आईआईए की सभा में बैंकर्स ने बताई अपनी योजनाएं


मुजफ्फरनगर । आईआईए की साधारण बैठक का आयोजन विभिन्न बैंकिंग संस्थाओं सिडबी, एचडीएफसी, एक्सिस बैंक के अधिकारियों के साथ किया गया। इस बैठक में बैंकर्स व उद्यमी के बीच सामंजस्य बनाने वाली संस्था ए.बी.फ़िनीस्कोप  के अधिकारी भी उपस्थित रहे । कार्यक्रम का शुभारंभ चैप्टर चेयरमैन विपुल भटनागर के अभिभाषण से हुआ उन्होंने नीरज केडिया व अशोक बंसल शामली चैप्टर को केंद्रीय कार्यकारिणी सदस्य व अशोक मित्तल को डिविजनल सेक्रेटरी, अश्वनी खंडेलवाल को आईआईए  की राष्ट्रीय विद्युत समिति के चेयरमैन नामित होने पर शुभकामनाएं प्रेषित की । उन्होंने अपने कुश पुरी को लघु उद्योग प्रकोष्ठ (भाजपा) के प्रदेश संयोजक बनाए जाने पर आईआईए परिवार की ओर से बधाई दी व उम्मीद जताई कि लघु उद्योग की समस्याओं का निराकरण कराने के लिए वो अग्रणी भूमिका निभाएंगे। सर्वप्रथम सिडबी से आए अभिषेक कुमार एजीएम नोएडा ब्रांच ने एमएसएमई से संबंधित विभिन्न योजनाओं को साझा करते हुए बताया कि यदि आप कोई नई मशीन खरीदना चाहते हैं तो सिडबी 25% कैश कॉलेटरल को एफ.डी. के रूप में लेकर बहुत ही कम ब्याज दर पर 100% तक ऋण उपलब्ध कराती है। नए उद्योग लगाने पर भी बहुत कम ब्याज दर पर लोन उपलब्ध है।

एक्सिस बैंक से आए वैभव रस्तोगी ने बताया कि उद्यमी सीबीआईएल मैं अपना रजिस्ट्रेशन करा कर किस प्रकार बैंक में अपनी रेटिंग को सुधार कर सकता है व बैंक लोन देते हुए किन किन बिंदुओं को देखता है। अपनी रेटिंग सुधार कर बैंक से ब्याज दर में कैसे छूट प्राप्त कर सकते हैं । एचडीएफसी सहारनपुर से आए पंकज कुमार ने बताया कि प्राइवेट बैंकर्स आपको कैसे कम ब्याज दर पर आप की आवश्यकता अनुसार बहुत कम समय में व बहुत कम पेपर वर्क के साथ ऋण उपलब्ध कराते हैं व आपको यदि कम समय के लिए कार्यशील पूंजी की आवश्यकता है तो वह भी हमारा बैंक उपलब्ध कराता है। एचडीएफसी लिमिटेड से आए ईशान रस्तोगी ने हाउसिंग लोन की आवश्यकता व फ्लैट भवन खरीदने या बनाने पर दिए जाने वाले ऋण के बारे में जानकारी दी।

शामली से पधारे अशोक बंसल व अशोक मित्तल शामली चैप्टर के चेयरमैन अनुज गर्ग ने सुंदर सार्थक बैठक के लिए विपुल भटनागर का आभार व्यक्त करते हुए सीडबी के साथ अपने अनुभव साझा किए।

नीरज केडिया ने कहा कि पहले बैंक की पूंजी पर उद्यमी की पूंजी लगती थी आज इसका विपरीत है उद्यमी के पैसे  व उसकी क्षमता के आंकलन के बाद बैंक उसके पैसे पर अपना पैसा लगाता है उन्होंने कहा कि सीडबी एक डेवलपमेंट बैंक है जिसका उद्देश्य उद्यमिता बढ़ाना व आत्मनिर्भर भारत बनाना है अतः योजनाएं और सरल करने की आवश्यकता है।

कुश पुरी ने अपने स्वागत के लिए आईआईए का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि प्राइवेट बैंक में पारदर्शिता की कमी होने के कारण लोगों का विश्वास नहीं बन पाता है।बैंकों को और अधिक पारदर्शी होने की आवश्यक है व एमएसएमई इतना समय नहीं दे पाता कि वह इन जटिलताओं को समझ सके अतः प्रक्रिया सरल होनी चाहिए।

ए.बी.फिनीस्कोप की डायरेक्टर गुंजन भारद्वाज ने कहा कि हम उद्यमी व बैंक के बीच एक ब्रिज का कार्य करते हैं हम उद्यमी की मांग के अनुरूप उसको कम से कम ब्याज दर पर व बहुत ही कम समय में लोन उपलब्ध कराने में सहयोगी रहते हैं। हमारा विभिन्न बैंकों से सामाजस्य है व बहुत सारी योजनाएं जो बैंक द्वारा उद्यमी तक नहीं पहुंचती उसका लाभ हमारे साथ जुड़कर आसानी से हो जाता है। निवर्तमान चेयरमैन पंकज अग्रवाल ने सभी अतिथियों व सदस्यों का आभार व्यक्त किया व विपुल भटनागर को आईआईए मुजफ्फरनगर चैप्टर के चेयरमैन नामित होने के लिए बधाई दी।

कार्यक्रम का सफल संचालन आईआईए के वरिष्ठ उपाध्यक्ष पवन गोयल ने किया बैठक में अरविंद मित्तल जेके मित्तल पंकज मोहन गर्ग नवीन जैन समित अग्रवाल संदीप जैन दीपक सिंघल सागर वत्स कपिल मित्तल अतुल गर्ग अनिल त्यागी राज शाह सुधीर गोयल नईम चांद सुनील अग्रवाल रजत जैन आदि अनेकों उद्यमी उपस्थित रहे ।

Comments

Popular posts from this blog

नहीं रही जिले की मशहूर ब्यूटीशियन साजिया परवीन

देश में फिर बन रहे हैं लाकडाउन के हालात

होटल में रईस जादों की मस्ती पार्टी पर पुलिस के छापे में 37 युवक युवतियों को दबोचा