मुजफ्फरनगर के भट्टा मालिक की उत्तराखंड में हत्या


मुजफ्फरनगर । मुजफ्फरनगर के प्रमुख भट्टा व्यवसायी अजय मलिक की उत्तराखंड स्थित कुम्भरेडा भट्टे पर गोली मारकर निर्मम हत्या कर दी गई। उन्हें दो लोगों ने तीन गोलियां मारी। अजय मलिक के शामली मुजफ्फरनगर व उत्तराखंड में भट्टे हैं। वे मूलतः मुजफ्फरनगर के जाट कालोनी के निवासी थे और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष विजय मलिक के भतीजे थे। अजय मलिक के मामा अजित चौधरी वर्तमान में उत्तराखंड सरकार में राज्य मंत्री भी हैं।पुलिस ने बताया कि अजय मलिक (45) निवासी सिविल लाइन मुजफ्फरनगर का मंगलौर के कुमराड़ा गांव में मलिक ब्रदर्स के नाम से ईंट भट्टा है। रोजाना की तरह वह मंगलवार की सुबह करीब 11 बजे भट्टे पर पहुंचे और कार्यालय में जाकर बैठ गए। कुछ देर बाद एक बाइक से दो युवक भट्टे पर पहुंचे। बाइक खड़ी करने के बाद दोनों उनके ऑफिस में जा घुसे। बताया जा रहा है कि इसके बाद दोनों ने अजय मलिक पर गोली चला दी। एक गोली उनके सिर और दूसरी सीने में जाकर लगी, जबकि एक गोली कुर्सी पर लगी। एसपी देहात प्रमेंद्र डोबाल ने बताया कि जांच में पता चला है कि अजय मलिक ने वर्ष 2014 में माजरा निवासी नाथीराम से 16 साल के लिए भट्टे की जमीन लीज पर ली थी, लेकिन नाथीराम का बेटा विपिन लीज का समय खत्म होने से पहले ही जमीन खाली करने का दबाव बना रहा था। इसे लेकर अजय मलिक और विपिन में विवाद चला आ रहा था। अभी तक की जांच में हत्या के पीछे विपिन का हाथ ही सामने आ रहा है। मृतक के बहनोई डॉ. प्रवीण सालार की तहरीर पर विपिन और एक अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज कर विपिन की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। 

पुलिस ने बताया कि हत्यारे उनके परिचित हो सकते हैं। उन्हें मलिक के आने के समय की जानकारी थी। पुलिस ने ने भट्टे पर लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है। ईंट भट्टे के मुंशी और काम करने वाले मजदूरों से पुलिस बाइक सवार बदमाशों के हुलिए और बाइक के बारे में जानकारी ले रही है। वहीं, पुलिस ने विपिन के घर पर दबिश दी, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चल पाया। पुलिस विपिन के परिजनों से भी पूछताछ कर रही है।

Comments

Popular posts from this blog

राज्य कर्मचारियों को भी मिलेगा बढा महंगाई भत्ता

डीएम सेल्वा कुमारी जे का तबादला, मनीष बंसल होंगे नये डीएम!

रालोद और भाकियू के नाम पर हुडदंग करने वालों पर लाठीचार्ज, पांच गिरफ्तार