फर्जी नाम से अस्पताल चला रहा डॉक्टर गिरफ्तार


मेरठ। दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने मेरठ से एक फर्जी डॉक्टर को गिरफ्तार किया है। यह डॉक्टर मेरठ में एक निजी अस्पताल चला रहा था। हालांकि ये अस्पताल बंद है। डॉक्टर के खिलाफ दिल्ली के अलावा महाराष्ट्र में भी कई मुकदमें दर्ज है। क्राइम ब्रांच की टीम उसे अपने साथ ले गई है। डॉक्टर के पास से दिल्ली क्राइम ब्रांच को दो पिस्टल, कैश, लैपटॉप और अन्य सामान बरामद हुआ है। खास बात यह है कि इस कार्रवाई का मेरठ पुलिस पता तक नहीं चला। आज शुक्रवार को दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम ने हापुड रोड स्थित शुभकामना हॉस्पिटल निकट आरटीओ रोड से फ़र्ज़ी डॉक्टर को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार किए गए डाक्टर का नाम विक्रांत है।

इस पर 25 से अधिक मुक़दमे दर्ज हैं। डॉक्टर विक्रांत का असली नाम मनीष कोल है। यह मेरठ में भी बड़े कारनामे कर चुका है। मेरठ के ही युवक वाहिद के साथ मिलकर लाइफ़ लाइन आनंद हॉस्पिटल चला रहा था। गिरफ्तार किए गए डॉक्टर ने अपने कई नाम बदले हुए थे। डाक्टर मनीष कौला उर्फ वरूण कौल उर्फ आशुतोष मारवाह उर्फ विशाल धीमान उर्फ संजीव चडढा के नाम से अपने कारनामों को अंजाम दे रहा था। दिल्ली क्राइम ब्रांच के इस छापे की जानकारी स्थानीय पुलिस को नहीं लग पाई। इस बारे में जब स्थानीय थाना नौचंदी के एसओ जानकारी की तो उन्होंने इस पर अनभिज्ञता प्रकट की।

Comments

Popular posts from this blog

शाहपुर सौरम की महिला सिपाही ने की आत्महत्या

राज्य कर्मचारियों को भी मिलेगा बढा महंगाई भत्ता

प्रदेश में इन विभागों से खत्म हो जाएंगे 48 कानून