उत्तर प्रदेश में कई जिलों के पुलिस कप्तान इधर से उधर


लखनऊ l प्रदेश सरकार ने तीन जिलों में नए कप्तान की तैनाती की है। डा. अरविंद चतुर्वेदी को पुलिस अधीक्षक सतर्कता अधिष्ठान से एसएसपी अयोध्या बनाया गया है। अशोक राय को सेनानायक 48वीं वाहिनी पीएसी सोनभद्र से एसपी सिद्धार्थनगर और डा. अनिल कुमार पांडेय को एसपी उप सेनानायक 28वीं वाहिनी पीएसी इटावा से एसपी भदोही बनाया गया है। इन जिलों में तैनात पुलिस अधीक्षक कोरोना संक्रमित हो गए थे। यह तैनातियां उनके ठीक होने तक के लिए कई गई हैं।

प्रदेश की ब्यूरोक्रेसी में जल्द ही बड़ा उलटफेर होने की चर्चा है। राजस्व परिषद अध्यक्ष के पद पर किसी वरिष्ठ अधिकारी को तैनाती दी जाएगी। यह पद दीपक त्रिवेदी के निधन के बाद खाली हुआ है। वह 30 अप्रैल को रिटायर होने वाले थे कि इसके पहले ही उनका निधन हो गया। कानपुर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष राकेश कुमार सिंह भी सेवानिवृत्त हो चुके हैं। इस पद पर भी तैनाती होनी है।

यूपी में वरिष्ठ आईएएस अफसरों के लिए मुख्य सचिव के बाद राजस्व परिषद अध्यक्ष का पद बड़ा माना जाता है। इसके समकक्ष कृषि उत्पादन आयुक्त, अध्यक्ष परिवहन निगम, आयुक्त समाज कल्याण और स्थानिक आयुक्त एनसीआर का पद है। इन पदों पर वरिष्ठतम आईएएस अफसरों को तैनाती दी जाती है। मौजूदा समय राजस्व परिषद के अध्यक्ष का पद खाली है। इसलिए इस पद पर किसी वरिष्ठ आईएएस अफसर की तैनाती होगी। स्वभाविक है कि किसी एक अफसर को हटाकर वहां भेजने पर अन्य अफसरों की तैनाती में फेरबदल होगा।महत्वपूर्ण पदों पर तैनाती को लेकर चर्चा , कई पदों को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है। वर्ष 1983 बैच के राजीव कुमार द्वितीय निलंबित चल रहे हैं। वर्ष 1984 बैच के दुर्गा शंकर मिश्रा और संजय अग्रवाल केंद्रीय प्रतिनियुक्ति पर तैनात हैं। वर्ष 1985 से लेकर 1987 बैच के आईएएस अफसरों की तैनातियों में फेरबदल होने की संभावना है।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा