इलाज और दवाओं के नाम पर लूट रोकने के निर्देश

 


मुजफ्फरनगर। केंद्रीय मंत्री डॉ. संजीव बालियान की अध्यक्षता में मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने जिलाधिकारी सहित सभी अधिकारियों, प्राईवेट हॉस्पिटल के प्रभारियों, ऑक्सीजन गैस सप्लायर्स की उपस्थिति में कोरोना पर समीक्षा बैठक कर प्राईवेट हॉस्पिटलों द्वारा लिये जा रहे चार्जेज के साथ सीटी, ब्लड टैस्ट व दवाईयों की दरों को नियंत्रित किये जाने के निर्देश दिये।

जहाँ कोरोना वायरस की दूसरी लहर देशभर में कोहराम मचा रही है, वहीं केंद्र व प्रदेश सरकार लगातार इस महामारी से निपटने के लिए कारगर उपाय कर रही है। इसी क्रम में आज केंद्रीय राज्य मंत्री डॉ. संजीव बालियान की अध्यक्षता में प्रदेश सरकार में स्वतंत्र प्रभार मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने मुजफ्फरनगर विकास भवन में जिलाधिकारी व अन्य अधिकारियों से साथ कोरोना की स्थिति की समीक्षा करते हुए कहा कि हर एक जनपदवासी के अच्छे स्वास्थ्य की जिम्मेदारी हम सभी की है।

विधायक उमेश मलिक, प्रमोद ऊंटवाल, विक्रम सैनी, जिलाध्यक्ष विजय शुक्ला तथा प्रशासनिक अधिकारियों के साथ समीक्षा करते हुए कपिल देव ने कहा कि जनता पहले ही कोरोना की मार से पीडित है, ऐसे में हॉस्पिटलों द्वारा उनसे मनमाने चार्जेज वसूले जाने की लगातार शिकायतें प्राप्त हो रही हैं, जो बेहद शर्मनाक है। उन्होंने जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे. को इस संबंध में अवगत कराते हुए प्राईवेट हॉस्पिटल के चार्जेज, सीटी, ब्लड टैस्ट व दवाईयों की दरों को नियंत्रित करने के कडे निर्देश दिये हैं।

उन्होंने बताया कि प्राप्त शिकायत के अनुसार पहले मेडिकल स्टोर्स पर उपलब्ध सभी दवाओं पर एक निश्चित दर से छूट मिलती थी जो अब नहीं मिल पा रही है। कपिल देव ने इस पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि मेडिकल स्टोर्स संचालकों को भी इस विपत्ति के समय में मरीजों का साथ देना चाहिए और उन्हें पहले की तरह ही छूट देनी चाहिए। उन्होंने दवाओं, ऑक्सीजन आदि की कालाबाजारी को रोकने हेतु संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है।

इस अवसर पर अलग-अलग हॉस्पिटलः मुजफ्फरनगर मेडिकल, ईवान, सैनी हार्ट केयर सैंटर, भारत नर्सिंग होम, डिवाईन के प्रबंधकों से वार्ता कर उन्हें मरीजों के प्रति और अधिक संवेदनशील होने, उनके परिजनों से उचित व्यवहार करने तथा मरीज की स्थिति की उचित जानकारी परिजनों के देने के निर्देश दिये।

विधायक उमेश मलिक, विक्रम सैनी, प्रमोद ऊंटवाल, विजय शुक्ला ने कहा कि मेडिकल स्टोर्स एमआरपी पर ग्राहकों को बिल में मानवता के नाते छूट दें ताकि इस संकट में उनकी मदद हो सके। साथ ही सीटी स्कैन, ब्लड टैस्ट में भी दरें कम किया जाना इस समय की आवश्यकता है।

संजीव बालियान ने कहा कि हम सभी को साथ मिलकर इस कोरोना से लडना है, उसे हराना है और इसके अतिरिक्त एक-दूसरे का मनोबल बढा कर रखना है।

मंत्री कपिल देव ने बताया कि बैठक में सभी अधिकारियों को कोविड-19 के संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों को गंभीरतापूर्वक लागू कराने, लॉकडाउन का शत-प्रतिशत पालन सुनिश्चित करने, कोरोना मरीजों की समुचित देखभाल, आवश्यक दवाओं व ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति, कोविड बैड की उपलब्धता आदि के निर्देश दिये गये हैं।

इसके बाद उन्होंने महावीर चौक स्थित कोरोना टेस्ट सैंटर पहुंचकर सभी व्यवस्थाओं का जायजा लिया और टेस्ट के लिए आये हुए लोगों से शारीरिक दूरी, मास्क और सैनिटाईजर का निश्चित रुप से प्रयोग करने की अपील की।

Comments

Popular posts from this blog

नहीं रही जिले की मशहूर ब्यूटीशियन साजिया परवीन

देश में फिर बन रहे हैं लाकडाउन के हालात

होटल में रईस जादों की मस्ती पार्टी पर पुलिस के छापे में 37 युवक युवतियों को दबोचा