चौधरी चरण सिंह विवि की परीक्षाएं 8 जुलाई से होंगी


मेरठ। चौधरी चरण सिंह विवि में यूजी रेगुलर-प्राइवेट अंतिम वर्ष और यूजी-पीजी अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं आठ जुलाई से आठ अगस्त तक चार पालियों में कराई जाएंगी। 

सूत्रों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि बीएड फाइनल ईयर के पेपर 20 जुलाई से 29 जुलाई तक होंगे। विश्वविद्यालय सम सेमेस्टर की परीक्षाएं नहीं कराएगा। विषम सेमेस्टर के नंबरों के आधार पर सम सेमेस्टर में छात्रों को अंक देते हुए उन्हें अगले सेमेस्टर में प्रमोट किया जाएगा। रजिस्ट्रार धीरेंद्र कुमार ने यह जानकारी देते हुए बताया कि जल्द संशोधित परीक्षा कार्यक्रम वेबसाइट पर अपलोड हो जाएगा। विश्वविद्यालय में बीएड प्रथम वर्ष के पेपर नहीं होंगे। बीएड फाइनल ईयर 20 से 29 जुलाई तक होंगे। मेन बीएड के पेपर 27 और स्पेशल बीएड के 29 जुलाई तक चलेंगी। विश्वविद्यालय में एललबी प्रथम, षष्टम, एलएलएम प्रथम एवं चतुर्थ और बीए-एलएलबी की दशम सेमेस्टर परीक्षाओं की तिथि और प्रारूप पर निर्णय बाद में होगा। ऐसे में लॉ कोर्स की परीक्षाओं के लिए विश्वविद्यालय अलग से निर्देश जारी करेगा। जल्द होने जा रही परीक्षा समिति में विश्वविद्यालय इन पर निर्णय लेगा। दस अप्रैल को हो चुकी 001, 002, 003 विषय कोड की परीक्षाएं दुबारा नहीं होंगी। 12 अप्रैल को हुईं स्नातक द्वितीय वर्ष के पेपर कोड ए-बी-226, बी-256, बी-213, बी-220, बी-241, ए-201, आई-301 न्यू और स्नातक द्वितीय वर्ष में ही पेपर कोड ए-बी 326, बी-356, बी-313, बी-320, बी-341 एवं एस-301 में छात्रों को यह छूट रहेगी कि वे संबंधित प्रश्नपत्र में बचे हुए पेपर की परीक्षा में शामिल ना हों। छात्रों को 12 अप्रैल के पेपर के आधार पर ही दूसरे कोड में अंक दे दिए जाएंगे। लेकिन यदि छात्र चाहें तो वे बचे हुए पेपर कोड में शामिल हो सकते पर इस स्थिति में 12 अप्रैल की परीक्षा के आधार पर नंबर नहीं मिलेंगे बल्कि बचे हुए पेपर कोड के आधार पर उक्त प्रश्नपत्र के सभी प्रश्नपत्रों में अंक दिए जाएंगे।

Comments

Popular posts from this blog

राज्य कर्मचारियों को भी मिलेगा बढा महंगाई भत्ता

डीएम सेल्वा कुमारी जे का तबादला, मनीष बंसल होंगे नये डीएम!

रालोद और भाकियू के नाम पर हुडदंग करने वालों पर लाठीचार्ज, पांच गिरफ्तार