Monday, May 31, 2021

जिले में स्वरोजगार के लिए मिलेगा ऋण व अनुदान

मुजफ्फरनगर। मुख्य विकास अधिकारी आलोक यादव ने सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिये कि उत्तर प्रदेश खादी ग्रामोध्योग बोर्ड द्वारा प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इस योजना के अन्तर्गत (सेवा एवं उत्पाद सैक्टर हेतु) उधम की स्थापना के लिए अधिकतम रूपये 10 लाख व 25 लाख तक का ऋण बैंकों के माध्यम से दिलाये जाने का प्राविधान है। लाभार्थियों की प्रोजेक्ट काॅस्ट का 25 प्रतिशत( 8.75 लाख) तक का अनुदान दिये जाने की व्यवस्था अनुमन्य है, एवं ग्रामीण क्षेत्र में उघम स्थापना के उपरान्त 03 वर्ष तक 13 प्रतिशत अधिकतम ब्याज नियमानुसार लाभार्थी को प0 दीन दयाल ग्रामोघोग रोजगार योजना के अन्तर्गत प्रदान किये जाने की अतिरिक्त सुविधा राज्य सरकार द्वारा प्रदत्त की जा रही है।

उन्होने निर्देश दिये कि इस योजना में उघम की स्थापना करने वाले लाभार्थियों को बहुत अधिक लाभ प्रदान किया जा रहा है, जिसके कारण उघम की सफलता की संभावनाए अधिक है। ग्रामीण क्षेत्रों में उघम की स्थापना हेतु यह योजना काफी सार्थक एवं लाभप्रद है। ग्रामीण जन की सहभागिता अधिक से अधिक सुनिश्चत करने हेतु आवेदन पत्र पंजीकृत स्वंय सहायता समूह अथवा व्यक्तिगत उघमी के द्वारा योजना के अन्तर्गत आॅनलाईन आवेदन किये जाने हेतु योजना की वेबसाइट (Kviconline.gov.in) पर किया जा सकता है।  आॅनलाईन आवेदन प्रक्रिया होने से यह योजना पूरी तरह से पारदर्शी है।

उन्होने सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिये कि अपने अपने विकास खण्ड में उघम की स्थापना हेतु इच्छुक पंजीकृत स्वंय सहायता समूह अथवा व्यक्तिगत उघमी के ऋण आवदेन पत्र 30 जून 2021 तक आॅनलाईन पोर्टल (Kviconline.gov.in) पर एजेन्सी Kvib का चयन करते हुए आवेदन कराना सुनिश्चत करे, ताकि ग्रामीण स्तर पर अधिकाधिक रोजगार सृजन कराया जा सके।

No comments:

Featured Post

कोतवाल को नौकरी खाने की धमकी देने का पूर्व प्रधान का आडियो वायरल होने से हडकंप

  मुजफ्फरनगर। तेजतर्रार एसएसपी के जिले में एक पूर्व प्रधान द्वारा कोतवाल को खुलेआम फोन पर धमकी दिए जाने के बाद प्रधान पर शिकंजा कसने की तैया...