डाकघर बैंक खाताधारकों को घर जाकर करेगा भुगतान

 मुजफ्फरनगर। वीरसिहं प्रवर अधीक्षक डाकघर मुजफ्फरनगर ने कहा है कि भुगतान बैकों मे भीड लगाने की आवशयकतान नहीं’है। बैक खाता धारकों को राशि का भुगतान जनपद के डाकघरों द्वारा आईपीपीबी के माध्यम से किया जाना है। जिस व्यक्ति मजदूर, किसान, व्यापारी का किसी भी बैंक में खाता है।और वह उनके खाते में आईपीपीबी के माध्यम से वृद्धावस्था पेंशन, किसान सहायता राशि ,जनधनयोजना के खातों मे सरकार दवारा भेजी जाने वाली सहायता राशि, का भुगतान लेना चाहता है और वह व्यक्ति बैक जाने में असमर्थ है ,चलने फिरने से लाचार है अपाहिज है बीमार है बैक उसके घर से दूर है और वह अपने बैक खाते से धनराशि का भुगतान लेना चाहता है और उसका खाता आधार से लिंक है नजदीकी उपडाकघर, शाखाडाकघर को फोन करके अथवा अपने घर ,ग्राम के नजदीकी शाखाडाकपाल से अवकाश के दिन भी समपर्क करके ।म्च्ै (आधार इनेबिलड पेटेंट सिसटम),मोबाइल, व्ज्च् और आधार नं की सहायता से पोस्टमैन के माध्यम से घर बैठे किसी भी बैंक की न्यूनतम 100 अधिकतम 10,000 रुपये तक की धनराशि डाकघर से निःशुलक रुपये प्राप्त कर सकता है। इसके लिए खाताधारक का डाकघर में खाता होना जरुरी नहीं है और नही अपने बैक का खाता नंबर याद रखने की आवश्यकता है केवल अपने बैंक का नाम याद होना चाहिए। और केवल आधार कार्ड अपडेट और 100 रु से इंडिया पोस्ट पेमेंट बैक का खाता खुलवा सकते है जिसके माध्यम से घर बैठे अपने सुकनया, आर डी, पी पी एफ, खाते मे धन राशि जमा कर सकते है ।इसके अलावा घर बैठे टीवी, मोबाइल , रिचार्ज कर सकते है, टेलीफोन,गैस,पानी बिजली के बिल का भुगतान, कर सकते है बीमा कि प्रीमियम कि भुगतान कर सकते है अपने किसी दोस्त, परिवार के सदस्य के बैंक खाते मे पैसा भेज सकते है। अधिक जानकारी के लिए आज ही नजदीकी डाकघर से समपर्क करें।


Comments

Popular posts from this blog

शुक्र बदल रहे हैं राशि : जानिए आपकी राशि पर प्रभाव

यूपी में 19 से जूनियर और 1 दिसंबर से प्राइमरी स्कूल खुलेंगे

यू पी में आड. इवन की तर्ज पर खुलेंगे बाजार, सरकार ने हाईकोर्ट में कहा