कावड यात्रा : हरिद्वार से टैंकरों से पड़ौसी राज्यों को पहुंचाया जाएगा गंगाजल


हरिद्वार। कोरोना संक्रमण के बीच उत्तराखंड सरकार ने इस साल भी कांवड़ यात्रा रद्द कर दी है, लेकिन शिव भक्तों के लिए गंगाजल टैंकरों में भरकर दूसरे राज्यों में भिजवाया जाएगा। 

हरिद्वार में शिवभक्तों का प्रवेश प्रतिबंधित किए जाने के बाद इस बार कांवड़ यात्रा में कांवड़ियों के लिए सरकार टैंकरों में गंगाजल भरकर उत्तराखंड के पड़ोसी राज्यों में भिजवाने का फैसला लिया है। ऐसे में कावंड़ियों को बिना हरिद्वार आए अपने-अपने शहरों में गंगाजल मिल जाएगा और वे श्रद्धापूर्वक शिवालयों में गंगाजल चढ़ा सकेंगे। सरकार की ओर से उत्तर प्रदेश, हरियाणा और दिल्ली सहित पड़ोसी राज्यों में गंगाजल टैंकरों में भरकर भेजने का फैसला लिया है।

उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार ने बताया कि टैंकर्स में भरकर गंगाजल पड़ोसी राज्यों में भिजवाने की व्यवस्था से कांवड़ियों को अपने-अपने शहरों में ही गंगाजल आसानी से मिल जाएगा। ऐसे में वह अपने-अपने शहरों में शिवालयों में गंगाजल चढ़ा सकते हैं। सरकार ने कोरोना संक्रमण को देखते हुए इस साल भी कांवड़ यात्रा पर रोक लगाई है, ऐसे में टैंकरों से गंगाजल पड़ोसी राज्यों में भेजना सही रहेगा।  टैंकरों से गंगाजल भेजने के फैसले का व्यापारी वर्ग विरोध करते हुए कहते हैं कि सरकारी को कांवड़ यात्रा को शुरू करने की अनुमति दे देनी चाहिए। कहा कि कांवड़ यात्रा को शुरू करने के लिए एसओपी जारी करनी चाहिए ताकि संक्रमण को फैलने से रोका जा सके।

Comments

Popular posts from this blog

नहीं रही जिले की मशहूर ब्यूटीशियन साजिया परवीन

देश में फिर बन रहे हैं लाकडाउन के हालात

होटल में रईस जादों की मस्ती पार्टी पर पुलिस के छापे में 37 युवक युवतियों को दबोचा