Tuesday, May 18, 2021

मेरठ के जुडवां भाईयों की कोरोना से मौत, मचा कोहराम

 



मेरठ। मां की कोख में एक साथ दोनों के दिल धड़कना शुरू हुए। साथ ही दुनिया में कदम रखा। पले.पढ़े और भविष्य की नींव गढ़नी शुरू की। दोनों जुड़वां भाई जिंदगी के सबसे रोशन मुकाम पर थे। नौकरी थी। घर में खुशहाली थी लेकिन इन खुशियों को अचानक कोरोना का ग्रहण लग गया। दोनों के सांसों की डोर थम गई। एक साथ दुनिया में आने वाले दोनों भाई सिर्फ 24 साल की उम्र में एक साथ रुख्सत हो गए। पीछे रह गईं तो  यादें जिसे यादकर माता.पिता की आंखें बार.बार नम हो जाती हैं।

सेंट थॉमस इंग्लिस मीडियम स्कूल के शिक्षक दंपति ग्रेगरी राफेल और सोजा ग्रेगरी का परिवार एक झटके में बिखर गया। कोरोना ने उनके जुड़वां बेटों को उनसे हमेशा के लिए छीन लिया। दस दिन पहले ही दोनों भाई अल्फ्रेड और जोफ्रेड को संक्रमण की पुष्टि के बाद आनंद हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था। दोनों भाई इंजीनियर थे। एक हैदराबाद तो दूसरा बेंगलुरू की कंपनी में कार्यरत थे।

हालांकिए दोनों वर्क फ्रॉम होम कर रहे थे। इस बीचए वायरस ने उन्हें निशाना बना लिया। कोरोना रिपोर्ट निगेटिव थी लेकिन फेफड़ों में संक्रमण फैल चुका था। दोनों की सांसों की डोर थामने की पूरी कोशिश की गई लेकिन नियति के आगे सारी कोशिशें बेकार साबित हुईं। अंत में सिर्फ 24 साल की उम्र में दोनों भाइयों ने एक साथ दुनिया को अलविदा कह दिया।


No comments: