बाबा बर्फानी की यात्रा 28 जून से शुरू होगी


 नई दिल्ली। बाबा बर्फानी की वार्षिक अमरनाथ यात्रा की शुरुआत 28 जून से होगी। जम्मू में शनिवार को श्री अमरनाथ साइन बोर्ड की बैठक में यह फैसला लिया गया। जम्मू उपराज्यपाल मनोज सिन्हा की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। यह यात्रा 56 दिन तक चलेगी और इसके लिए एक अप्रैल 2021 से रजिस्ट्रेशन शुरू हो जाएगा। बीते साल कोरोना महामारी के के चलते वार्षिक अमरनाथ यात्रा को रद्द कर दिया गया था। 

श्री अमरनाथ जी की यात्रा को लेकर देशभर के भक्तों को साल भर इंतजार रहता है। यात्रियों के लिए इस यात्रा को सुगम बनाने के लिए श्री अमरनाथ श्राइन बोर्ड व्यापक इंतजाम करता है। यात्रियों के रहने और खाने-पीने से लेकर उनके लिए बसों का इंतजाम करता है। वहीं, इस यात्रा की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त सुरक्षा बलों को तैनात किया जाता है। इस यात्रा का असर जम्मू कश्मीर के व्यापार पर भी पड़ता है और व्यापारियों को इस यात्रा से खासी उम्मीदें रहती हैं। 

इस साल के शुरुआत में जम्मू कश्मीर प्रशासन ने यात्रा के लिए पैदल पथ चौड़ा करने का निर्देश दिए थे। निर्देशों में कहा गया था कि पैदल पथ पर बालटाल से सीमेंट की टाइलें लगाई जाएंगी। प्रशासन को उम्मीद है कि इस साल यात्रा में लगभग छह लाख लोग शामिल होंगे। वार्षिक तीर्थयात्रा, अनंतनाग जिले में 36 किलोमीटर लंबे पहलगाम मार्ग पर और गांदरबल जिले में 14 किलोमीटर लंबे छोटे रास्ते पर जून-जुलाई में शुरू होती है और अगस्त में रक्षा बंधन तक चलती है।

अधिकारियों ने कहा था कि मुख्य सचिव बी वी आर सुब्रमण्यम ने स्वच्छ, सुगम और सुरक्षित यात्रा के लिए तैयारियों की समीक्षा की थी। सुब्रमण्यम ने दोनों रास्तों पर मार्ग के उन्नति करण की स्थिति की भी समीक्षा की। इसके साथ ही मुख्य सचिव ने अस्थायी शिविर, आश्रय स्थल, स्वास्थ्य और चिकित्सा शिविरों के साथ विभिन्न स्थानों पर पीने के पानी, प्रकाश, एलपीजी, राशन दवा और मोबाइल संपर्क की व्यवस्था की भी समीक्षा की थी।मुख्य सचिव ने छह लाख श्रद्धालुओं के आने की उम्मीद जताई और व्यवस्था दुरुस्त करने का निर्देश दिए थे।

Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा