शादी विवाह और सार्वजनिक आयोजनों में बस इतने लोगों को शामिल किया जा सकेगा


लखनऊ । यूपी सरकार ने मांगलिक कार्यक्रमों के लिए भी लोगों की अधिकतम संख्या तय कर दी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते अधिकारियों को कई निर्देश दिये। उन्होंने लखनऊ, प्रयागराज, कानपुर नगर, वाराणसी, आगरा, मेरठ, गाजियाबाद, गोरखपुर, सहारनपुर, बरेली, झांसी और गौतमबुद्ध नगर में उपचार व्यवस्था को मजबूत किया जाए। यहां विशेष सचिव स्तर के अधिकारी भेजे जाएं। 

मुख्यमंत्री मंगलवार को उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने निर्देश दिया कि सार्वजनिक एवं मांगलिक कार्यक्रमों के लिए खुले स्थान पर 200 से अधिक और बन्द स्थानों पर 100 से अधिक लोग एकत्र न हों। मुख्यमंत्री ने निर्देशित किया कि इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर को पूरी सक्रियता से संचालित किया जाए। 

सीएम योगी ने कहा कि कोविड मरीजों के लिए बेड की कोई कमी नहीं है। वर्तमान परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए सभी जिलों के कोविड अस्पतालों में अधिक से अधिक संख्या में बेड की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि इन जिलों में जरूरत के अनुसार विशेषज्ञ चिकित्सकों सहित अतिरिक्त चिकित्सा कर्मियों की तैनाती की जाए। मुख्यमंत्री  ने कोविड-19 के टीकाकरण का कार्य केंद्र सरकार की गाइडलाइन्स के अनुरूप संचालित करने के निर्देश देते हुए कहा कि तय आयु वर्ग के अधिक से अधिक लोगों को कोविड टीकाकरण के लिए प्रेरित करने को कहा। सभी सरकारी कार्यालयों और निजी प्रतिष्ठानों में इन्फ्रारेड थर्मामीटर और सेनिटाइजर की व्यवस्था होनी चाहिए। कहीं भी भीड़ एकत्र न होने पाए।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा