किसान आंदोलन के बीच बड़ी खबर :भाकियू नेता धर्मेन्द्र मलिक ने दिया कृषक समृद्धि आयोग के सदस्य पद से इस्तीफा

 मुजफ्फरनगर। किसान आंदोलन के बीच भारतीय किसान यूनियन के मीडिया प्रभारी धर्मेन्द्र मलिक ने कृषक समृद्धि आयोग के सदस्य पद से इस्तीफा दे दिया है। 

मलिक ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेजे पत्र में अपना इस्तीफा देते हुए कहा है कि मैं आयोग के सदस्य पद से इस्तीफा भेज रहा हूँ कि आपके द्वारा किसान हितों के लिए 10 नवम्बर 2017 को आपकी अध्यक्षता में कृषक समृद्धि आयोग का गठन किया गया था। इस आयोग का उद्देश्य किसानों की समस्याओं की जानकारी कर समाधान करना था। आयोग में गैर सरकारी सदस्य एवं किसान संगठन के प्रतिनिधि के तौर पर मुझे भी नामित किया गया था। बडे दुःख का विषय है कि लगभग साढे तीन वर्ष बीत जाने के बावजूद भी आयोग की एक भी बैठक का आयोजन नहीं किया गया है। आज देशभर में हाल में ही लाये गये तीन कृषि कानूनों को लेकर भारत सरकार और किसानों के बीच गतिरोध चल रहा है। पिछले तीन माह से किसानों ने भारी सर्दी में अपना समय सड़कों पर बिता दिया, लेकिन भारत सरकार आज तक कोई समाधान नहीं निकाल पायी।

मलिक ने कहा कि ऐसे गम्भीर विषय पर भी कृषक समृद्धि आयोग की तरफ से भारत सरकार को कोई सुझाव नहीं भेजे गये और न ही हम इस विषय पर उत्तर प्रदेश के किसानों की राय संवाद के माध्यम से नहीं जान पाए। आयोग का गठन जिस उद्देश्य को लेकर किया गया था, आयोग वह उद्देश्य पूरे नहीं कर पाया है। धर्मेद्र मलिक ने लिखा कि कृषक समृद्धि आयोग से सदस्य के रूप में मैं अपना त्यागपत्र देता हूँ। मेरा त्यागपत्र स्वीकार किया जाए। उन्होंने सरकार से आशा जताई है कि उत्तर प्रदेश सरकार भी भारत सरकार को तीन कृषि कानूनों पर किसानों की चिंताओं से अवगत करायेगी


Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा