सिर्फ बीस हजार की सुपारी देकर करा दिया मर्डर


मुजफ्फरनगर । सिर्फ बीस हजार की सुपारी देकर एक प्राइवेट फैक्ट्री के सिक्योरिटी गार्ड की हत्या करा दी गयी। पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की निशानदेही पर काली नदी के जंगल से सिक्योरिटी गार्ड का शव बरामद कर लिया गया है।

पुलिस के अनुसार मूल रुप से गांव नंगला ताशी थाना कंकरखेडा मेरठ निवासी इंद्रपाल फिलहाल अपने परिवार के साथ सुजडू गांव में किराए पर रह रहा है। वह वहलना स्थित प्राइवेट फैक्ट्री मंगलम में सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी करता था। 8 जून को वह फैक्ट्री में नौकरी पर गया था, लेकिन वापस नहीं लौटा। काफी तलाश करने के बाद उसका सुराग नहीं मिला तो उसके बेटे संजय ने उसकी गुमशुदगी शहर कोतवाली में दर्ज करायी थी। कोतवाली प्रभारी योगेश शर्मा ने बताया कि सिक्योरिटी गार्ड की पत्नी आरोपी नौशाद निवासी सुजडू के गोदाम में काम करती थी। वह उसकी पत्नी पर बुरी नियत रखता था। सिक्योरिटी गार्ड के अपनी पत्नी को फैक्ट्री में काम करने से मना करने पर आरोपी उससे रंजिश रखने लगा। आरोपी ने इसी रंजिश में उसकी हत्या की प्लानिंग तैयार की। आरोपी ने पास के गोदाम में काम करने वाले सुहैल निवासी संधावली व शाहिद अंसारी निवासी मुरादनगर जिला गाजियाबाद को 20 हजार रुपये की सुपारी देकर सिक्योरिटी गार्ड की हत्या कराने की प्लानिंग तैयार कर दी। प्लानिंग के अनुसार तीनों आरोपी सिक्योरिटी गार्ड को 8 जून को दवात खिलाने के बहाने काली नदी के जंगल में शामली बाइपास पर ले गए। शराब पीकर नशा होने पर दो आरोपियों ने सिक्योरिटी गार्ड की अगौछे से गला दबाकर हत्या कर कर दी। थाना प्रभारी ने बताया कि तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनकी निशानदेही पर सिक्योरिटी गार्ड का शव काली नदी के जंगल से बरामद कर लिया है।

Comments

Popular posts from this blog

शाहपुर सौरम की महिला सिपाही ने की आत्महत्या

राज्य कर्मचारियों को भी मिलेगा बढा महंगाई भत्ता

प्रदेश में इन विभागों से खत्म हो जाएंगे 48 कानून