Monday, May 31, 2021

मुजफ्फरनगर की बेटी की हत्या कर पति ने कोरोना से दिखाई मौत, मुआवजे और सरकारी नौकरी के लालच का अंदेशा


 मुजफ्फरनगर।कोरोना काल में महिलाओं पर अत्याचार तेजी के साथ बढ़ा है। एक ओर विवाहिता को मौत के घाट उतार दिया गया। पति के अवैध् ताल्लुक को विरोध करने पर विवाहिता की हत्या कर दी गई। उसके परिजनो को पति ने फोन करके कोरोना से मौत होना बताया। जब परिजन पहुंचे तो तब तक पति व ससुराल के अन्य लोग विवाहिता का दाह संस्कार कर चुके थे। इस मामले में पुलिस ने एक न सुनी। परेशान हाल परिजन लगातार अफसरो के यहां अपनी गुहार लगा रहे हैं।

शहर कोतवाली क्षेत्र की वाल्मीकी बस्ती खालापार निवासी  तारादेवी पत्नी श्याम लाल ने बताया कि उसकी बेटी सपना की शादी दस साल पहले शामली के दयानंद नगर निवासी अमित पुत्र सुशील के साथ हुई थी। उसकी बेटी ग्राम पंचायत में सफाई कर्मचारी के पद पर भी तैनात थी। आरोप है कि उसके पति अमित के किसी अन्य महिला से अवैध् सम्बन्ध थे। जिसको लेकर विवाहिता विरोध् करती थी। इसी के चलते कई बार विवाद हो चुका था। प्रतिदिन रात में सपना के सामने ही वह अपनी प्रेमिका से फोन पर बात करता था। बीस मई को तारादेवी के पास फोन आया कि सपना की कोरोना से मौत हो गई। जिस समय परिवार के लोग शामली पहुंचे तो आसपास भी किसी को घटना की जानकारी नहीं थी। वे लोग शमशान घाट पहुंचे तो पता चला कि सपना का तो दाह संस्कार कर दिया गया हैं। तारादेवी ने पुलिस को दी गई तहरीर में बताया कि कथित हत्या से एक दिन पहले ही सपना ने फोन पर अपनी बहन को बताया था कि उसका पति उसे मारने की फ़िराक में है। लेकिन बहन ने समझा दिया था कि वहम होगा। लेकिन उसे यह अन्दाजा नहीं था कि 24 घंटे के भीतर ही उसकी बहन की हत्या कर दी जायेगी। पति के अवैध सम्बन्ध की पत्नि भेंट चढ गई हैं। इस मामले में शामली कोतवाली पर तहरीर दी गई थी। लेकिन दस दिन बीतने के बाद भी पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की। अब तारादेवी ने शहर कोतवाली पुलिस को इस पूरे मामले से अवगत कराते हुए हत्या का मुकदमा दर्ज कराने की गुहार लगाई हैं।

मृतक आश्रित कोटे में सरकारी नौकरी के फेर में तो नहीं ली जान

सपना ग्राम पंचायत में सफाई कर्मचारी के पद पर तैनात थी। कहीं ऐसा तो नहीं पति ने सरकारी नौकरी के फेर में विवाहिता की जान ले ली हो। यह शक विवाहिता की मां तारादेवी ने पुलिस को दी गई तहरीर में जताया है। तारा देवी ने बताया कि उसका दामाद अमित सरकारी नौकरी के लालच में था। जिसके चलते हो सकता है यह भी वजह रही हो।

No comments:

Featured Post

सपा यूथ ब्रिगेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने दिया बूथ जीतने का मंत्र

मुजफ्फरनगर । सपा कार्यालय पर मुलायम सिंह यादव यूथ ब्रिगेड राष्ट्रीय अध्यक्ष सिद्धार्थ सिंह ने कार्यकर्ताओं को बूथ जीतने का मंत्र दिया।  उनके...