ये किसान आंदोलन है, शाहीनबाग नहीं, जो लॉकडाउन से खत्म हो जाएगा : राकेश टिकैत

 


सहारनपुर l भाकियू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राकेश टिकैत ने कहा कि कोरोना के कारण लॉकडाउन लगाने की तैयारी है, लेकिन सरकार यह न समझे कि शाहीनबाग की तरह किसान आंदोलन खत्म हो जाएगा। जब तक सरकार कानून वापस नहीं लेती तब तक यह किसान आंदोलन चलता रहेगा। राकेश टिकैत ने कहा कि भाजपा सरकार में पार्टी के ही नेताओं का दम घुट रहा है। उन्हें भी घरों से बाहर निकालना पड़ेगा। 

बुधवार को राकेश टिकैत शहीद-ए-आजम भगत सिंह के भतीजे की बेटी की शादी में आशीर्वाद देने के लिए पहुंचे थे। सबसे पहले उन्होंने शहीद भगत सिंह के भतीजे सरदार किरणजीत सिंह से मुलाकात की और बेटी की विदाई पर आशीर्वाद दिया। इसके बाद उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए राकेश टिकैत ने कहा कि सरकार किसान आंदोलन को शाहीनबाग समझने की भूल न करें। कोरोना के कारण यदि पूरे देश में भी कर्फ्यू लग जाएगा तो देश का किसान आंदोलन से पीछे नहीं हटेगा। धरना स्थल पर ही धरना दिया जाएगा। जब तक किसानों की मांग पूरी नहीं होती तब तक यह आंदोलन चलता रहेगा। फिलहाल नवंबर दिसंबर तक आंदोलन को जारी रखा जाएगा। 

राज्य महिला आयोग की सदस्य डा. प्रियवंदा तोमर के त्यागपत्र देने के सवाल पर राकेश टिकैत ने कहा कि देश में भाजपा की नहीं कंपनियों की सरकार है। इसी कारण भाजपा नेताओं को घरों में बंद किया गया है। अभी कई अन्य भाजपा नेता भी पार्टी छोड़ेंगे।राकेश टिकैत ने कहा कि भाजपाइयों ने राजस्थान में उनके काफिले पर हमला कराया था। कुछ युवकों ने उनके काफिले पर हमला किया था। उन्होंने कहा कि वह उन युवकों से बात करेंगे और उनकी विचारधारा जानने का प्रयास करेंगे ताकि उनकी विचारधारा को भी बदला जा सके ।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा