकाजी महिलाओं के लिए यह समय शुभ साबित होगा। प्रेम संबंधों में उतावलेपन से बचें और लव पार्टनर की भावनाओं की अनदेखी न करें। दांपत्य जीवन में मधुरता बनी रहेगी।


उपाय : चंदन का टीका लगाएं और भगवान विष्णु की उपासना करें।


जिनका आज जन्मदिन है उनको हार्दिक शुभकामनाएं और शुभाशीष

23 का अंक देखने पर ॐ का आभास देता है। जो कि भारतीय परंपरा में शुभ प्रतीक है। आप बेहद भाग्यशाली हैं कि आपका जन्म 23 को हुआ है। 23 का अंक आपस में मिलकर 5 होता है। जबकि 5 का अंक बुध ग्रह का प्रतिनिधि करता है। ऐसे व्यक्ति अधिकांशत: मितभाषी होते हैं। कवि, कलाकार, तथा अनेक विद्याओं के जानकार होते हैं।

 

आपमें किसी भी प्रकार का परिवर्तन करना मुश्किल है। अर्थात अगर आप अच्छे स्वभाव के व्यक्ति हैं तो आपको कोई भी बुरी संगत बिगाड़ नहीं सकती। अगर आप खराब आचरण के हैं तो दुनिया की कोई भी ताकत आपको सुधार नहीं सकती। लेकिन सामान्यत: 23 तारीख को पैदा हुए व्यक्ति सौम्य स्वभाव के ही होते हैं। आपमें गजब की आकर्षण शक्ति होती है। आपमें लोगों को सहज अपना बना लेने का विशेष गुण होता है। अनजान व्यक्ति की मदद के लिए भी आप सदैव तैयार रहते हैं।



 

शुभ दिनांक : 1, 5, 7, 14, 23

 

शुभ अंक : 1, 2, 3, 5, 9, 32, 41, 50


 

शुभ वर्ष : 2030, 2032, 2034, 2050, 2059, 2052

 

ईष्टदेव : देवी महालक्ष्मी, गणेशजी, मां अम्बे।

 

शुभ रंग : हरा, गुलाबी जामुनी, क्रीम

 

कैसा रहेगा यह वर्ष

वर्ष आपके लिए सफलताओं भरा रहेगा। अभी तक आ रही परेशानियां भी इस वर्ष दूर होती नजर आएंगी। परिवारिक प्रसन्नता रहेगी। संतान पक्ष से खुशखबर आ सकती है। नौकरीपेशा व्यक्तियों के लिए यह वर्ष निश्चय ही सफलताओं भरा रहेगा। दाम्पत्य जीवन में मधुर वातावरण रहेगा। अविवाहित भी विवाह में बंधने को तैयार रहें। व्यापार-व्यवसाय में प्रगति से प्रसन्नता रहेगी।

No comments:

Featured Post

कपिलदेव अग्रवाल व उमेश मलिक ने किया सडक सुरक्षा सप्ताह का उद्घाटन

मुज़फ्फरनगर। आज एआरटीओ कार्यालय पर एआरटीओ विनीत मिश्रा के निर्देशन में सड़क सुरक्षा सप्ताह का आयोजन किया गया है जिसमें उन्होंने सड़क सुरक्षा के...