Sunday, July 11, 2021

यूपी में सीरियल ब्लास्ट करने और भाजपा नेताओं की हत्या की योजना बना रहे थे आतंकी


लखनऊ। दुबग्गा रिंगरोड पर सीते बिहार इलाके में पकडे गए दो आतंकियों का इरादा यूपी में सीरियल ब्लास्ट करने का था। उनके निशाने पर भाजपा के कई नेता भी थे। एटीएस द्वारा गिरफ़्तार इन आतंकियों से भारी मात्रा में विष्फोटक और प्रेशर कुकर बम बरामद किया है। 

एटीएस ने रविवार सुबह 10 बजे यहां शाहिद के गैराज, रियाज़ और सियाज  के घर पर छापा मारा। यहां से दो लोगों को गिरफ़्तार करने के बाद एटीएस ने मलिहाबाद में शाहिद के मूल आवास पर भी एटीएस ने छापा मारा। इसके साथ ही पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भी छापेमारी की जा रही है। शाहिद से एटीएस से पूछताछ कर रही है। शाहिद 12 साल से यहां गैराज खोल रखा है। वह पहले मलिहाबाद में रहता था फिर दुबई चला गया था। वहां से लौटने के बाद वो गैराज के पीछे बने मकान में रहने लगा था। एडीजी प्रशांत कुमार ने बताया कि गिरफ्तार दोनों आतंकियों से पूछताछ के दौरान पता चला है कि आतंकी घटनाओं का हैंडलर उमर हलमंडी है जो पाकिस्तान के पेशावर में बैठकर साजिश रच रहा है। गिरफ्तार दोनों आतंकी यूपी के कई शहरों में 15 अगस्त से पहले बड़ा धमाका करने की तैयारी में थे।


एटीएस के घर में घुसते ही उसने कई दस्तावेज और नक़्शे जला दिए। कई दस्तावेज क़ब्ज़े में ले लिए गए है। एटीएस ने मंडियांव में भी छापेमारी की।एटीएस की इस छापेमारी से आसपास हड़कम्प मच गया। पड़ोसियों का कहना है कि ये लोग ज़्यादा किसी से बोलते नही थे पर कोई संधिद बात कभी दिखी नही। वहीं कई लोगों ने कहा कि अगर देश विरोधी हरकतों मै थे तो इन्हें सख़्त सजा मिलनी चाहिए। एटीएस का दावा है कि अलक़ायदा से जुड़े ये आतंकी लखनऊ और यूपी के अन्य इलाकों में सीरियल ब्लास्ट करने की तैयारी में थे। ये भी सामने आ रहा है कि बीजेपी के कई बड़े नेता भी इनके निशाने पर थे।

No comments: